आपबीती

अमेरिकी प्रशासन द्वारा निर्वस्‍त्र करने की कहानी, खुद देवयानी की जुबानी

भारतीय राजनयिक देवयानी ने अपने आईएफएस साथियों को के ई मेल भेजा है, जिसमें अपने साथ हुई बदसलूकी का ब्‍यौरा दिया गया है। देवयानी ने बताया है कि अमेरिका में उनके कपड़े उतार कर तलाशी ली गई थी। उन्हें हथकड़ी लगाई गई। अपराधियों के साथ हवालात में रखा गया। उनका कैविटी टेस्ट भी किया गया जो केवल अपराधियों का होता है। डीएनए टेस्ट के लिए नमूने भी लिए गए। गिरफ्तारी के दौरान देवयानी कई बार रो पड़ी थीं हालांकि उन्‍होंने अपनी गरिमा बनाए रखी क्‍योंकि वह अमेरिका में अपने देश का प्रतिनिधित्‍व कर रही थीं।

Read more...

कामुकता से भरे उस अतिथि से मैंने इस तरह पाया छुटकारा!

मणिका मोहिनी। मित्रों, रोज़ रेप की घटनाएं सुनने में आ रही हैं. इस सन्दर्भ में अपने निजी जीवन से जुडी एक घटना आप लोगों के साथ बांटना चाहती हूँ कि मैंने कैसे असामान्य परिस्थिति उत्पन्न होने पर प्रत्युत्पन्नमति से विपत्ति को टाला। हालांकि यह उदाहरण वर्तमान रेप के मामलों में बच कर निकलने में सहायक नहीं हो सकता लेकिन मेरी बात से शायद लड़कियों में कुछ जागरूकता या हौसला-अफजाई हो सके. मैंने एक लेखक के तौर पर अपना अनुभव बांटने के लिए अपने जीवन से जुडी इस घटना को अनावृत करने की हिम्मत जुटाई है. आशा है, आप इसे सकारात्मक रूप में लेंगे।

Read more...

एक सेक्‍स बंधक की कहानी, उन्‍हीं की जुबानी

दूसरे विश्व युद्ध के दौरान ली ओक सिओन को चीन के वेश्यालय में जापानी सैनिकों के लिए बंधक बनाकर रखा गया. वहां गुजरे तीन सालों की तकलीफ बीते 70 साल में भी खत्म नहीं हुई. सिओन याद करते हुए बताती हैं कि उस समय वह 14 साल की थीं जब एक दिन बुसान में अपने घर से शाम के करीब 5 बजे निकलीं, और कुछ आदमियों ने जोर जबरदस्ती कर उन्हें कार में धकेल दिया. वे सिओन को चीन के एक वेश्यालय ले गए. युद्ध के अंत तक यहां हर दिन उनकी इच्छा के विरुद्ध जापानी सैनिक उनके साथ बलात्कार करते थे.

Read more...

इटली में महिलाओं को पुरुष घूरें तो स्‍वागत माना जाता है और भारत में इसे यौन शोषण!

अमेरिकी छात्रा मिशेल क्रॉस का एक पोस्‍ट इंटरनेट पर खूब वायरल हुआ था, जिसमें उन्‍होंने आपबीती लिखी थी. उन्‍होंने लिखा था कि किस तरह भारत में स्‍टडी ट्रिप के दौरान लोग उन्‍हें घूरते थे, उनका पीछा करते थे और यहां तक कि उनका रेप करने की भी कोशिश की गई. और इन सब की वजह से वह पर्सनैलिटी डिस्‍ऑर्डर का शिकार हो गईं. अब एक और विदेशी लड़की जेन ने भारत में अपने अनुभव के बारे में लिखा है. नीली आंखों वाली इस जर्मन लड़की का कहना है कि भारत में उसका अनुभव बेहद सुखद और सुंदर रहा है। भारत महिलाओं के लिए स्‍वर्ग है।

Read more...

एक अमेरिकी छात्रा ने कहा, लोग मेरे ब्रेस्‍ट को घूरते थे और आहें भर रहे थे!

एक अमेरिकी छात्रा की भारत में स्‍टडी ट्रिप के दौरान यौन शोषण की भयावह कहानी इंटरनेट पर खूब वायरल हो रही है. अपनी आपबीती में उन्‍होंने बताया है कि किस तरह भारत यात्रा के दौरान लोग उन्‍हें घूरते थे, उनका पीछा करते थे और यहां तक कि उनका रेप करने की भी कोशिश की गई.

Read more...

अरविंद केजरीवाल के उभार के पीछे है अमेरि...
अरविंद केजरीवाल के उभार के पीछे है अमेरिका का हथियार उद्योग!

संदीप देव, नई दिल्‍ली। दिन-रात दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल व उनकी आम आदमी पार्टी की लॉबिंग में देश की इलेक्‍ट्रोनिक मीडिया जुटी हुई है। ऐसा भी नहीं है कि अरविंद केजरीवाल की तरह देश में पहले किसी [...]

मोदी सरकार ने जिसे एक दिन में कर दिया, क...
मोदी सरकार ने जिसे एक दिन में कर दिया, कांग्रेस की सरकार उसे तीन साल से टाल रही थी!

संदीप देव। केंद्र की नई मोदी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर काले धन के खिलाफ एसआईटी का गठन करने का फैसला किया है। सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज जस्टिस एमबी शाह एसआईटी की अध्‍यक्षता करेंगे। रिटायर्ड जज जस्टिस [...]

बिहार चुनाव में भाजपा के खलनायक: भाजपा क...
बिहार चुनाव में भाजपा के खलनायक: भाजपा के खिलाफ प्रोपोगंडा वार को समाप्‍त करने की जगह हवा दे रहे हैं अरुण जेटली!

‪‎प देव‬।ही लिखा था, बिहार चुनाव खत्म असहिष्णुता की नौटंकी खत्म! अब कहाँ कोई पुरस्कार लौटा रहा है? किस टीवी चैनल पर बहस चल रहा है? कौन-से अखबार के पन्ने रंगे जा [...]

अमेरिकी प्रशासन द्वारा निर्वस्‍त्र करने ...
अमेरिकी प्रशासन द्वारा निर्वस्‍त्र करने की कहानी, खुद देवयानी की जुबानी

भारतीय राजनयिक देवयानी ने अपने आईएफएस साथियों को के ई मेल भेजा है, जिसमें अपने साथ हुई बदसलूकी का ब्‍यौरा दिया गया है। देवयानी ने बताया है कि अमेरिका में उनके कपड़े उतार कर तलाशी ली गई थी। उन्हें [...]

लीजिए पिज़्ज़ा परांठा- pizza paratha का ...
लीजिए पिज़्ज़ा परांठा- pizza paratha का मजा!

पिज़्ज़ा के टेस्ट वाला, पनीर और सब्ज़ीयों से भरा ये परांठा सबको बहुत पसंद आएगा. घर पर तैयार ये परांठा हेल्थ और टेस्ट दोनों का अच्छा पैकेज है और बच्चों को बेहद पसंद आता है.

बॉलिवुड में महिलाओं को केवल सेक्‍सी तरीक...
बॉलिवुड में महिलाओं को केवल सेक्‍सी तरीके से परोसने का है चलन: यूएन

संयुक्त राष्ट्र। दुनियाभर की लोकप्रिय फिल्मों के महिला किरदारों पर संयुक्त राष्ट्र की स्टडी की मानें तो बॉलिवुड की फिल्मों में ऐक्ट्रेस को ग्लैमरस अंदाज में पेश करने की होड़ लगी है। इसके मुताबिक, भारतीय फिल्मों के कम से [...]

गुरु तेगबहादुर की हत्‍या से भी ‪#‎Aurang...
गुरु तेगबहादुर की हत्‍या से भी ‪#‎Aurangzeb‬ को बरी करते हैं वामपंथी इतिहास लेखक!

संदीपदेव‬।ित और झूठे होते हैं, इसे देखना हो तो एनसीईआरटी की कक्षा- 11 के मध्‍यकालीन भारत का इतिहास पढ़ लीजिए। छत्रपति शिवाजी से लेकर गुरु तेगबहादुर तक के लिए एक वचन 'तुम' [...]

बाल विवाह बलात्‍कार से भी बदतर है...
बाल विवाह बलात्‍कार से भी बदतर है

नयी दिल्ली: दिल्‍ली के अदालत ने बाल विवाह को बलात्कार से भी बदतर बुराई बताता है. अदालत ने कहा इसे समाज से पूरी तरह समाप्त होना चाहिए. कार्ट ने कम उम्र में बच्ची का विवाह करने वालों [...]

दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!...
दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!

आधी आबादी ब्‍यूरो, नई दिल्ली। जंगल बनता जा रहा है। बच्चों के लिए खेलने के लिए जगह नहीं बची है। पार्क भी धीरे-धीरे खत्म होते जा रहे हैं। अभिभावकों की [...]

नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदे...
नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश

दिल्‍ली।  कमल इंसटिट्यूट ऑफ हायर एडूकेशन के छात्र और छात्राओ ने 'बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ ' अभियान पर नुक्कड नाटक का आयोजन किया। 22 जनवरी 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र [...]

असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के ब...
असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के बीच रहती हूं, लेकिन मैंने कभी भारत में भेदभाव महसूस नहीं किया!

सोफिया रंगवाला। पेशे से डॉक्टर हूं। बंगलोर में मेरी एक हाइ एण्ड लेजर स्किन क्लिनिक है। मेरा परिवार कुवैत में रहता है। मैं भी कुवैत में पली बढ़ी हूं लेकिन 18 साल [...]

प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम कर...
प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम करे, सूचना प्रसारण मंत्री को तो क्रिकेट डिप्‍लोमेसी से ही फुर्सत नहीं है!

संदीप देव।उटलुक पत्रिका के एक गलत खबर के कारण जो हंगामा हुआ और सदन को स्‍थगित करना पड़ा, इसका जिम्‍मेवार कौन है? क्‍या मोदी सरकार मीडिया के इस तरह के गैरजिम्‍मेवार और सबूत [...]

Other Articles