महिलाओं के लिए संभावनाओं से भरा है आभूषण उद्योग!

नई दिल्‍ली। जेम्‍स एंड ज्‍वेलरी उद्योग में अपार संभावनाओं के रहते हुए भी महिला उद्यमियों के समक्ष कदम-कदम पर चुनौतियां ही चुनौतियां हैं। पुरुषों के परंपरागत कारोबार वाले इस क्षेत्र में महिलाओं को उनके पूर्वग्रह से लेकर आभूषणों के निर्माण, विपणन, कच्‍चे माल, अप्रशिक्षित कामगार और रिटेल क्षेत्र में कई तरह की बाधाओं का सामना करना पड़ रहा है। कुछ समय पूर्व जेम्‍स एंड ज्‍वेलरी इंडस्‍ट्रीज में 10 वर्षों से काम कर रही महिला उद्यमियों और नवागंतुक के बीच फिक्‍की लेडीज आर्गेनाइजेशन (FLO) ने सर्वे किया। एफएलओ ने पाया कि इस उद्यम में महिलाओं के समक्ष ढेर सारी चुनौतियां हैं।

 

 दिल्‍ली में चुनौतियां ही चुनौतियां

'वुमन इंटरप्रेन्‍योर इंन जेम्‍स एंड ज्‍वेलरी सेक्‍टर' नामक इस सर्वेक्षण में यह बात भी सामने आया कि देश की राजधानी दिल्‍ली में इस क्षेत्र से जुड़ी महिलाओं को गुणवत्‍ता वाली जेम्‍सस्‍टोन हासिल करने में भारी मशक्‍कत का सामना करना पड़ता है, वहीं गुजरात में इस व्‍यवसाय के लिए सबसे अधिक अनुकूल माहौल है।

गुजरात दे रहा है सबसे बेहतरीन माहौल
रिपोर्ट के मुताबिक दिल्‍ली के लोगों का दिमाग अभी भी बेहद परंपरागत है। वो इस क्षेत्र में महिलाओं को आगे बढ़ने की राह में कई तरह की अड़चन पहुंचाते हैं। वहीं, इस उद्योग के लिए गुजरात सरकार देश के लिए रॉल मॉडल का काम कर रही है। गुजरात सरकार ने इस व्‍यवसाय के लिए न केवल मजबूत बुनियादी संरचना उपलब्‍ध कराया है, बल्कि इसके लिए बाजार भी विकसित किया है। वहां इस व्‍यवसाय के लिए बेहद अनुकूल माहौल है। जेम्‍स एंड ज्‍वेलरी उद्योग में गुजरात देश अव्‍वल है। देश से निर्यात होने वाले रत्‍न, पत्‍थर, मोती आदि के आभूषणों में 72 फीसदी हिस्‍सेदारी गुजरात की है।

नहीं मिल पा रही पर्याप्‍त वित्‍तीय सहायता
एफएलओ ने अपने सर्वे में पाया कि जेम्‍स एंड ज्‍वेलरी उद्योग को बैंकिंग सेक्‍टर का सहयोग मिलने के बावजूद यहां उद्यमियों को पर्याप्‍त वित्‍तीय सहायता नहीं मिल पा रहा है। उद्यमियों का मानना है कि यही हमें ग्‍लोबल परिस्‍पर्द्धा में बने रहना है तो सरकार को इस इंडस्‍ट्री की मदद के लिए और भी अधिक उदार नीति अपनाना होगा।

विकास की अपार संभावना
एफएलओ ने पाया है कि इस उद्योग में महिलाओं को बढ़ने की अपार संभावना है। अंतरराष्‍ट्रीय मानकों के अनुरूप आभूषणों के निर्माण के लिए इस सेक्‍टर का आधुनिकीकरण किया जाना बेहद जरूरी है। भारतीय उपभोक्‍ताओं, खासकर मध्‍यवर्ग की क्रय क्षमता में वृद्धि हुई, जिसे महिलाएं एक संभावना के रूप में ले सकती हैं और इस व्‍यवसाय में बिना संकोच उतर सकती हैं। जो महिला उद्यमी इस क्षेत्र में कार्यरत हैं, वो मानती हैं कि यह एक उम्‍मीद व लाभ से भरा उद्यम है।

भारत में ब्रांडेड ज्‍वेलरी का भविष्‍य उज्‍जवल
एफएलओ की रिपोर्ट के मुताबिक देश में ब्रांडेड ज्‍वेलरी का बाजार तेजी से विकसित हो रहा है। खासकर हीरा जडि़त सोने के जेवरात की मांग बढ़ती जा रही है। ऐसी योजना बननी चाहिए जिससे कि ब्रांडेड ज्‍वेलरी का बाजार और तेजी से बढ़ सके।

सरकार सहयोग के लिए आगे आए
सर्वे के आधार पर एफएलओ ने सरकार को संस्‍तुति दी है कि वो इस क्षेत्र के विकास के निए नई नीति लेकर आए ताकि महिलाएं जेम्‍स एंड ज्‍वेलरी उद्यम में अपना करियर बना सकें। प्रशिक्षित कामगारों की कमी को दूर करने के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाया जाना चाहिए। उद्यमियों ने यह राह भी सुझाया है कि लगातार बेहतरी व हुनर बढ़ाने के लिए जगह-जगह केंद्र भी स्‍थापित किया जाना चाहिए। एफएलओ ने सरकार को भेजे अपनी रिपोर्ट में कहा है कि महिला उद्यमियों के लिए सरकार को विशेष कदम उठाए जाने की जरूरत है।

निष्‍कर्ष
एफएलओ का निष्‍कर्ष है कि जेम्‍स एंड ज्‍वेलरी उद्योग में महिला उद्यमियों के लिए एक प्‍लेटफॉर्म विकसित होना चाहिए जहां राष्‍ट्रीय व अंतरराष्‍ट्रीय पर पार्टनरशिप, बाजार चेन और नेटवर्क विकसित करने में उन्‍हें मदद मिल सके।

यह जम्‍मू-कश्‍मीर के बंटवारे की पटकथा तो...
यह जम्‍मू-कश्‍मीर के बंटवारे की पटकथा तो नहीं!

संदीप देव।ं भाजपा-पीडीपी के बीच गठबंधन का बहुत ज्‍यादा विरोध भी हो रहा है और समर्थन भी। मुझे लगता है मौका दिया जाना चाहिए, क्‍योंकि आप दिल्‍ली में बैठकर विरोध तो कर रहे हैं लेकिन [...]

जब कल रात मैं एक कांग्रेसी निर्देशक की अ...
जब कल रात मैं एक कांग्रेसी निर्देशक की असहिष्‍णुता का शिकार हुआ!

‎संदीपदेव‬।्‍णुता की चर्चा चल रही है। हां, यह सच है कि देश में असहिष्‍णुता बढ़ी है, लेकिन इस असहिष्‍णुता को देखना है तो आप कांग्रेसी और वामपंथी विचारकों, पत्रकारों, कलाकारों, [...]

लंबे समय तक शारीरिक संबंध बनाने से इनकार...
लंबे समय तक शारीरिक संबंध बनाने से इनकार बन सकता है तलाक का आधारः सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने व्यवस्था दी है कि लंबे समय तक जीवनसाथी को सेक्स करने की अनुमति नहीं देना मानसिक क्रूरता है और यह तलाक का आधार हो सकता है।

विश्व में नंबर एक रैंकिंग हासिल करने वाल...
विश्व में नंबर एक रैंकिंग हासिल करने वाली पहली भारतीय महिला बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल

साइना नेहवाल दुनिया की नंबर वन रैंकिंग हासिल करने वाली पहली भारतीय महिला बैडमिंटन खिलाड़ी बन गई। उन्‍होंने यह खितान स्पेन की कैरोलिना मारिन को इंडिया ओपन सुपर सीरिज के सेमीफाइनल में हरा कर हासिल किया। नेहवाल ने इंडिया ओपन [...]

हमारी शिक्षा से भारतीय जीवन पद्धति गायब ...
हमारी शिक्षा से भारतीय जीवन पद्धति गायब है: वेंकैया नायडु

आधी आबादी ब्‍यूरो।े कहा कि देश को आजाद हुए 67 साल हो चुके हैं, लेकिन आज तक इस देश में सही शिक्षा पॉलिसी का अभाव है। शिक्षा का लक्ष्‍य चरित्र निर्माण होना [...]

हाशिमपुरा ने मुसलमानों को सोचने का अवसर ...

संदीप देव। मामले में अदालत का फैसला आया। पीडि़तों को इंसाफ नहीं मिला। लेकिन लाख टके का सवाल यह है कि खुद को धर्मनिरपेक्षता के झंडबदार के रूप में खुद को पेश करने वाली कांग्रेस और उसी कांग्रेस [...]

डॉ कलाम के राष्‍ट्रपति बनने का वामपंथियो...
डॉ कलाम के राष्‍ट्रपति बनने का वामपंथियों ने विरोध किया था और आज उनकी मृत्‍यु के बाद उनके प्रति घृणा भरे पोस्‍ट भी वामपंथी ही लिख रहे हैं!

संदीप देव।. कलाम ने राष्‍ट्रपति पद के लिए नामांकन किया था तो उनका एक मात्र विरोध देश के वामपंथी पार्टियों ने किया था। आज जब डॉ. कलाम हमारे बीच [...]

महिलाओं की माहवारी पर बीबीसी हिंदी की पे...
महिलाओं की माहवारी पर बीबीसी हिंदी की पेशकश: ‘ढाई लोटे पानी से ढाई दिन माहवारी होगी’

अदिति गुप्ता संस्थापक, मेंस्ट्रूपीडिया डॉट कॉम।ाम भी साथ ही होता था. धीरे-धीरे हम गर्लफ्रेंड और ब्वॉयफ्रेंड बने. मेरा साथी [...]

दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!...
दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!

आधी आबादी ब्‍यूरो, नई दिल्ली। जंगल बनता जा रहा है। बच्चों के लिए खेलने के लिए जगह नहीं बची है। पार्क भी धीरे-धीरे खत्म होते जा रहे हैं। अभिभावकों की [...]

नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदे...
नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश

दिल्‍ली।  कमल इंसटिट्यूट ऑफ हायर एडूकेशन के छात्र और छात्राओ ने 'बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ ' अभियान पर नुक्कड नाटक का आयोजन किया। 22 जनवरी 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र [...]

असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के ब...
असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के बीच रहती हूं, लेकिन मैंने कभी भारत में भेदभाव महसूस नहीं किया!

सोफिया रंगवाला। पेशे से डॉक्टर हूं। बंगलोर में मेरी एक हाइ एण्ड लेजर स्किन क्लिनिक है। मेरा परिवार कुवैत में रहता है। मैं भी कुवैत में पली बढ़ी हूं लेकिन 18 साल [...]

प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम कर...
प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम करे, सूचना प्रसारण मंत्री को तो क्रिकेट डिप्‍लोमेसी से ही फुर्सत नहीं है!

संदीप देव।उटलुक पत्रिका के एक गलत खबर के कारण जो हंगामा हुआ और सदन को स्‍थगित करना पड़ा, इसका जिम्‍मेवार कौन है? क्‍या मोदी सरकार मीडिया के इस तरह के गैरजिम्‍मेवार और सबूत [...]

Other Articles