पत्‍नियां हो जाएं निश्चिंत, अब पति लेंगे गर्भनिरोधक गोली व इंजेक्शन!

अनचाहा गर्भ रोकने की जिम्मेदारी पुरुषों पर कुछ और बढ़ने वाली है. सस्ती दवाएं विकसित करने वाले एनजीओ परसिमस फाउंडेशन ने बताया है कि उन्होंने पुरुष के इस्‍तेमाल के लिए प्रजननरोधी दवा वैसालेजेल बना ली है.

फाउंडेशन का कहना है कि बबूनों पर किए जा रहे उनके प्रयोग में वैसालेजेल को लेकर काफी सकारात्मक नतीजे सामने आए हैं. तीन बबूनों पर इस दवा का इस्तेमाल किया गया और फिर उन्हें मादा बबूनों के साथ खुला छोड़ दिया गया. इन बबूनों ने लगभग 15 मादा बबूनों के साथ संबंध बनाए, मगर 6 महीने बाद भी कोई मादा बबून गर्भवती नहीं हुई.

जानवरों पर इस प्रयोग को मिली सफलता से उत्साहित फाउंडेशन ने अगले साल वैसालेजेल का परीक्षण इंसानों पर करने का फैसला किया है. संगठन को उम्मीद है कि यह दवा 2017 तक बाजार में आ जाएगी. अगर कीमत की बात की जाए, तो कंपनी का दावा है कि आपके सेक्स जीवन को बेफिक्र करने वाली इस दवा की कीमत एक टेलीविजन से कम होगी.

अब जरा समझें कि वैसालेजेल काम कैसे करता है.यह एक भारतीय डॉक्टर संजय गुहा द्वारा विकसित मेडिकल तकनीक है, जिसे RISUG (Reversible Inhibition of Sperm Under Guidance) कहते हैa. वैसालेजेल महिलाओं की गर्भनिरोधक दवाओं के मुकाबले ज्यादा प्रभावी है. इसमें सिर्फ एक बार ट्रीटमेंट की जरूरत पड़ती है जिससे एक निश्चित समय तक पुरुष गर्भधारण पर रोक लगा सकता है. यह नसबंदी से अलग है. इसमें पुरुष जब चाहे, दूसरा इंजेक्शन लगवाकर गर्भधारण कराने योग्य बन सकता है.

साभार: आजतक वेब

Web Title : male birth control will be here by 2017

Keyword : गर्भनिरोधक|पुरुष| दवाएं| pregnancy|man|medicine

तथ्‍य न मेरे होते हैं और न तुम्‍हारे...।...

संदीप देव।ॉसोपी को न समझने वाले मुझ पर लगातार हमलावर हैं। वो समझ नहीं पा रहे हैं कि मैं किस विचारधारा का हूं, इसलिए पूछते रहते हैं कि आपने पहले तो फलां व्‍यक्ति की ओलाचना की [...]

भारत एक धर्मभीरू देश है जो कट्टरता को भी...
भारत एक धर्मभीरू देश है जो कट्टरता को भी जायज ठहराता है!

संदीप देव। पत्रकारों व कार्टूनिस्‍टों की हत्‍या के बाद दुनिया भर के पत्रकारों और बुद्धिजीवियों ने जहां इस्‍लामी कटटरता को अपनी कलम से जबरदस्‍त जवाब दिया है, वहीं भारत दुनिया का अकेला मुल्‍क है जहां एक [...]

Sreenivasan Jain edits embarrassing port...
Sreenivasan Jain edits embarrassing portions from Ramdev’s interview, gets exposed

Atul Asthana,  bwoyblunder We had writte [...]

छोटे कपड़े पहनकर आइटम सांग करना मुझे पसं...
छोटे कपड़े पहनकर आइटम सांग करना मुझे पसंद नहीं: राधिक आप्‍टे

बॉलीवुड फिल्म हंटर में मुख्‍य भूमिका अदा करने वाली खूबसूरत अदाकार  राधिका आप्‍टे का कहना है कि वो कभी ऐसे आइटम सांग नहीं करेंगी जो महिलाओं की छवि खराब करे.

आजादी के बाद फांसी के फंदे पर लटके 1414 ...
आजादी के बाद फांसी के फंदे पर लटके 1414 अपराधियों में मुसलमान केवल 72 हैं, तो फिर यह 'हाय याकूब- हाय याकूब' क्‍यों? ‎

संदीप देव‬।त्‍त जज, वकील, पत्रकार, वामपंथी बुद्धिजीवी, एनजीओकर्मी, मानवाधिकारवादी और जेहादी आतंकी याकूब मेनन के समर्थन में सड़क से लेकर मीडिया व सोशल मीडिया तक एक झूठ का प्रचार लगातार कर [...]

धर्म के नाम पर इतना पाखंड ठीक नहीं है वै...
धर्म के नाम पर इतना पाखंड ठीक नहीं है वैदिक जी ! ‪

संदीप देव।रे होते हैं और सचमुच उसके अंदर कितना पाखंड भरा होता है, यह आप उसके पूरे आचरण और व्‍यवहार के आधार पर जान सकते हैं। वरिष्‍ठ पत्रकार वेदप्रताप वैदिक, फ्रांस के अखबार शार्ली [...]

असहिष्णुता: आमिर खान के पूर्वज मौलाना आज...
असहिष्णुता: आमिर खान के पूर्वज मौलाना आजाद ने भी देश को शर्मसार करने में कसर नहीं छोड़ी थी!

संदीप देव।आप देश छोड़ने की बात कर रहे हैं वैसा ही कुछ हाल आपके पुरखे मौलाना आज़ाद का भी था . वो तो नेहरू ने उन्हें कांग्रेस का मुस्लिम पोस्टर बॉय बना रखा था [...]

पुरुष ही नहीं, महिलाएं भी होती हैं स्‍वप...
पुरुष ही नहीं, महिलाएं भी होती हैं स्‍वप्‍नदोष की शिकार!

स्वप्नदोष का नाम सुनते ही शर्मिंदा हो जाने वाले पुरुष अब राहत की सांस ले सकते हैं. इस बीमारी के बारे में माना जाता रहा है कि यह सिर्फ पुरुषों को ही होता है. लेकिन अध्‍ययनों से पता [...]

दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!...
दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!

आधी आबादी ब्‍यूरो, नई दिल्ली। जंगल बनता जा रहा है। बच्चों के लिए खेलने के लिए जगह नहीं बची है। पार्क भी धीरे-धीरे खत्म होते जा रहे हैं। अभिभावकों की [...]

नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदे...
नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश

दिल्‍ली।  कमल इंसटिट्यूट ऑफ हायर एडूकेशन के छात्र और छात्राओ ने 'बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ ' अभियान पर नुक्कड नाटक का आयोजन किया। 22 जनवरी 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र [...]

असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के ब...
असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के बीच रहती हूं, लेकिन मैंने कभी भारत में भेदभाव महसूस नहीं किया!

सोफिया रंगवाला। पेशे से डॉक्टर हूं। बंगलोर में मेरी एक हाइ एण्ड लेजर स्किन क्लिनिक है। मेरा परिवार कुवैत में रहता है। मैं भी कुवैत में पली बढ़ी हूं लेकिन 18 साल [...]

प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम कर...
प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम करे, सूचना प्रसारण मंत्री को तो क्रिकेट डिप्‍लोमेसी से ही फुर्सत नहीं है!

संदीप देव।उटलुक पत्रिका के एक गलत खबर के कारण जो हंगामा हुआ और सदन को स्‍थगित करना पड़ा, इसका जिम्‍मेवार कौन है? क्‍या मोदी सरकार मीडिया के इस तरह के गैरजिम्‍मेवार और सबूत [...]

Other Articles