अर्जेंटीना में मिला दुनिया का सबसे पुराना शुक्राणु!

स्टॉकहोम। जमे हुए शुक्राणुओं के बारे में आपने सुना होगा, पर ये कहानी यहां तक बढ़ेगी, शायद ही किसी ने सोचा हो। दरअसल, स्वीडन के वैज्ञानिकों को पांच करोड़ साल पुराना शुक्राणु खोजा है। ये मिला अंटार्कटिका यानि उत्तरी ध्रुव के करीब। ये शुक्राणु जीवाश्म की अवस्था में था।

 

स्टॉकहोम के स्वीडिश म्यूजियम ऑफ नेचुरल हिस्ट्री द्वारा प्रकाशित रिसर्च पेपर में ये खुलासा हुआ है। नेशनल जियोग्राफिक रिपोर्ट के मुताबिक ये अबतक का ज्ञात सबसे पुराना शुक्राणु है। ये शुक्राणु क्लाटेल्लटा क्लास का है, पर वैज्ञानिक अभी तक इसकी जड़ तक नहीं पहुंच सके हैं।

इस पेपर को लिखने वाले बेंजामिल बोलफ्लुएर ने कहा कि ये उत्तरी ध्रुव पर मिलने वाली विशेष क्राइफिस नाम के जीव का शुक्राणु है। वैज्ञानिकों का दावा है कि इस शुक्राणु से वे एक ही तरह के जीवों की अलग-अलग जातियों का विश्लेषण कर सकेंगे।

Web Title: oldest-spernm-found-in-antarctica

Keywords: antarctica| sperm| stockholm| Sweden

जहां सबसे अधिक बलात्‍कार, वह सबसे बड़ा प...
जहां सबसे अधिक बलात्‍कार, वह सबसे बड़ा प्रवचनकर्ता!

संदीप देव।्‍कार वाले देश अमेरिका व ब्रिटेन की मीडिया भारत सरकार पर हमलावर है, क्‍योंकि उसने दिल्‍ली बलात्‍कार पर बनी डक्‍यमेंट्री पर अपने देश में रोक लगाया है। भारत सरकार की सबसे बडी गलती यह [...]

ज्यादा सोने वाली महिलाएं ज्यादा करती हैं...
ज्यादा सोने वाली महिलाएं ज्यादा करती हैं सेक्स

न्यूयॉर्क। एक स्टडी में महिलाओं की सेक्स लाइफ को लेकर दिलचस्प खुलासा किया गया है। इसमें दावा किया गया है कि जो महिलाएं ज्यादा सोती हैं, वह ज्यादा सेक्स करती हैं । स्टडी में पाया गया कि एक घंटे [...]

समलैंगिक रिश्ते, दुनिया में कहीं ‘स्‍वीक...
समलैंगिक रिश्ते, दुनिया में कहीं ‘स्‍वीकार्य’ तो कहीं ‘अपराध’

नई दिल्ली। समलैंगिक लोगों के लिए तमाम धर्मों के दरवाजे बंद हैं, लेकिन ये भी सच है कि दुनिया की अलग-अलग सभ्यताओं में प्राचीन काल से ही समलैंगिक रिश्तों का जिक्र मिलता है। प्राचीन रोम, ग्रीस, [...]

'स्‍वराज हमारा जन्‍मसिद्ध अधिकार है' का ...
'स्‍वराज हमारा जन्‍मसिद्ध अधिकार है' का नारा देने वाले तिलक को देश ने पहली बार सन् 1964 में याद किया!

संदीपदेव‬।ोस ने अपनी पुस्‍तक 'द इंडियन स्‍ट्रगल' में लिखा है, ''भारतीय राजनीति में सिर्फ तिलक गांधी के प्रतिद्वंद्वी हो सकते थे। उनकी मत्‍यु ने गांधी का काम बहुत आसान कर दिया।'' [...]

South Asia: UNODC initiates: 32 बिलियन ...
South Asia:  UNODC initiates: 32 बिलियन डॉलर का बिजनस है मानव व्‍यापार

New delhi. A $32 billion business annual [...]

बाल विवाह बलात्‍कार से भी बदतर है...
बाल विवाह बलात्‍कार से भी बदतर है

नयी दिल्ली: दिल्‍ली के अदालत ने बाल विवाह को बलात्कार से भी बदतर बुराई बताता है. अदालत ने कहा इसे समाज से पूरी तरह समाप्त होना चाहिए. कार्ट ने कम उम्र में बच्ची का विवाह करने वालों [...]

जोहरा सहगल: बॉलिवुड की दादी...
जोहरा सहगल: बॉलिवुड की दादी

रवि कुमार छवि। विख्यात फिल्म, रंगमंच कलाकार और नृत्यांगना जोहरा सहगल के निधन से भारतीय सिनेमा को बड़ी क्षति पहुंची जिसकी लंबे समय तक भरपाई नहीं हो पाएगी.. जोहरा सहगल ने अपने लंबे करियर में हिन्दी के [...]

लीजिए पिज़्ज़ा परांठा- pizza paratha का ...
लीजिए पिज़्ज़ा परांठा- pizza paratha का मजा!

पिज़्ज़ा के टेस्ट वाला, पनीर और सब्ज़ीयों से भरा ये परांठा सबको बहुत पसंद आएगा. घर पर तैयार ये परांठा हेल्थ और टेस्ट दोनों का अच्छा पैकेज है और बच्चों को बेहद पसंद आता है.

दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!...
दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!

आधी आबादी ब्‍यूरो, नई दिल्ली। जंगल बनता जा रहा है। बच्चों के लिए खेलने के लिए जगह नहीं बची है। पार्क भी धीरे-धीरे खत्म होते जा रहे हैं। अभिभावकों की [...]

नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदे...
नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश

दिल्‍ली।  कमल इंसटिट्यूट ऑफ हायर एडूकेशन के छात्र और छात्राओ ने 'बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ ' अभियान पर नुक्कड नाटक का आयोजन किया। 22 जनवरी 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र [...]

असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के ब...
असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के बीच रहती हूं, लेकिन मैंने कभी भारत में भेदभाव महसूस नहीं किया!

सोफिया रंगवाला। पेशे से डॉक्टर हूं। बंगलोर में मेरी एक हाइ एण्ड लेजर स्किन क्लिनिक है। मेरा परिवार कुवैत में रहता है। मैं भी कुवैत में पली बढ़ी हूं लेकिन 18 साल [...]

प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम कर...
प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम करे, सूचना प्रसारण मंत्री को तो क्रिकेट डिप्‍लोमेसी से ही फुर्सत नहीं है!

संदीप देव।उटलुक पत्रिका के एक गलत खबर के कारण जो हंगामा हुआ और सदन को स्‍थगित करना पड़ा, इसका जिम्‍मेवार कौन है? क्‍या मोदी सरकार मीडिया के इस तरह के गैरजिम्‍मेवार और सबूत [...]

Other Articles