विज्ञापन जगत

एक न्‍यूड मॉडल की दास्‍तान: मजबूरी में उतारती हूं अपने कपड़े

गंदी गली कूचों से निकलकर करिश्मा (परिवर्तित नाम) साइकिल पर सवार शहर के साफ-सुथरे इलाके में पहुँचती हैं। वदोदरा विश्वविद्यालय का ललित कला विभाग। यहां नौजवान लड़के लड़कियों की जमात करिश्मा का इंतजार कर रही है, रंग, कूची और खाली कैनवासों के साथ।

बीस साल की दुबली पतली गुंथे हुए बालों और काजल से भरी आंखों वाली करिश्मा इस विभाग और विश्वविद्यालय की एकमात्र न्यूड मॉडल या नग्न मॉडल हैं। वे इस पेशे को पूरे परिवार औऱ समाज से छुपा कर करती है। चित्रकला की कक्षाओं में मानव देह संरचना की पढ़ाई न्यूड मॉडल्स की मदद से ही करवाई जाती है।

Read more...

मुगल सल्‍तनत के आखिरी वारिशों का हश्र या...

संदीपदेव‬।ासन करने वाले मुगल साम्राज्‍य के शासक भी बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार की तरह अहंकार से भरे थे, उन्‍हें सत्‍ता का गुमान था, लालू यादव के 'भूराबाल [...]

औरंगजेब‬: भारत विभाजन पर पहला हस्‍ताक्षर...
औरंगजेब‬: भारत विभाजन पर पहला हस्‍ताक्षर!

‪‎संदीप देव‬।ं। उन्‍होंने गुलाम वंश की शासक रजिया सुल्‍तान पर बीबीसी हिंदी के लिए एक रिपोर्ट लिखी है। रजिया या उनके पिता इल्‍तुतमिश आदि सभी के लिए कितने सम्‍मान से उन्‍होंने लिखा है। 'आप' [...]

Anti-development activities by the NGOs ...
Anti-development activities by the NGOs in India

As a first step to fast-tracking develop [...]

भारत को कुछ बनने की जरूरत नहीं, भारत को ...
भारत को कुछ बनने की जरूरत नहीं, भारत को भारत ही बनना चाहिए: नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली।द्र मोदी ने अपनी अमेरिका यात्रा से पहले सीएनएन के वरिष्ठ पत्रकार फरीद जकारिया को एक्सक्लूसिव इंटरव्यू दिया। पढ़िए उस इंटरव्यू के सवालों के जवाबः-

बोलने की आजादी का मतलब चुप रहने का हक भी...
बोलने की आजादी का मतलब चुप रहने का हक भी होता है: शाहरुख खान

शाहरुख खान इन दिनों अपनी फिल्म ‘फैन’ के प्रमोशन में बिजी हैं। सोमवार को यहां फिल्म के ट्रेलर लॉन्च के दौरान उन्होंने कहा कि बोलने की आजादी का मतलब चुप रहने का हक भी होता है। मीडिया ने इन्टॉलरेंस के [...]

औरंगजेब इस देश का पहला बादशाह था, जिसने ...
औरंगजेब इस देश का पहला बादशाह था, जिसने दस्‍तावेजी रूप से भारत का विभाजन किया!

‪‎संदीपदेव‬।खने और उसके क्रूर करतूतों को एक विशेषांक पत्रिका निकाल कर जन-जन तक पहुंचाने की मुहिम क्‍या मैंने छेड़ी, मेरे कई मुसलमान मित्र मुझसे नाराज [...]

प्रधानमंत्री के नाम पत्र: चर्च की तरह सं...
प्रधानमंत्री के नाम पत्र: चर्च की तरह संत गोपाल दास को भी सुन लीजिए!

नई दिल्‍ली।िस आयुक्‍त बस्‍सी को केवल इसलिए तलब कर लिया कि वसंत विहार के होली चाइल्ड ऑक्सीलम स्कूल में प्रिंसिपल के दफ्तर में तोड़फोड़ की घटना हुई है, लेकिन गो-वध बंदी के लिए आंदोलन [...]

याकूब मेनन के जनाजे में शामिल हर व्‍यक्त...
याकूब मेनन के जनाजे में शामिल हर व्‍यक्ति अलगाववादी या फिर आतंक समर्थक था!

संदीपदेव‬।ल तथागत राय ने सही ट्वीट किया है कि याकूब की मैय्यत में शामिल हर व्यक्ति आतंकवादी हो सकता है। उन पर आईबी को नजर रखनी चाहिए। इतिहास गवाह है कि सन् 1937 [...]

दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!...
दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!

आधी आबादी ब्‍यूरो, नई दिल्ली। जंगल बनता जा रहा है। बच्चों के लिए खेलने के लिए जगह नहीं बची है। पार्क भी धीरे-धीरे खत्म होते जा रहे हैं। अभिभावकों की [...]

नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदे...
नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश

दिल्‍ली।  कमल इंसटिट्यूट ऑफ हायर एडूकेशन के छात्र और छात्राओ ने 'बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ ' अभियान पर नुक्कड नाटक का आयोजन किया। 22 जनवरी 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र [...]

असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के ब...
असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के बीच रहती हूं, लेकिन मैंने कभी भारत में भेदभाव महसूस नहीं किया!

सोफिया रंगवाला। पेशे से डॉक्टर हूं। बंगलोर में मेरी एक हाइ एण्ड लेजर स्किन क्लिनिक है। मेरा परिवार कुवैत में रहता है। मैं भी कुवैत में पली बढ़ी हूं लेकिन 18 साल [...]

प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम कर...
प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम करे, सूचना प्रसारण मंत्री को तो क्रिकेट डिप्‍लोमेसी से ही फुर्सत नहीं है!

संदीप देव।उटलुक पत्रिका के एक गलत खबर के कारण जो हंगामा हुआ और सदन को स्‍थगित करना पड़ा, इसका जिम्‍मेवार कौन है? क्‍या मोदी सरकार मीडिया के इस तरह के गैरजिम्‍मेवार और सबूत [...]

Other Articles