शख्सियत

मनु शर्मा व रामबहादुर राय, जिनके गले से लगकर सम्‍मानित हुआ 'पद्मश्री'

संदीप देव। आज मेरे लिए दोहरी खुशी का दिन है। मेरे दो-दो आदर्श व आदरणीय साहित्‍यकार-पत्रकार को आज पद्म पुरस्‍कार मिल रहा है। इनमें एक हैं मनु शर्मा और दूसरे हैं रामबहादुर राय। सच पूछिए तो ये दोनों ऐसी शख्सियत हैं, जो किसी भी पुरस्‍कार से कहीं ऊपर हैं। सरकार ने इन्‍हें पद्म पुरस्‍कार देकर पद्म पुरस्‍कार की ही गरिमा बढाई है। भारतीय साहित्‍य और पत्रकारिता को जो योगदान इन दो विभूतियों ने दिया है, वह किसी पुरस्‍कार की मोहताज न कभी थी और न ही कभी रहेगी।

Read more...

पद्मश्री एक सहज, सजग और सार्थक संवाद को

के. एन. गोविंदाचार्य। पद्म पुरस्कारों के आईने में देखा जाए तो पत्रकारिता का चेहरा इस बार ज्यादा सहज, सजग और सार्थक संवाद करता हुआ दिख रहा है। यह सच है कि व्यक्ति पुरस्कार से बड़ा या छोटा नहीं होता, हां व्यक्तित्व प्रभावी हो तो पुरस्कार की शोभा बढ़ जाती है। वरिष्ठ पत्रकार राम बहादुर राय को पद्मश्री से नवाजने से पद्मश्री की प्रासंगिकता और शोभा दोनों बढ़ गई। ऐसा नहीं कहता कि पद्मश्री रायसाहब के लिए मायने नहीं रखता। हां इतना जरूर है कि यह उनके लिए मील के एक पत्थर को पार कर सफर में आगे बढ़ जाने जैसा है। क्योंकि खुद राम बहादुर राय एक जीवंत मील के पत्थर हैं।

Read more...

राजनीति में अलग इतिहास बनाना चाहता हूं : मनोज तिवारी

गायन से करियर की शुरुआत करने वाले मनोज भोजपुरी सिनेमा का जानामाना चेहरा हैं। उन्होंने अनुराग कश्यप की सफल फिल्म ‘गैंग्स आफ वासेपुर’ के ‘जिया तू’ गाने में भी आवाज दी है। मनोज ने इससे सहमति जताई कि फिल्म और गायन से लोगों के बीच बनी उनकी छवि से उन्हें फायदा हुआ है।

Read more...

हिंदुत्‍व व राष्‍ट्रवाद की पैरोकार पार्ट...
हिंदुत्‍व व राष्‍ट्रवाद की पैरोकार पार्टी 'जनसंघ' के सहयोग से हुआ था अल्‍पसंख्‍यक आयोग का गठन!

संदीप देव।्य होगा कि इस देश में अल्‍पसंख्‍यकों, खासकर मुस्लिमों के तुष्टिकरण की बुनियाद पर खड़ी कांग्रेस ने अल्‍पसंख्‍यक आयोग का  गठन नहीं किया था। बल्कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी व कांग्रेस पार्टी की हार के [...]

मोदी के प्रधानमंत्री बनने से वामपंथी बुद...
मोदी के प्रधानमंत्री बनने से वामपंथी बुद्धिजीवियों में घबराहट

संदीप देव। वामपंथी इतिहासकार और विदेशी फंड पर पलने वाली रोमिला थापर को चिंता सता रही है कि नरेंद्र मोदी सरकार इतिहास की पुस्‍तकों में फेरबदल करवाएगी। जब वामपंथियों ने पूरे इतिहास में झूठ और अर्धसत्‍य भरा है तो सही [...]

अमित शाह और गडकरी ने लॉन्च किया 'सरबजीत'...
अमित शाह और गडकरी ने लॉन्च किया 'सरबजीत' का पोस्टर

बॉलीवुड एक्ट्रेस ऐश्वर्या राय बच्चन, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने सरबजीत सिंह की जीवन पर बनीं फिल्म 'सरबजीत' का पहला आधिकारिक पोस्टर को जारी किया। पोस्टर में सिर्फ ऐश्वर्या दिख रहीं है जो [...]

गौतम बुद्ध की जन्मतिथि का राज!...
गौतम बुद्ध की जन्मतिथि का राज!

नेपाल के लुम्बिनी में ऐसे सबूत मिल रहे हैं, जो महात्मा बुद्ध की जन्मतिथि पर चौंकाने वाले तथ्य सामने ला सकते हैं। लुम्बिनी में ही बुद्ध का जन्म हुआ था। शांत माहौल में पुरातत्वविदों का काम चल रहा है [...]

दक्षिण भारत की पहली 'टेस्ट ट्यूब बेबी' न...
दक्षिण भारत की पहली 'टेस्ट ट्यूब बेबी' ने मां बन कर रचा इतिहास!

चेन्‍नई। 24 साल पहले जिस कमला रत्नम को दक्ष‍िण भारत की पहली 'टेस्ट ट्यूब बेबी' बनने का सौभाग्य मिला था, वह अब खुद मां बन गई हैं. ऐसा भारत में पहली बार हुआ है. [...]

निर्देशन के क्षेत्र में फिर से वापसी करे...
निर्देशन के क्षेत्र में फिर से वापसी करेंगे आदित्य चोपड़ा

बॉलीवुड के जानेमाने फिल्मकार आदित्य चोपड़ा सात साल बाद फिल्म निर्देशन के क्षेत्र में वापसी करने जा रहे है. आदित्य ने वर्ष 2008 में प्रदर्शित फिल्म 'रब ने बना दी जोड़ी' का निर्देशन [...]

1966 का वह गो-हत्‍या बंदी आंदोलन, जिसमें...
1966 का वह गो-हत्‍या बंदी आंदोलन, जिसमें हजारों साधुओं को इंदिरा सरकार ने गोलियों से भुनवा दिया था! आंखों देखा वर्णन!

संदीप देव।दान और राष्ट्रीय ध्वज में मौजूद 'भगवा' रंग से पता नहीं कांग्रेस को क्‍या एलर्जी है कि वह आजाद भारत में संतों के हर आंदोलन को कुचलती रही है। आजाद भारत में [...]

दिल्‍ली में जिसने पूर्वांचल के वजूद को प...
दिल्‍ली में जिसने पूर्वांचल के वजूद को पहचाना, उसकी ही नैया पार लगी!

संदीप देव । मैकिंसे ग्लोबल इंस्टीटयूट के एक सर्वे के मुताबिक उत्‍तप्रदेश, बिहार व झारखंड के 126 जिले देश में सर्वाधिक पिछड़े हैं। दिल्‍ली में रहने वाले इन प्रदेशों के लोगों की स्थिति भी कमोबेश ऐसी [...]

दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!...
दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!

आधी आबादी ब्‍यूरो, नई दिल्ली। जंगल बनता जा रहा है। बच्चों के लिए खेलने के लिए जगह नहीं बची है। पार्क भी धीरे-धीरे खत्म होते जा रहे हैं। अभिभावकों की [...]

नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदे...
नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश

दिल्‍ली।  कमल इंसटिट्यूट ऑफ हायर एडूकेशन के छात्र और छात्राओ ने 'बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ ' अभियान पर नुक्कड नाटक का आयोजन किया। 22 जनवरी 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र [...]

असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के ब...
असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के बीच रहती हूं, लेकिन मैंने कभी भारत में भेदभाव महसूस नहीं किया!

सोफिया रंगवाला। पेशे से डॉक्टर हूं। बंगलोर में मेरी एक हाइ एण्ड लेजर स्किन क्लिनिक है। मेरा परिवार कुवैत में रहता है। मैं भी कुवैत में पली बढ़ी हूं लेकिन 18 साल [...]

प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम कर...
प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम करे, सूचना प्रसारण मंत्री को तो क्रिकेट डिप्‍लोमेसी से ही फुर्सत नहीं है!

संदीप देव।उटलुक पत्रिका के एक गलत खबर के कारण जो हंगामा हुआ और सदन को स्‍थगित करना पड़ा, इसका जिम्‍मेवार कौन है? क्‍या मोदी सरकार मीडिया के इस तरह के गैरजिम्‍मेवार और सबूत [...]

Other Articles