जीवन मंत्र

स्ट्रेस मॅनेजमेंट का फंडा

एक मनोवैज्ञानिक स्ट्रेस मॅनेजमेंट के बारे में, अपने छात्रों से मुखातिब था। उसने पानी से भरा एक ग्लास उठाया। सभी ने समझा की अब "आधा खाली या आधा भरा है", यही पुछा और समझाया जाएगा! मगर मनोवैज्ञानिक ने पूछा..''कितना वजन होगा इस ग्लास में भरे पानी का?'' सभी ने 300 से 400 ग्राम तक अंदाज बताया!

Read more...

लंबे कान वाला व्‍यक्ति होता है धनवान!

दीवारों के भी कान होते हैं यह कहावत तो आपने सुनी होगी लेकिन क्या आपने अपने कान पर गौर फरमाया है कि उनकी बनावट भी आपके व्यक्तित्व के राज खोलती है आइए जानते हैं कानों के आकार से आपके व्‍यक्तित्‍व के बारे में...

Read more...

आंखों की गहराई व भौहों की बनावट बता देता है आपका व्‍यक्तित्‍व

नई दिल्‍ली। किसी भी व्यक्ति को देखकर उसकी चारित्रिक विशेषताओं का आकलन किया जा सकता है। चेहरा हमारे व्यक्तित्व और स्वभाव का प्रतिनिधित्व करता है। मन के भीतर जो भाव चलते हैं वही चेहरे पर प्रतिबिंबित होते हैं। आइए जानते है ज्योतिष के आधार पर भौहों और आंखों की बनावट से कैसे की जाती है व्यक्ति की पहचान।

Read more...

अपनी सकारात्‍मक और नकारात्‍मक सोच की जांच कुछ इस तरह करें

राजीव शर्मा, नई दिल्‍ली। कई बार देखने में आता है कि किसी महिला में तमाम खुबियां होने के बावजूद भी जाने-अनजाने में उसमें कुछ ऐसे अवगुण आ जाते हैं जो उसके व्यक्तित्व में चांद के दाग की तरह होते हैं। इसलिए किसी भी आकर्षक व्यक्तित्व वाली महिला बनने के लिए यह जरूरी होता है कि उसके आचार-व्यवहार में कहीं भी कोई नकारात्मकपन न हो, क्योंकि इससे न केवल आपका व्यक्तित्व ही खराब होता है बल्कि घर-परिवार, ऑफिस आदि में भी आपकी इमेज खराब होने लगती है। समाज में अपनी अच्छी छवि बनाए रखने के लिए आपको अभी से अपने व्यक्तित्व का विश्लेषण कर लेना चाहिए। इस काम में आपकी मदद के लिए हम यहां दे रहे हैं एक व्यक्तित्व मीटर। इसके सहारे आप खुद ही पता लगा सकती हैं कि आपमें कहां-कितनी कमी है।

Read more...

लोमड़ी और कौआ

एक  कौआ को मांस का एक टुकड़ा कहीं से मिल गया। अपनी चोंच से पकड़े हुए वह एक पेड़ की ओर उड़ चला और पेड़ की डाली पर बैठ गया। एक लोमड़ी ने जैसे ही कौए की चौंच में मांस का टुकड़ा देखा, उसकी लालसा उसे पाने की हुई। लोमड़ी ने सिर उठा कर कौए की तरफ देखा और कहा, 'मित्र, तुम कितने सुंदर हो। तुम्हारे पंख कितने अदभुत और सुंदर हैं। क्या तुम्हारी आवाज़ भी वैसे ही मीठी है जैसे सुंदर तुम दिखते हो? यदि ऐसा है तो तुम पक्षियों के राजा हो।'

Read more...

हिंदू धर्म का इस्‍लामीकरण न करें...! ...
हिंदू धर्म का इस्‍लामीकरण न करें...!

संदीप देव। देश नहीं है, लेकिन जिस तरह की धर्मांधता का व्‍यवहार खुद को हिंदूवादी कहने वाले कुछ लोग, संगठन या समूह आजकल कर रहे हैं, उन्‍हें स्‍पष्‍ट ज्ञान होना चाहिए कि वह मूल [...]

जहां सबसे अधिक बलात्‍कार, वह सबसे बड़ा प...
जहां सबसे अधिक बलात्‍कार, वह सबसे बड़ा प्रवचनकर्ता!

संदीप देव।्‍कार वाले देश अमेरिका व ब्रिटेन की मीडिया भारत सरकार पर हमलावर है, क्‍योंकि उसने दिल्‍ली बलात्‍कार पर बनी डक्‍यमेंट्री पर अपने देश में रोक लगाया है। भारत सरकार की सबसे बडी गलती यह [...]

कभी स्‍वामी रामदेव पर हमला कर चुके वामपं...
कभी स्‍वामी रामदेव पर हमला कर चुके वामपंथी व कांग्रेसी उनकी जेड श्रेणी सुरक्षा से हैं असहज!

संदीप देव। गृहमंत्रालय ने जिस दिन जेड श्रेणी की सुरक्षा मुहैया कराई, उस दिन वामपंथी मीडिया मातम मना रहा था। सबसे अधिक दुखी पूर्व वित्‍त मंत्री पी.चिदंबरम के 5000 करोड़ रुपए [...]

धर्म के नाम पर इतना पाखंड ठीक नहीं है वै...
धर्म के नाम पर इतना पाखंड ठीक नहीं है वैदिक जी ! ‪

संदीप देव।रे होते हैं और सचमुच उसके अंदर कितना पाखंड भरा होता है, यह आप उसके पूरे आचरण और व्‍यवहार के आधार पर जान सकते हैं। वरिष्‍ठ पत्रकार वेदप्रताप वैदिक, फ्रांस के अखबार शार्ली [...]

सरदार पटेल को गृहमंत्री पद से हटाने की स...
सरदार पटेल को गृहमंत्री पद से हटाने की साजिश रचा करते थे आपातकाल के नायक जयप्रकाश नारायण!

संदीपदेव‬। उल्‍टा इतिहास बताते हो, मैं उनसे कहता हूं मैं उस इतिहास को बताता हूं, जिसे किसी न किसी कारण से दबाया गया है। तो, जिस जयप्रकाश नारायण उर्फ जेपी को आज [...]

हिंदी की एक भी पुस्‍तक बेस्‍ट सेलर सूची ...

संदीपदेव‬।को इस पुस्‍तक गी-एक योद्धा'अगस्‍त को हरिद्वार में इसका लोकार्पण होना तय हुआ है। इसका प्रकाशन दुनिया में सबसे अधिक [...]

आजाद भारत का इतिहास राजनैतिक हत्‍याओं का...
आजाद भारत का इतिहास राजनैतिक हत्‍याओं का इतिहास है, जिसमें सभी दल शामिल हैं!

संदीप देव।ना पढ़ता जा रहा हूं, मेरी तकलीफ उतना ही बढ़ती जा रही है। मैंने आप सभी को '' अपना वास्‍तविक इतिहास जानो'' मुहिम का हिस्‍सा बनाना चाहा था, लेकिन [...]

भारत एक धर्मभीरू देश है जो कट्टरता को भी...
भारत एक धर्मभीरू देश है जो कट्टरता को भी जायज ठहराता है!

संदीप देव। पत्रकारों व कार्टूनिस्‍टों की हत्‍या के बाद दुनिया भर के पत्रकारों और बुद्धिजीवियों ने जहां इस्‍लामी कटटरता को अपनी कलम से जबरदस्‍त जवाब दिया है, वहीं भारत दुनिया का अकेला मुल्‍क है जहां एक [...]

दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!...
दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!

आधी आबादी ब्‍यूरो, नई दिल्ली। जंगल बनता जा रहा है। बच्चों के लिए खेलने के लिए जगह नहीं बची है। पार्क भी धीरे-धीरे खत्म होते जा रहे हैं। अभिभावकों की [...]

नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदे...
नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश

दिल्‍ली।  कमल इंसटिट्यूट ऑफ हायर एडूकेशन के छात्र और छात्राओ ने 'बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ ' अभियान पर नुक्कड नाटक का आयोजन किया। 22 जनवरी 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र [...]

असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के ब...
असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के बीच रहती हूं, लेकिन मैंने कभी भारत में भेदभाव महसूस नहीं किया!

सोफिया रंगवाला। पेशे से डॉक्टर हूं। बंगलोर में मेरी एक हाइ एण्ड लेजर स्किन क्लिनिक है। मेरा परिवार कुवैत में रहता है। मैं भी कुवैत में पली बढ़ी हूं लेकिन 18 साल [...]

प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम कर...
प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम करे, सूचना प्रसारण मंत्री को तो क्रिकेट डिप्‍लोमेसी से ही फुर्सत नहीं है!

संदीप देव।उटलुक पत्रिका के एक गलत खबर के कारण जो हंगामा हुआ और सदन को स्‍थगित करना पड़ा, इसका जिम्‍मेवार कौन है? क्‍या मोदी सरकार मीडिया के इस तरह के गैरजिम्‍मेवार और सबूत [...]

Other Articles