वैवाहिक जीवन

पत्‍नियां हो जाएं निश्चिंत, अब पति लेंगे गर्भनिरोधक गोली व इंजेक्शन!

अनचाहा गर्भ रोकने की जिम्मेदारी पुरुषों पर कुछ और बढ़ने वाली है. सस्ती दवाएं विकसित करने वाले एनजीओ परसिमस फाउंडेशन ने बताया है कि उन्होंने पुरुष के इस्‍तेमाल के लिए प्रजननरोधी दवा वैसालेजेल बना ली है.

Read more...

पति-पत्‍नी एक-दूसरे को नग्‍न देखकर आखिर क्‍या सोचते और महसूस करते हैं!

क्या आपने सेाचा है कि आपके पार्टनर को उस समय कैसा महसूस हुआ होगा जब आपने पहली बार उनके सामने कपड़े उतारे होंगे. महिला और पुरुष दोनों की ही अपने-अपने पार्टनर के बारे में कई फैंटसीज होती हैं. जब आप अपने पार्टनर के सामने पहली बार कपड़े उतारते हैं तो उनके दिमाग में क्या चलता है इसी विषय पर सेक्स एक्सपर्ट टेरेसी कॉक्स ने 5-5 पॉइंन्ट बताए हैं. उनका कहना है इनमें से सभी बातें आपके पार्टनर के दिमाग में आ सकती हैं और कम से कम एक तो जरूर आएगी.

Read more...

अश्‍लील फिल्‍में देखने वालों की शादीशुदा जिंदगी खतरे में!

अश्‍लील फिल्में देखने के आदी लोगों के लिए यह खबर बेहद जरूरी है. एक रिपोर्ट के मुताबिक ऐसी फिल्‍में देखने वालों की शादीशुदा जिंदगी खतरे में पड़ सकती है.

Read more...

दीवार के पार पति-पत्‍नी का तकरार!

मोनिका गुप्ता। मनु और उसकी पत्नी आफिस एक साथ ही निकलते हैं ... रास्ते भर दोनों गाडी में अपना गुस्सा ...अपनी खीज निकालते हैं और चिल्ला- चिल्ला कर बाते करते हैं। घर पर बच्चों की वजह से चुप रहना पड़ता है ..एक बार तो गाडी में पति पत्नी का झगड़ा इतना बढ़ गया कि भारी रश में पत्नी ने चलती कार से दरवाजा खोल कर कूदने की कोशिश की तब पति ने गुस्से से उसका हाथ अन्दर खींच लिया।

Read more...

वैवाहिक जीवन में संभोग को न बनने दें ऊब!

संभोग या सेक्‍स भारतीय चिन्तन में सिर्फ मैथुन क्रिया भर नहीं है, बल्कि जीवन को सही व समायोजित ढंग से जीने की एक कला है। भारतीय दर्शन के चार पुरुषार्थ में 'काम' को तीसरा स्‍थान दिया गया है। लेकिन आजकल के तनावपूर्ण जीवन में पति पत्‍नी के बीच संभोग का रस सूखता चला जा रहा है। पति-पत्‍नी बस निपटाने वाले अंदाज में यौन क्रिया को पूरा करते हैं। सुखद सेक्‍स संबंध नहीं होने के कारण दांपत्‍य जीवन की मिठास खोती चली जा रही है, रिश्‍तों में खटास बढ़ रहे हैं और विवाह से बाहर अनैतिक संबंध(extramarital affair) पनपते जा रहे हैं। यही नहीं, विवाह के अंदर सुखद व स्‍वस्‍थ्‍य रति क्रिया नहीं होने के कारण ही समाज में महिलाओं के साथ बलात्‍कार जैसी जघन्‍य घटनाएं घट रही हैं। अधेड़-बुजुर्ग-पिता-चाचा: इन सभी के द्वारा अपनी बच्चियों से लेकर छोटी लड़कियों, किशोरियों, युवतियों और महिलाओं के साथ होने वाले रेप की सबसे बड़ी वजह दांपत्‍य जीवन में जड़ जमाते जा रहे असंतुष्‍टपूर्ण यौन संबंध और उससे उत्‍पन्‍न कुंठा ही है!

Read more...