प्रेम

मोहम्‍मद अली जिन्‍ना और 16 साल की रती की प्रेम कहानी

रेहान फ़ज़ल बीबीसी संवाददाता, दिल्ली।  वर्ष 1916 की गर्मियों में जिन्ना के मुवक्किल और दोस्त सर दिनशॉ पेतित ने मुंबई की गर्मी से बचने के लिए उन्हें दार्जिलिंग आने की दावत दी. वहीं जिन्ना की मुलाकात सर दिनशॉ की 16 साल की बेटी रती से हुई, जिनका शुमार अपने ज़माने की बंबई की सबसे हसीन लड़कियों में हुआ करता था.

Read more...

फेसबुक पर पनपे प्रेम ने उसे देश का गद्दार बना दिया!

नई दिल्ली/लखनऊ। ‘इश्क ने गालिब निकम्मा कर दिया वर्ना आदमी हम भी काम के थे’ कुछ ऐसा ही हुआ है सेना के जवान सुनीत कुमार के साथ. फौजी से आइएसआइ एजेंट बनने की कहानी नाटकों से भी ज्यादा नाटकीय है. सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक से शुरू हुई अनजाने में एक प्रेम कहानी देश के लिए गद्दारी तक पहुंच गई. यूपी पुलिस की एसटीएफ ने उसे लखनऊ से गिरफ्तार किया है.

Read more...

युद्ध में जीतता, लेकिन प्‍यार में हर बार हारता रहा नेपोलियन!

फ्रांस का महान सम्राट् नपोलियन बोनापार्ट जितना बड़ा महान योद्धा था, उसकी प्रेम कहानियां उतनी ही त्रासदी से भरी थी। उसने अपने जीवन में दो स्त्रियों से शादी की, उन्‍हें टूटकर चाहा, लेकिन उसे मिली तो केवल उन दोनों की वेबफाई।
नेपोलियन की पहली शादी 9 मार्च 1796 में जोजफीन से हुई थी। जोजफीन के बारे में कहा जाता है कि उसकी सुंदरता से पूरे पैरिस की महिलाएं रश्‍क करती थी। फ्रांस के लोग जोजफीन को 'विक्‍टरी वुमन' कहा करते थे। उनका मानना था कि नेपोलियन की हर विजय उसकी साम्राज्ञी के कारण होती है।

Read more...

प्‍यार करते है तो वादा करें कि आपका जुनून आपकी प्रेमिका पर भारी नहीं पड़ेगा!

हैप्‍पी प्रॉमिस डे। प्यार और केयर सबको अच्छा लगता है लेकिन कई बार ये इतना हद तक बढ़ जाता है कि हमें परेशान करने लगता है। बहुत बार ऐसा होता है कि प्रेमी जोड़े के बीच पजेसिवनेस इतना अधिक बढ़ जाता है कि लड़कियां उससे परेशान हो जाती है। प्यार होते ही लड़के अपनी गर्लफ्रेंड का बहुत ज्यादा खयाल रखने लगते हैं। खाना-पीना, जाना-आना हर जगह लड़कियों के साथ रहते हैं। लड़कियों को कुछ हद तक ये अच्छा लगता है और पजेसिव होना कुछ हद तक सही भी है लेकिन हर चीज की अपनी सीमा होती है। आज प्रॉमिस डे है तो अपने प्‍यार से वादा करें कि आपका जुनून उसकी आजादी पर भारी नहीं पड़ेगा!

Read more...

बुरे लड़कों पर जल्‍दी रीझती हैं लड़कियां

विप‍रीत सेक्‍स के प्रति आकर्षण होना स्‍वभाविक है। लेकिन इन दिनों लड़कियां बुरे लड़के या बैड ब्‍वायज के प्रति ज्‍यादा आकर्षित हो रही हैं। हाल ही में हुई एक स्टडी ने भी इस बात पर मुहर लगा दी है। शोधकर्ताओं ने लड़कियों के आकर्षण के इस बदलते पैमाने पर गहराई से शोध कर कुछ अहम खुलासे किए हैं।

Read more...

प्रधानमंत्री के नाम पत्र: चर्च की तरह सं...
प्रधानमंत्री के नाम पत्र: चर्च की तरह संत गोपाल दास को भी सुन लीजिए!

नई दिल्‍ली।िस आयुक्‍त बस्‍सी को केवल इसलिए तलब कर लिया कि वसंत विहार के होली चाइल्ड ऑक्सीलम स्कूल में प्रिंसिपल के दफ्तर में तोड़फोड़ की घटना हुई है, लेकिन गो-वध बंदी के लिए आंदोलन [...]

सोशल मीडिया के नाम: ये जंग शुरू की है तु...
सोशल मीडिया के नाम: ये जंग शुरू की है तुमने, तो जंग सदा जारी रखना!

ग़र योद्धा हो तो याद रहे । दिल राष्ट्रभक्ति आबाद रहे ।।
मन में खुद्दारी रखना ।

भारत की सेक्‍यूलर प्रजाति!...
भारत की सेक्‍यूलर प्रजाति!

संदीप देव।े लिए सेक्‍यूलर नामक प्रजाति सबसे अधिक जिम्‍मेवार है! अमेरिका की एक बहुत बड़ी वेबसाइट है, जो चर्च मिशनरी को सपोर्ट करता है, नाम है

अर्जेंटीना में मिला दुनिया का सबसे पुरान...
अर्जेंटीना में मिला दुनिया का सबसे पुराना शुक्राणु!

स्टॉकहोम।ं के बारे में आपने सुना होगा, पर ये कहानी यहां तक बढ़ेगी, शायद ही किसी ने सोचा हो। दरअसल, स्वीडन के वैज्ञानिकों को पांच करोड़ साल पुराना शुक्राणु खोजा है। ये मिला अंटार्कटिका [...]

मसीह, मोहम्‍मद और मार्क्‍सवादियों का दर्...
मसीह, मोहम्‍मद और मार्क्‍सवादियों का दर्द!

संदीप देव। मार्क्‍सवादियों का दर्द क्‍या है, इसे कुछ ऐसे समझिए! मसीहवादियों ने पूरे यूरोप को रौंद दिया। प्राचीन यूनान सभ्‍यता आज कहीं नहीं है, उसे वर्तमान रूप में आप ग्रीस नाम से [...]

स्‍वामी रामदेव का अगला लक्ष्य, देश में प...
स्‍वामी रामदेव का अगला लक्ष्य, देश में पुन: वैदिक शिक्षा की स्थापना करना है

संदीप देवो भ्रष्टाचार से मुक्ति, काला धन की वापसी, स्वदेशी को सम्मान और संपूर्ण व्यवस्था परिवर्तन को लेकर स्वामी रामदेव ने ‘भारत स्वाभिमान’ आंदोलन की शुरुआत की थी। भारत [...]

औरंगजेब ने हैदराबाद का नाम बदलकर 'दारुल ...
औरंगजेब ने हैदराबाद का नाम बदलकर 'दारुल जिहाद' रखा था

संदीपदेव‬।वैसी सबसे अधिक ‪#‎Aurangzeb‬ के लिए चिल्‍ला रहा है। आप जानते हैं क्‍यों? वास्‍तव में औरंगजेब ने जब हैदराबाद को जीता था तो उसने इस [...]

आधुनिक भारत में मुस्लिम कटटरता की शुरुआत...
आधुनिक भारत में मुस्लिम कटटरता की शुरुआत और गांधी-नेहरू

संदीप देव।ुस्लिम कटटरता और कठमुल्‍लापन को बढ़ावा देने में जिन दो महापुरुषों ने प्रारंभिक योगदान दिया और जिसकी परिणति पाकिस्‍तान निर्माण के रूप में सामने आया, उनका नाम महात्‍मा गांधी और जवाहरलाल नेहरू था! [...]

दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!...
दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!

आधी आबादी ब्‍यूरो, नई दिल्ली। जंगल बनता जा रहा है। बच्चों के लिए खेलने के लिए जगह नहीं बची है। पार्क भी धीरे-धीरे खत्म होते जा रहे हैं। अभिभावकों की [...]

नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदे...
नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश

दिल्‍ली।  कमल इंसटिट्यूट ऑफ हायर एडूकेशन के छात्र और छात्राओ ने 'बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ ' अभियान पर नुक्कड नाटक का आयोजन किया। 22 जनवरी 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र [...]

असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के ब...
असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के बीच रहती हूं, लेकिन मैंने कभी भारत में भेदभाव महसूस नहीं किया!

सोफिया रंगवाला। पेशे से डॉक्टर हूं। बंगलोर में मेरी एक हाइ एण्ड लेजर स्किन क्लिनिक है। मेरा परिवार कुवैत में रहता है। मैं भी कुवैत में पली बढ़ी हूं लेकिन 18 साल [...]

प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम कर...
प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम करे, सूचना प्रसारण मंत्री को तो क्रिकेट डिप्‍लोमेसी से ही फुर्सत नहीं है!

संदीप देव।उटलुक पत्रिका के एक गलत खबर के कारण जो हंगामा हुआ और सदन को स्‍थगित करना पड़ा, इसका जिम्‍मेवार कौन है? क्‍या मोदी सरकार मीडिया के इस तरह के गैरजिम्‍मेवार और सबूत [...]

Other Articles