बचपन से ही बोल्‍ड ख्‍यालात की थी कंगना रनौत

कंगना रनौत भले ही फिल्मफेयर और नैशनल अवॉर्ड जीतने के बाद बॉलिवुड की क्वीन बन गई हों, लेकिन उनके लिए मायानगरी का सफर जरा-भी आसान नहीं रहा है। अपने ख्वाब को पूरा करने के लिए कंगना को बहुत कुछ करना पड़ा और बहुत दर्द भी सहने पड़े। आइए, डालते हैं कंगना के उस सफर पर नजर जो कभी फिल्मों के रुपहले पर्दे पर नजर नहीं आया।

 

दो नैशनल अवॉर्ड जीत चुकीं कंगना रनौत का जन्म 23 मार्च, 1987 को हिमाचल प्रदेश के एक छोटे से अनजान जिले में हुआ, जिसे अब सुरजपुर के नाम से जाना जाता है। कंगना की मां आशा स्कूल टीचर और पिता अमरदीप व्यापारी हैं।

कंगना बचपन से ही बोल्ड खयालातों की थीं। कंगना ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया था कि उनके पापा जब उनके भाई के लिए प्लास्टिक गन और कंगना के लिए बॉल लाकर देते थे तो वह सवाल कर देती थीं कि यह फर्क क्यों किया जा रहा है।

कंगना के परिवार वाले चाहते थे कि वह साइंस की पढ़ाई करें, लेकिन कंगना बेहद इमोशनल और सेंसिटिव थीं। उन्हें स्कल्पचर्स बनाने का शौक था, हालांकि किस्मत को कुछ और ही मंजूर था।

बॉम्बे टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, जब कंगना 15 साल की थीं, तब उनके पिता ने पहली बार उन्हें झापड़ मारा। इस पर रोने या बिलखने की बजाय कंगना ने कह दिया था कि अगर दोबारा उनके पापा ने थप्पड़ मारा तो वह भी उन्हें थप्पड़ मार देंगी।
बॉम्बे टाइम्स के मुताबिक, कंगना की उनके पापा से नहीं बनी। झापड़ वाली बात के बाद उनके पापा ने कंगना से घर छोड़ने को कह दिया और कंगना भी सामान पैक करके अपने 10 साल बड़े एक दोस्त जसप्रीत के घर चली गईं। इसके बाद कंगना ने मॉडलिंग शुरू की और अस्मिता थियेटर ग्रुप से भी जुड़ गईं। कंगना ने यह भी कहा था कि उन्होंने खाने और रहने के लिए वह सब कुछ किया जो वह कर सकती थीं।

बॉम्बे टाइम्स के मुताबिक, जब कंगना अकेले रहने लगीं तो उनके पापा उन्हें 50 हजार रुपये देने गए ताकि उनका खर्च चल सके लेकिन कंगना ने पैसे लेने से मना कर दिया। इसके बाद, बाप-बेटी का रिश्ता और भी तल्ख हो गया।

कंगना रणौत को उनकी पहली फिल्म गैंगस्टर किस्मत से मिली। कंगना ने अनुपम खेर के एक शो कुछ भी हो सकता है में खुलासा किया कि फिल्म हजारों ख्वाहिशें ऐसी के बाद शाइनी आहूजा हिट हो गए थे और भट्ट कैंप उन्हें गैंगस्टर के लिए साइन कर चुका था। शाइनी के साथ कंगना उम्र में काफी छोटी लग रही थीं इसलिए चित्रांगदा को साइन कर लिया गया। लेकिन फिर भाग्य पलटा और चित्रांगदा ने उसी दौरान फिल्म इंडस्ट्री को अलविदा कहने का मन बना लिया। फिर क्या था, कंगना को मेकअप से बड़ा किया गया और उन्हें सुपरहिट शुरुआत मिल गई।

जब कंगना ने गैंगस्टर में इमरान हाशमी के साथ बोल्ड किसिंग सीन दिया, तो उनके परिवार को गहरा धक्का पहुंचा। उनके दादा ने तो उन्हें यहां तक मेसेज कर दिया कि वह अपना सरनेम ही बदल लें।

कंगना ने अपनी निजी जिंदगी से जूझते हुए कामयाबी की सीढ़ियां तो चढ़ीं लेकिन फिर उनके सामने एक संघर्ष का दौर आ गया। यह वह दौर था, जब कंगना मुंबई शिफ्ट हुई थीं। लोग उनसे बुरा बर्ताव कर रहे थे और उन्हें गलत समझा जा रहा था। दो साल तक कोई काम नहीं मिला। हाल इतना बुरा था कि कंगना ने कहीं दूर भाग जाने का मन बना लिया था।

बॉम्बे टाइम्स को दिए एक इंटरव्यू में कंगना ने बताया था कि उन्हें अपनी बहन रंगोली से बहुत प्यार है, जो कि एसिड अटैक का शिकार हो गई थीं। रंगोली के इलाज के लिए कंगना ने सब कुछ दांव पर रख दिया। बेस्ट जगहों पर रंगोली का इलाज करवाया। क्योंकि इस दौरान कंगना के पास काम भी नहीं था तो उन्होंने सिर्फ पैसे के लिए जगह-जगह गेस्ट बनकर जाना शुरू कर दिया।
कंगना निराशा और हताशा से जूझती रहीं और आखिरकार मधुर भंडारकर की फिल्म फैशन में उन्हें लीडिंग रोल मिला। कंगना ने इस फिल्म के लिए बहुत मेहनत की और इसी फिल्म के लिए उन्हें नैशनल अवॉर्ड मिला।

यह बात भी आपको हैरान कर देगी कि कंगना खुद भले ही फिल्मों की क्वीन बन चुकी हों लेकिन एक वेबसाइट को दिए इंटरव्यू में उन्होंने बताया था कि उन्होंने सिर्फ 10 फिल्में देखी हैं। फिल्मों की जगह कंगना को किताबों और म्यूजिक का साथ पसंद है।
कंगना न्यू यॉर्क में स्क्रिप्ट राइटिंग का कोर्स भी करने गई थीं। वहां वह बेहद सामान्य जिंदगी बिता रही थीं। खाना बनाने से लेकर कपड़े धोने कर सारा काम वह खुद कर रही थीं। उन्होंने क्वीन के संवाद लिखे भी, हालांकि अपने फिल्मों के चलते उन्हें कोर्स बीच में ही छोड़कर भारत लौटना पड़ा।

मुंबई मिरर की एक रिपोर्ट की मानें तो कंगना को मीरा कुमारी की जिंदगी पर बन रही फिल्म के लिए लीड रोल में लिया जा रहा है। उन्हें मीरा कुमारी पर लिखी गई किताब दी गई थी, जो उन्हें बेहद पसंद आई।

मुंबई मिरर की रिपोर्ट के अनुसार, सिटीलाइट्स और शाहिद जैसी बेहतरीन फिल्में बनाने वाले डायरेक्टर हंसल मेहता सरबजीत पर बन रही बायोपिक के लिए कंगना से बातचीत कर रहे हैं। खबर है कि इस फिल्म में कंगना सरबजीत की बहन की भूमिका में नज़र आ सकती हैं।

Web Title: Kangana Ranaut Biography

Keywords: कंगना रनौत| फिल्‍म अभिनेत्री कंगना रनौत| कंगना रनौत की जीवनी| कंगना रनौत की आत्‍मकथा| बोल्‍ड कंगना| kangana biography| Kangana Ranaut - Biography| क्‍वीन फिल्‍म