सिनेमा

अमित शाह और गडकरी ने लॉन्च किया 'सरबजीत' का पोस्टर

बॉलीवुड एक्ट्रेस ऐश्वर्या राय बच्चन, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने सरबजीत सिंह की जीवन पर बनीं फिल्म 'सरबजीत' का पहला आधिकारिक पोस्टर को जारी किया। पोस्टर में सिर्फ ऐश्वर्या दिख रहीं है जो अपनी ग्लैमरस इमेज से एकदम उलट गंभीर और शांत नजर आ रही हैं।

Read more...

आरुषि मर्डर केस पर बनी फिल्‍म 'तलवार' कसी हुई पटकथा के साथ एक बेहतरीन फिल्‍म

चंद्रमोहन शर्मा, नवभारत टाइम्‍स। करीब 7 साल पहले देश की राजधानी से सटे नोएडा में एक ऐसा दोहरा मर्डर केस हुआ जिसने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया। ऐसा शायद पहली बार हुआ जब देश की नंबर वन जांच एजेंसी सीबीआई ने इस केस की एक नहीं, दो बार अलग-अलग एंगल से जांच की और उसके बाद भी किसी निष्कर्ष पर नहीं पहुंच पाई। ताज्जुब होता है कि एक ऐसी दोहरी हत्या की गुत्थी जो सिर्फ चार लोगों के आसपास टिकी, इनमें से भी दो इस दुनिया में नहीं हैं और बाकी बचे दो पर पुलिस और खूफिया एजेंसियां बरसों बाद भी एकमत नहीं हो पाईं। शायद यही वजह रही बॉलिवुड में हर बार कुछ अलग और लीक से हटकर फिल्म बनाने में अपनी पहचान बना चुके विशाल भारद्वाज ने ऐसे संवेदनशील मसले पर फिल्म बनाने का फैसला किया।

Read more...

निर्देशन के क्षेत्र में फिर से वापसी करेंगे आदित्य चोपड़ा

बॉलीवुड के जानेमाने फिल्मकार आदित्य चोपड़ा सात साल बाद फिल्म निर्देशन के क्षेत्र में वापसी करने जा रहे है. आदित्य ने वर्ष 2008 में प्रदर्शित फिल्म 'रब ने बना दी जोड़ी' का निर्देशन किया था .इसके बाद आदित्य सात साल बाद फिल्म 'बेफिक्रे' के निर्देशन से वापसी कर रहे हैं. आदित्य ने पिता दिवंगत फिल्मकार यश चोपड़ा की 83वीं जयंती पर फिल्म का नाम बताया. आदित्य ने इसे अपने करियर की सबसे रिस्की फिल्म करार दिया है.

Read more...

बॉलिवुड को उद्योग का दर्जा एनडीए ने दिया था, लेकिन फिल्‍मवालों के निशाने पर हमेशा भाजपा ही रहती है!

आधीआबादी ब्‍यूरो। फिल्‍मों को लेकर फिल्‍म इंडस्‍ट्रीज वाले अधिकांश लोगों का रवैया भाजपा सरकार की आलोचना करना ही रहा है। लेकिन फिल्‍म इंडस्‍ट्रीज को पहली बार उद्योग का दर्जा एनडीए की वाजपेयी सरकार ने ही दिया था, जिसके बाद बैंकों व शेयर बाजार से कर्ज लेकर करोड़ों की लागत से फिल्‍म बनाने और करोड़ों कमाने का रास्‍ता खुला। कांग्रेस के राज में तो फिल्‍म में भी दाउद जैसे लोगों का कालाधन ही लगता था। सच पूछिए तो कांग्रस की माया ही पूरी तरह से काला धन रही है और हर उद्योग को उसने बैक डोर से ही चलाने की कोशिश की है।

 

Read more...

शशि कपूर एक फिल्‍म में तौलिया में बाथरूम में जाते और दूसरी फिल्‍म में पैंट का बटन लगाते हुए बाहर निकलते!

भारत सरकार ने मशहूर फिल्म अभिनेता और निर्माता शशि कपूर को फिल्मों में उनके योगदान के लिए दादा साहब फाल्के पुरस्कार देने की घोषणा की है। शशि कपूर हिंदी सिनेमा के युगपुरुष कहे जाने वाले महान कलाकार पृथ्वीराज कपूर के सबसे छोटे बेटे और राज कपूर और शम्मी कपूर के भाई हैं। शशि कपूर का जन्म 18 मार्च 1938 को कोलकाता में हुआ। उनका असली नाम बलबीर राज कपूर है। वह अभिनेता बनना चाहते थे, लेकिन इसमें उनके पिता ने सहयोग नहीं किया, क्योंकि उनका मानना था कि शशि कपूर संघर्ष करें और अपनी मेहनत से अभिनेता बनें।

Read more...

मेरे लिए पंडित मदनमोहन मालवीय और अटलबिहा...
मेरे लिए पंडित मदनमोहन मालवीय और अटलबिहारी वाजपेयी का अर्थ!

संदीप देव। खुशी का दिन है। पंडित मदनमोहन मालवीय जी को भारतरत्‍न मिलना गर्व की बात तो है ही, मुझे इसका गर्व ज्‍यादा है कि जिस काशी हिंदू विश्‍वविद्यालय की उन्‍होंने स्‍थापना की, मैं [...]

असहिष्णुता: काश! सोनिया मैडम और आमिर खान...
असहिष्णुता: काश! सोनिया मैडम और आमिर खान तक कोई इस सच्चाई को पहुँचा दे!

संदीप देव।ंग्रेस समर्थक व आमिर-शाहरुख जैसे मुसलमान किस मुंह से सहिष्णुता की बात करते हैं? आपातकाल के दौरान इंदिरा-संजय गांधी ने दिल्ली की जनता, खासकर मुसलमानों पर इतना अधिक जुल्म ढाया था [...]

कानून के फंदे से हर बार निकलने में सफल र...
कानून के फंदे से हर बार निकलने में सफल रही तीस्‍ता सीतलवाड़!

संदीप देव।, तीस्‍ता सीतलवाड़ की भविष्‍य में होने वाली गिरफतारी न जाने कितने मीडिया हाउस, पत्रकारों, एनजीओकर्मी, वामपंथी बुद्धिजीवी, न्‍यायपालिका के कुछ धुरंधर और विदेशी फंडिंग देने वाले सरगनाओं के [...]

याकूब मेनन के जनाजे में शामिल हर व्‍यक्त...
याकूब मेनन के जनाजे में शामिल हर व्‍यक्ति अलगाववादी या फिर आतंक समर्थक था!

संदीपदेव‬।ल तथागत राय ने सही ट्वीट किया है कि याकूब की मैय्यत में शामिल हर व्यक्ति आतंकवादी हो सकता है। उन पर आईबी को नजर रखनी चाहिए। इतिहास गवाह है कि सन् 1937 [...]

मैं शादीशुदा जिंदगी में बहुत खुश हूं: कर...
मैं शादीशुदा जिंदगी में बहुत खुश हूं: करीना कपूर

सैफ अली खान से शादी करने के बाद बॉलीवुड में करियर प्रभावित होने के सवाल पर करीना कपूर ने कहा है कि वह अन्य अभिनेत्रियों के विपरीत शादी करके खुश हैं. उनका कहना है कि वह अब भी सलमान [...]

बम फोड़ने वाले का कोई मजहब नहीं होता, ले...
बम फोड़ने वाले का कोई मजहब नहीं होता, लेकिन सजा मिलते ही उसके नाम का कलमा पढने वालों की बाढ़ आ जाती है! कमाल है!

संदीपदेव‬। और मजहब का होता तो क्‍या मीडिया वाले उसके पक्ष में इस तरह का अभियान चलाते? सुप्रीम कोर्ट का एक पूर्व जस्टिस अंग्रेजी अखबार में उसके लिए लेख लिखता? एक फिल्‍म स्‍टार दनादन [...]

फेसबुक पर पनपे प्रेम ने उसे देश का गद्दा...
फेसबुक पर पनपे प्रेम ने उसे देश का गद्दार बना दिया!

नई दिल्ली/लखनऊ। ‘इश्क ने गालिब निकम्मा कर दिया वर्ना आदमी हम भी काम के थे’ कुछ ऐसा ही हुआ है सेना के जवान सुनीत कुमार के साथ. फौजी से आइएसआइ एजेंट बनने की कहानी नाटकों से भी ज्यादा नाटकीय [...]

चर्च के साम्राज्यवाद का खुलासा करती पुस्...
चर्च के साम्राज्यवाद का खुलासा करती पुस्तक  'ऊँटेश्वरी माता का महंत'

आधीआबादी ब्‍यूरो। भी नही है कि एक ईसाई संगठन से जुड़े कैथोलिक विश्वासी पी.बी.लोमियों की हाल ही में आई पुस्तक 'ऊँटेश्वरी माता का महंत' ने ईसाई समाज के अंदर [...]

दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!...
दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!

आधी आबादी ब्‍यूरो, नई दिल्ली। जंगल बनता जा रहा है। बच्चों के लिए खेलने के लिए जगह नहीं बची है। पार्क भी धीरे-धीरे खत्म होते जा रहे हैं। अभिभावकों की [...]

नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदे...
नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश

दिल्‍ली।  कमल इंसटिट्यूट ऑफ हायर एडूकेशन के छात्र और छात्राओ ने 'बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ ' अभियान पर नुक्कड नाटक का आयोजन किया। 22 जनवरी 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र [...]

असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के ब...
असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के बीच रहती हूं, लेकिन मैंने कभी भारत में भेदभाव महसूस नहीं किया!

सोफिया रंगवाला। पेशे से डॉक्टर हूं। बंगलोर में मेरी एक हाइ एण्ड लेजर स्किन क्लिनिक है। मेरा परिवार कुवैत में रहता है। मैं भी कुवैत में पली बढ़ी हूं लेकिन 18 साल [...]

प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम कर...
प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम करे, सूचना प्रसारण मंत्री को तो क्रिकेट डिप्‍लोमेसी से ही फुर्सत नहीं है!

संदीप देव।उटलुक पत्रिका के एक गलत खबर के कारण जो हंगामा हुआ और सदन को स्‍थगित करना पड़ा, इसका जिम्‍मेवार कौन है? क्‍या मोदी सरकार मीडिया के इस तरह के गैरजिम्‍मेवार और सबूत [...]

Other Articles