अमेरिकी प्रशासन द्वारा निर्वस्‍त्र करने की कहानी, खुद देवयानी की जुबानी

भारतीय राजनयिक देवयानी ने अपने आईएफएस साथियों को के ई मेल भेजा है, जिसमें अपने साथ हुई बदसलूकी का ब्‍यौरा दिया गया है। देवयानी ने बताया है कि अमेरिका में उनके कपड़े उतार कर तलाशी ली गई थी। उन्हें हथकड़ी लगाई गई। अपराधियों के साथ हवालात में रखा गया। उनका कैविटी टेस्ट भी किया गया जो केवल अपराधियों का होता है। डीएनए टेस्ट के लिए नमूने भी लिए गए। गिरफ्तारी के दौरान देवयानी कई बार रो पड़ी थीं हालांकि उन्‍होंने अपनी गरिमा बनाए रखी क्‍योंकि वह अमेरिका में अपने देश का प्रतिनिधित्‍व कर रही थीं।

 

‘जब मैं इस सबसे गुजर रही थी, तब मैं कई बार रोई क्योंकि मेरे साथ लगातार ऐसा सलूक किया जा रहा था कि जैसे मैं कोई बड़ी अपराधी हूं। मुझे हथकड़ी लगाना, कपड़े उतरवाकर तलाशी लेना, मुंह की तलाशी लेना, डीएनए स्वैबिंग, अपराधियों और नशेड़ियों के साथ रखना वो भी तब जबकि मुझे राजनयिक होने के नाते विशेष अधिकार मिले हुए हैं। लेकिन इस ज्यादती का सामना करने के लिए मुझे इस बात से शक्ति मिली कि मुझे अपने साथियों और देश का प्रतिनिधित्व पूरे विश्वास और सम्मान के साथ करना है’।

यूएस मार्शल सर्विस (यूएसएमएस) ने इस बात की पुष्टि की है कि राजनयिक देवयानी को पिछले हफ्ते गिरफ्तार करने के बाद उनके कपड़े उतारकर उनकी जांच की गई थी। यूएसएमएस ने इस बात की भी पुष्टि की है कि देवयानी के साथ वैसा ही बर्ताव किया गया, जैसा अन्य गिरफ्तार लोगों के साथ किया जाता है। यूएसएमएस की प्रवक्ता निक्की क्रेडिक-बैरेट ने इस मुद्दे पर कहा, '(देवयानी की) गिरफ्तारी में उसी प्रक्रिया का पालन किया गया जो पहले से तय है।' प्रवक्ता ने यह भी कहा, 'गिरफ्तार महिला (देवयानी) को उसी सेल में रखा गया था जहां अन्य महिलाओं को रखा गया था जो कोर्ट के फैसले का इंतजार कर रही थीं।'

39 साल की 1999 बैच की भारतीय विदेश सेवा (आईएफएस) अफसर हैं। मूल रूप से महाराष्‍ट्र निवासी देवयानी ने एमबीबीएस की पढ़ाई की है। देवयानी की छवि महिला अधिकारों और लिंग-समानता जैसे गंभीर मसलों की सार्वजनिक मंच से वकालत करने वाली महिला के तौर पर है।

Web Title: Diplomat Devyani strip searched by The US2

Keywords: अमरीका| भारतीय| राजनायिक| देवयानी खोबरागाड़े| भारतीय विदेश सेवा| देवयानी| Devyani IFS|

पढ़ना मत! अपनी मूर्खता को पकड़े रखना- कश...
पढ़ना मत! अपनी मूर्खता को पकड़े रखना- कश्‍मीरी पंडित के पूर्वजों ने मूर्खता की थी, उनकी अगली पीढ़ी गाजर-मूली की तरह काट दी गयी, भगा दी गयी! ‎

संदीपदेव‬।िचित्र बात है, वह अपने इतिहास से सबक लेने को तैयार ही नहीं है! और ऐसा नहीं कि यह आज की बात हो, यह हमारे पूर्वजों से चली आ रही मूढ़ता है, जिसका [...]

मधुर भंडारकर की 'कैलेंडर गर्ल्स' ...
मधुर भंडारकर की 'कैलेंडर गर्ल्स'

मधुर भंडारकर अपनी फिल्म 'कैलेंडर गर्ल्स' को लेकर चाहें जितनी ही गोपनीयता बरतने की कोशिश करें, फिल्म से जुड़ी जानकारियां लीक होती जा रही हैं. कुछ दिन पहले फिल्म की पांचों लीड एक्ट्रेस की बिकिनी वाली [...]

औरंगजेब इस देश का पहला बादशाह था, जिसने ...
औरंगजेब इस देश का पहला बादशाह था, जिसने दस्‍तावेजी रूप से भारत का विभाजन किया!

‪‎संदीपदेव‬।खने और उसके क्रूर करतूतों को एक विशेषांक पत्रिका निकाल कर जन-जन तक पहुंचाने की मुहिम क्‍या मैंने छेड़ी, मेरे कई मुसलमान मित्र मुझसे नाराज [...]

मोटापा, हृदय रोग, मधुमेह, उच्‍च रक्‍तचाप...
मोटापा, हृदय रोग, मधुमेह, उच्‍च रक्‍तचाप और अस्‍थमा के 90 फीसदी मामले ठीक कर रहे हैं स्‍वामी रामदेव

आधीआबादी ब्‍यूरो।ार्य बालकृष्‍ण की देखरेख में योग-आयुर्वेद का विभिन्‍न रोगों पर पड़ने वाले प्रभाव को लेकर देश में सबसे बड़ा अध्‍ययन चल रहा है। 'पतंजलि योगपीठ' स्थित 'योग अनुसंधान एवं [...]

हिंदू महिलाओं को यौन गुलाम बनाने में सबस...
हिंदू महिलाओं को यौन गुलाम बनाने में सबसे आगे रहा मुगल बादशाह शाहजहां!

ठाकुर शिवकुमार राघव ।जब हम पढ़ते हैं कि वह अल्‍पसंख्‍यक यजीदी महिलाओं को यौन गुलाम बना रहा है तो हमें आश्‍चर्य होता है। लेकिन आपको जानकर आश्‍चर्य होगा कि दिल्‍ली सल्‍तनत के सुल्‍तानों [...]

हाशिमपुरा ने मुसलमानों को सोचने का अवसर ...

संदीप देव। मामले में अदालत का फैसला आया। पीडि़तों को इंसाफ नहीं मिला। लेकिन लाख टके का सवाल यह है कि खुद को धर्मनिरपेक्षता के झंडबदार के रूप में खुद को पेश करने वाली कांग्रेस और उसी कांग्रेस [...]

ब्रैंडिंग के लिए सर्वाधिक लोकप्रिय साइट ...
ब्रैंडिंग के लिए सर्वाधिक लोकप्रिय साइट बना यूट्यूब

यॉर्क।्री वाली सर्वाधिक लोकप्रिय साइट यूट्यूब को एक ताजा अध्ययन में ब्रैंडिंग वीडियो के लिए सर्वाधिक उपयुक्त जगह बताया गया है। समाचारपत्र 'वॉल स्ट्रीट जर्नल' के अनुसार, वीडियो विज्ञापन निर्माता एजेंसी 'विजिबल मेजर्स' [...]

प्रधानमंत्री मोदी की अपील से युवाओं में ...
प्रधानमंत्री मोदी की अपील से युवाओं में बढ़ा खादी का क्रेज

नई दिल्‍ली।  मोदी ने 'मन की बात' कार्यक्रम की शुरुआत लोगों से इस अपील के साथ ही की थी कि वे खादी का कोई सामान जरूर प्रयोग में लाएं. मेक इन इंडिया थीम और रोजगार को [...]

दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!...
दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!

आधी आबादी ब्‍यूरो, नई दिल्ली। जंगल बनता जा रहा है। बच्चों के लिए खेलने के लिए जगह नहीं बची है। पार्क भी धीरे-धीरे खत्म होते जा रहे हैं। अभिभावकों की [...]

नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदे...
नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश

दिल्‍ली।  कमल इंसटिट्यूट ऑफ हायर एडूकेशन के छात्र और छात्राओ ने 'बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ ' अभियान पर नुक्कड नाटक का आयोजन किया। 22 जनवरी 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र [...]

असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के ब...
असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के बीच रहती हूं, लेकिन मैंने कभी भारत में भेदभाव महसूस नहीं किया!

सोफिया रंगवाला। पेशे से डॉक्टर हूं। बंगलोर में मेरी एक हाइ एण्ड लेजर स्किन क्लिनिक है। मेरा परिवार कुवैत में रहता है। मैं भी कुवैत में पली बढ़ी हूं लेकिन 18 साल [...]

प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम कर...
प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम करे, सूचना प्रसारण मंत्री को तो क्रिकेट डिप्‍लोमेसी से ही फुर्सत नहीं है!

संदीप देव।उटलुक पत्रिका के एक गलत खबर के कारण जो हंगामा हुआ और सदन को स्‍थगित करना पड़ा, इसका जिम्‍मेवार कौन है? क्‍या मोदी सरकार मीडिया के इस तरह के गैरजिम्‍मेवार और सबूत [...]

Other Articles