असहिष्णुता: आमिर खान के पूर्वज मौलाना आजाद ने भी देश को शर्मसार करने में कसर नहीं छोड़ी थी!

संदीप देव। आमिर खान जिस तरह आप देश छोड़ने की बात कर रहे हैं वैसा ही कुछ हाल आपके पुरखे मौलाना आज़ाद का भी था . वो तो नेहरू ने उन्हें कांग्रेस का मुस्लिम पोस्टर बॉय बना रखा था और यह बात जिन्ना खुल कर कहते थे. बाद में मौलाना आज़ाद को नेहरू ने देश का प्रथम शिक्षा मंत्री बनाया था और बिलकुल आप ही की तरह उनकी गद्दारी देखिये, उन्होंने अपनी पुस्तक में भारत विभाजन का मुख्य दोषी नेहरू को माना और जिन्ना को इस आरोप से मुक्त कर दिया.

 

आमिर खान आपके पूर्वज मौलाना आज़ाद की गद्दारी का सबूत राममनोहर लोहिया से लेकर सरदार पटेल के भाषणों तक में मौजूद है. हिंदुस्तानी मूर्ख और भावुक हैं जो आपकी और शाहरूख खान की फिल्म देखते हैं. आपके पूर्वज ने देश से गद्दारी की थी और शाहरूख के पूर्वज ने नेताजी सुभाषचन्द्र बोस के साथ गद्दारी की थी. जिस तरह गटर का पानी गंगाजल नहीं हो सकता, वैसे ही गद्दारों के वंशज हिंदुस्तानी कभी नहीं हो सकते! वो तब भी हिंदुस्तान को तोड़ने के लिए काम कर रहे थे, उनका गंदा गद्दार खून आज भी हिंदुस्तान को तोड़ने के लिए काम कर रहे हैं! वो तब भी नेहरू के मोहरे थे, आज भी उनकी औलाद नेहरू खानदान के ही मोहरे हैं! 

फेसबुक से पोस्‍ट डिलीट के बाद:
आमिर खान के समर्थकों की असहिष्णुता देखिए! FB पर मैंने आमिर के पूर्वज मौलाना आजाद की केवल सच्चाई बताई और शिकायत कर मेरी पोस्ट बैन करवा दी गई! FB ने उस पोस्ट को तो डिलीट किया ही, दो दिन के लिए मेरा एकाउंट भी रद्द रखा। स्क्रीन शॅाट देखकर बताइए कि इसमें इतिहास के अलावा ऐसा क्या है जिससे तथाकथित सहनशील विचलित हो उठे! कांग्रेस का कुनबा हर सच्चाई को आखिर ढंकना क्यों चाहता है?

कांग्रेसी कुनबे को बता दूं कि मुझे छेड़ना उन्हें महंगा पड़ सकता है! मैं केवल सोशल मीडिया पर सक्रिय रहने वाला व्यक्ति नहीं हूँ! मैं तो पुस्तक लिखकर देश में मुस्लिम कट्टरता का इतिहास, कांग्रेस के निर्माण में एक कट्टरपंथी मुसलमान की भूमिका, आमिर के पूर्वज मौलाना आजाद, नेताजी सुभाष बोस से नेहरु के कहने पर दगा देने वाले शाहरुख खानदान, सोनिया गांधी के मुसोलिनी समर्थक पिता एवं हर गांधी-नेहरु के कार्यकाल में देश को बांटने के लिए कराए गए दंगों के इतिहास का काला चिट्ठा सबूत के साथ लोगों तक पहुंचाने की कोशिश में जुट जाऊंगा!

FB का पोस्ट तो एक दिन का खेल होता है, पुस्तक तो आगे तक के लिए संदर्भ बन जाएगा! इसलिए ढोंगी सहिष्णुओं मुझे छेड़ने की कोशिश मत करना! ‪#‎संदीपदेव‬ ‪#‎Sandeepdeo‬

Web Title: who is real intolerant-1