महिलाओं में दिल की बीमारियां रह जाती हैं अनदेखी : WHO

कोलकाता। विश्व हृदय दिवस से एक दिन पहले विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने सोमवार को कहा कि भारतीय महिलाओं में दिल की बीमारियां अनदेखी रह जाती हैं और उनका इलाज नहीं होता।

 

दक्षिण-पूर्व एशिया के लिए डब्ल्यूएचओ की क्षेत्रीय निदेशक पूनम खेत्रपाल सिंह ने एक बयान में कहा, ‘‘इस साल विश्व हृदय दिवस पर डब्ल्यूएचओ विभिन्न देशों से महिलाओं में हृदय संबंधी रोगों को कम करने की दिशा में काम करने का आह्वान भी कर रहा है। महिलाओं में दिल की बीमारियां बड़ी स्वास्थ्य समस्या है और इनका पता नहीं चलता और इलाज नहीं हो पाता।’’ पूनम ने कहा कि दिल की बीमारियों के लिए जोखिम वाले कारणों में तंबाकू का सेवन, अधिक वजन और मोटापा, अल्कोहल का अधिक इस्तेमाल और शारीरिक निष्क्रियता जैसे जीवनशैली से जुड़े कारक शामिल हैं।

इसके अलावा दक्षिण-पूर्व एशिया क्षेत्र में महिलाओं में भोजन पकाने में ठोस ईंधन के इस्तेमाल से होने वाले वायु प्रदूषण से दिल की बीमारियों का खतरा गंभीर रूप से बढ़ जाता है।

महिलाओं में हृदय संबंधी बीमारियों के खतरे को कम करने के लिए उन्होंने स्वास्थ्य सुविधा प्रदाताओं से महिलाओं में दिल की बीमारियों का खतरा पहचानने और संभालने में सावधानी बरतने की अपील की।
साभार: भाषा

Web Title: heart-disease-in-women-a-silent-killer-who

Keywords: WHO| डबल्यूएचओ| महिलाएं| दिल की बीमारियां| विश्व हृदय दिवस

असहिष्णुता: काश! सोनिया मैडम और आमिर खान...
असहिष्णुता: काश! सोनिया मैडम और आमिर खान तक कोई इस सच्चाई को पहुँचा दे!

संदीप देव।ंग्रेस समर्थक व आमिर-शाहरुख जैसे मुसलमान किस मुंह से सहिष्णुता की बात करते हैं? आपातकाल के दौरान इंदिरा-संजय गांधी ने दिल्ली की जनता, खासकर मुसलमानों पर इतना अधिक जुल्म ढाया था [...]

हिंदुओं की जातिप्रथा ने उन्‍हें हर बार ह...
हिंदुओं की जातिप्रथा ने उन्‍हें हर बार हराया

संदीप देव।्‍हारी जातिवादी मानसिकता ने इतिहास मे तुम्‍हें किस तरह से हराया है... कुछ उदाहरण दे रहा हूं, ठीक से पढो मैं कह चुका हूं मैं जेहादी और जातिवादी को पशु से [...]

ज्योतिष पर ओशो के विचार...
ज्योतिष पर ओशो के विचार

ओशो। ज्योतिष के नाम पर सौ में से निन्यानबे धोखाधड़ी है। और वह जो सौवां आदमी है, निन्यानबे को छोड़ कर उसे समझना बहुत मुश्किल है। क्योंकि वह कभी इतना डागमेटिक नहीं हो सकता कि कह दे कि ऐसा [...]

भारत एक धर्मभीरू देश है जो कट्टरता को भी...
भारत एक धर्मभीरू देश है जो कट्टरता को भी जायज ठहराता है!

संदीप देव। पत्रकारों व कार्टूनिस्‍टों की हत्‍या के बाद दुनिया भर के पत्रकारों और बुद्धिजीवियों ने जहां इस्‍लामी कटटरता को अपनी कलम से जबरदस्‍त जवाब दिया है, वहीं भारत दुनिया का अकेला मुल्‍क है जहां एक [...]

यह इतिहास है और यह क्रूर है! यह न मेरा ह...

संदीप देव। जातिवाद पर ऐतिहासिक तथ्‍यों के जरिए मैंने कुछ रोशनी डालने की कोशिश की है, लेकिन कुछ तथाकथित दलितवादी और सवर्ण जाति की ऊंची नाक वाले लोगों को यह पसंद नहीं आ रहा है। [...]

चुनाव अयोग के आदेशों की अवहेलना कर इंदिर...
चुनाव अयोग के आदेशों की अवहेलना कर इंदिरा गांधी ने 5 हजार मुसलमानों का नरसंहार क्‍या सहिष्‍णुता स्‍थापित करने के उददेश्‍य से कराया था?

संदीप देव।व में 'महाठगबंधन' प्रतिदिन भाजपा की शिकायत चुनाव आयोग से कर रहा है, तो दूसरी ओर मैडम सोनिया के नेतृत्‍व में समूची विपक्षी पार्टियां, पत्रकार, साहित्‍यकार, फिल्‍मकार, वामपंथी [...]

पहली ही कोशिश में मंगल तक पहुंचने वाला प...
पहली ही कोशिश में मंगल तक पहुंचने वाला पहला देश बना भारत

बेंगलुरु। अंतरिक्ष अनुसंधान के क्षेत्र में भारत ने नायाब उपलब्धि हासिल की है। भारतीय अनुसंधान संस्थान (इसरो) का मार्स ऑर्बिटर मिशन यानी मंगलयान सुबह 8 बजे करीब मंगल की कक्षा में प्रवेश कर गया। यह उपलब्धि हासिल [...]

रक्षा क्षेत्र में विदेशी कंपनी का विरोध ...
रक्षा क्षेत्र में विदेशी कंपनी का विरोध करने वाले, पहले जान तो लें कि हथियार निर्माण में  विदेशी मदद शिवाजी ने भी ली थी!

संदीप देव।ी महाराज की जन्‍मजयंती थी। मैं आप सभी को एक सुंदर लेख का उपहार देना चाहता था, लेकिन कई कार्यों में उलझे रहने के कारण नहीं दे सका। लेकिन उस लेख का मर्म आपको समझा [...]

दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!...
दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!

आधी आबादी ब्‍यूरो, नई दिल्ली। जंगल बनता जा रहा है। बच्चों के लिए खेलने के लिए जगह नहीं बची है। पार्क भी धीरे-धीरे खत्म होते जा रहे हैं। अभिभावकों की [...]

नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदे...
नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश

दिल्‍ली।  कमल इंसटिट्यूट ऑफ हायर एडूकेशन के छात्र और छात्राओ ने 'बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ ' अभियान पर नुक्कड नाटक का आयोजन किया। 22 जनवरी 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र [...]

असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के ब...
असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के बीच रहती हूं, लेकिन मैंने कभी भारत में भेदभाव महसूस नहीं किया!

सोफिया रंगवाला। पेशे से डॉक्टर हूं। बंगलोर में मेरी एक हाइ एण्ड लेजर स्किन क्लिनिक है। मेरा परिवार कुवैत में रहता है। मैं भी कुवैत में पली बढ़ी हूं लेकिन 18 साल [...]

प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम कर...
प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम करे, सूचना प्रसारण मंत्री को तो क्रिकेट डिप्‍लोमेसी से ही फुर्सत नहीं है!

संदीप देव।उटलुक पत्रिका के एक गलत खबर के कारण जो हंगामा हुआ और सदन को स्‍थगित करना पड़ा, इसका जिम्‍मेवार कौन है? क्‍या मोदी सरकार मीडिया के इस तरह के गैरजिम्‍मेवार और सबूत [...]

Other Articles