सिनेमा

अमित शाह और गडकरी ने लॉन्च किया 'सरबजीत' का पोस्टर

बॉलीवुड एक्ट्रेस ऐश्वर्या राय बच्चन, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने सरबजीत सिंह की जीवन पर बनीं फिल्म 'सरबजीत' का पहला आधिकारिक पोस्टर को जारी किया। पोस्टर में सिर्फ ऐश्वर्या दिख रहीं है जो अपनी ग्लैमरस इमेज से एकदम उलट गंभीर और शांत नजर आ रही हैं।

Read more...

आरुषि मर्डर केस पर बनी फिल्‍म 'तलवार' कसी हुई पटकथा के साथ एक बेहतरीन फिल्‍म

चंद्रमोहन शर्मा, नवभारत टाइम्‍स। करीब 7 साल पहले देश की राजधानी से सटे नोएडा में एक ऐसा दोहरा मर्डर केस हुआ जिसने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया। ऐसा शायद पहली बार हुआ जब देश की नंबर वन जांच एजेंसी सीबीआई ने इस केस की एक नहीं, दो बार अलग-अलग एंगल से जांच की और उसके बाद भी किसी निष्कर्ष पर नहीं पहुंच पाई। ताज्जुब होता है कि एक ऐसी दोहरी हत्या की गुत्थी जो सिर्फ चार लोगों के आसपास टिकी, इनमें से भी दो इस दुनिया में नहीं हैं और बाकी बचे दो पर पुलिस और खूफिया एजेंसियां बरसों बाद भी एकमत नहीं हो पाईं। शायद यही वजह रही बॉलिवुड में हर बार कुछ अलग और लीक से हटकर फिल्म बनाने में अपनी पहचान बना चुके विशाल भारद्वाज ने ऐसे संवेदनशील मसले पर फिल्म बनाने का फैसला किया।

Read more...

निर्देशन के क्षेत्र में फिर से वापसी करेंगे आदित्य चोपड़ा

बॉलीवुड के जानेमाने फिल्मकार आदित्य चोपड़ा सात साल बाद फिल्म निर्देशन के क्षेत्र में वापसी करने जा रहे है. आदित्य ने वर्ष 2008 में प्रदर्शित फिल्म 'रब ने बना दी जोड़ी' का निर्देशन किया था .इसके बाद आदित्य सात साल बाद फिल्म 'बेफिक्रे' के निर्देशन से वापसी कर रहे हैं. आदित्य ने पिता दिवंगत फिल्मकार यश चोपड़ा की 83वीं जयंती पर फिल्म का नाम बताया. आदित्य ने इसे अपने करियर की सबसे रिस्की फिल्म करार दिया है.

Read more...

बॉलिवुड को उद्योग का दर्जा एनडीए ने दिया था, लेकिन फिल्‍मवालों के निशाने पर हमेशा भाजपा ही रहती है!

आधीआबादी ब्‍यूरो। फिल्‍मों को लेकर फिल्‍म इंडस्‍ट्रीज वाले अधिकांश लोगों का रवैया भाजपा सरकार की आलोचना करना ही रहा है। लेकिन फिल्‍म इंडस्‍ट्रीज को पहली बार उद्योग का दर्जा एनडीए की वाजपेयी सरकार ने ही दिया था, जिसके बाद बैंकों व शेयर बाजार से कर्ज लेकर करोड़ों की लागत से फिल्‍म बनाने और करोड़ों कमाने का रास्‍ता खुला। कांग्रेस के राज में तो फिल्‍म में भी दाउद जैसे लोगों का कालाधन ही लगता था। सच पूछिए तो कांग्रस की माया ही पूरी तरह से काला धन रही है और हर उद्योग को उसने बैक डोर से ही चलाने की कोशिश की है।

 

Read more...

शशि कपूर एक फिल्‍म में तौलिया में बाथरूम में जाते और दूसरी फिल्‍म में पैंट का बटन लगाते हुए बाहर निकलते!

भारत सरकार ने मशहूर फिल्म अभिनेता और निर्माता शशि कपूर को फिल्मों में उनके योगदान के लिए दादा साहब फाल्के पुरस्कार देने की घोषणा की है। शशि कपूर हिंदी सिनेमा के युगपुरुष कहे जाने वाले महान कलाकार पृथ्वीराज कपूर के सबसे छोटे बेटे और राज कपूर और शम्मी कपूर के भाई हैं। शशि कपूर का जन्म 18 मार्च 1938 को कोलकाता में हुआ। उनका असली नाम बलबीर राज कपूर है। वह अभिनेता बनना चाहते थे, लेकिन इसमें उनके पिता ने सहयोग नहीं किया, क्योंकि उनका मानना था कि शशि कपूर संघर्ष करें और अपनी मेहनत से अभिनेता बनें।

Read more...

तथ्‍य न मेरे होते हैं और न तुम्‍हारे...।...

संदीप देव।ॉसोपी को न समझने वाले मुझ पर लगातार हमलावर हैं। वो समझ नहीं पा रहे हैं कि मैं किस विचारधारा का हूं, इसलिए पूछते रहते हैं कि आपने पहले तो फलां व्‍यक्ति की ओलाचना की [...]

Aurangzeb‬ के लिए बेचैन आधुनिक 'सलातीन' ...
Aurangzeb‬ के लिए बेचैन आधुनिक 'सलातीन' (हरम की संतान) !

संदीपदेव‬। ने मुगलों की महानता साबित करने के लिए हम सभी से यह छुपाया कि मुगलों के हरम की पैदाइश अर्थात नाजायज संतानों को कहां और किस हालत में रखा जाता था। एक-एक मुगल बादशाह के हजार [...]

आजाद भारत का इतिहास राजनैतिक हत्‍याओं का...
आजाद भारत का इतिहास राजनैतिक हत्‍याओं का इतिहास है, जिसमें सभी दल शामिल हैं!

संदीप देव।ना पढ़ता जा रहा हूं, मेरी तकलीफ उतना ही बढ़ती जा रही है। मैंने आप सभी को '' अपना वास्‍तविक इतिहास जानो'' मुहिम का हिस्‍सा बनाना चाहा था, लेकिन [...]

ज्योतिष पर ओशो के विचार...
ज्योतिष पर ओशो के विचार

ओशो। ज्योतिष के नाम पर सौ में से निन्यानबे धोखाधड़ी है। और वह जो सौवां आदमी है, निन्यानबे को छोड़ कर उसे समझना बहुत मुश्किल है। क्योंकि वह कभी इतना डागमेटिक नहीं हो सकता कि कह दे कि ऐसा [...]

हमारी शिक्षा से भारतीय जीवन पद्धति गायब ...
हमारी शिक्षा से भारतीय जीवन पद्धति गायब है: वेंकैया नायडु

आधी आबादी ब्‍यूरो।े कहा कि देश को आजाद हुए 67 साल हो चुके हैं, लेकिन आज तक इस देश में सही शिक्षा पॉलिसी का अभाव है। शिक्षा का लक्ष्‍य चरित्र निर्माण होना [...]

संभोग के लिए जा रही महिलाओं के मन में आख...
संभोग के लिए जा रही महिलाओं के मन में आखिर उस वक्‍त क्‍या चलता है!

एक आम महिला का सेक्स संबंधित बिहेवियर हमेशा से रहस्य के समान रहा है. यही कारण है कि उसकी सेक्स संबंधित गतिविधि को समझने के लिए कई रिसर्च किये जाते रहते हैं. खासकर साथी चुनने और सेक्स बिहेवियर [...]

योग गुरु से बिजनस टाइकून बने बाबा रामदेव...
योग गुरु से बिजनस टाइकून बने बाबा रामदेव, 2000 करोड़ का FMCG कारोबार

नई दिल्ली। भले ही योग और एफएमसीजी का संयोजन एक-दूसरे से एकदम उलट हो (योग आंतरिक शांति के लिए और एफएमसीजी बाहरी सौंदर्य के लिए) लेकिन बाबा रामदेव ने इन दोनों ही क्षेत्रों में एकदम सटीक ' [...]

अमेरिकन व स्‍केनडिनेवियन ग्रीनपीस एनजीओ ...
अमेरिकन व स्‍केनडिनेवियन ग्रीनपीस एनजीओ और अरविंद केजरीवाल के रिश्‍ते को समझिए!

संदीप देव।न और स्‍केनडिनेवियन (नार्वे, स्‍वीडन, डेनमार्क) की एनजीओ 'ग्रीनपीस' की भारत में पदाधिकारी प्रीया पिल्‍लई को लंदन जाने के क्रम में दिल्‍ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्‍ट्रीय हवाई अडडे पर [...]

दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!...
दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!

आधी आबादी ब्‍यूरो, नई दिल्ली। जंगल बनता जा रहा है। बच्चों के लिए खेलने के लिए जगह नहीं बची है। पार्क भी धीरे-धीरे खत्म होते जा रहे हैं। अभिभावकों की [...]

नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदे...
नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश

दिल्‍ली।  कमल इंसटिट्यूट ऑफ हायर एडूकेशन के छात्र और छात्राओ ने 'बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ ' अभियान पर नुक्कड नाटक का आयोजन किया। 22 जनवरी 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र [...]

असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के ब...
असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के बीच रहती हूं, लेकिन मैंने कभी भारत में भेदभाव महसूस नहीं किया!

सोफिया रंगवाला। पेशे से डॉक्टर हूं। बंगलोर में मेरी एक हाइ एण्ड लेजर स्किन क्लिनिक है। मेरा परिवार कुवैत में रहता है। मैं भी कुवैत में पली बढ़ी हूं लेकिन 18 साल [...]

प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम कर...
प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम करे, सूचना प्रसारण मंत्री को तो क्रिकेट डिप्‍लोमेसी से ही फुर्सत नहीं है!

संदीप देव।उटलुक पत्रिका के एक गलत खबर के कारण जो हंगामा हुआ और सदन को स्‍थगित करना पड़ा, इसका जिम्‍मेवार कौन है? क्‍या मोदी सरकार मीडिया के इस तरह के गैरजिम्‍मेवार और सबूत [...]

Other Articles