जीवनी

नरेंद्र मोदी ज्‍यादा 'आम' हैं या अरविंद केजरीवाल, आप खुद पढकर बताएं!

संदीप देव। नरेंद्र मोदी का पूरा नाम नरेंद्र दामोदरदास मोदी है। 17 सितंबर 1950 को उनका जन्म वाडनगर के एक छोटे से कस्बे में हुआ था। पिता दामोदर दास और मां हीराबेन की छह संतानों में नरेंद्र तीसरे नंबर की संतान हैं। नरेंद्र का परिवार बेहद गरीब था। अति पिछड़ी जाति से आने वाले नरेंद्र मोदी के पिता की आय का स्रोत एक तेल निकालने वाला कोल्हू मशीन व एक चाय की दुकान थी। चाय की दुकान पर नरेंद्र मोदी भी अपने पिता व भाई का हाथ बंटाते थे। रेलगाडि़यों में सफर करने वाले मुसाफिरों को चाय पिलाते-पिलाते नरेंद्र मोदी का बचपन गुजरा है।

Read more...

जब एक देह दूसरे देह में विलीन होता रहा: तसलीमा नसरीन

रूद्र (तसलीमा का पति) जब खाना लेकर लौटा , मैंने उससे दरयाफत किया ,''यह महिला कौन है,जिसे तुमने अपनी जिन्दगी ही समर्पित कर डाली है ?
''हां,कभी अर्पित की थी ।'
'कौन है वह औरत ?'
'यह जानना क्‍या बहोत जरूरी है ?'
'बता दो । मैं भी सुन रखूं ।'
'नेली ।'

Read more...

तसलीमा को उस रात सेक्‍स सुख के साथ मिला था यौन रोग!

उस रात भी घर लौटकर, रूद्र मेरी मिन्नतें करता रहा, सुनो रानी बहू थोड़ी सहज हो जाओ। अपने को इतना सख्त मत रखो। अपनी देह को जरा नरम करो।रूद्र उस रात भी प्रशस्त किए गए राह में फिर दाखिल हुआ। अंधेरे कमरे में आंखें मून्दे-मून्दे  और अंधेरा महसूस करते हुए जब मै रूद्र की दी हुई पीड़ा अपने अंग-अंग में समो रही थी अचानक....अचानक एक सुखद अहसास! मेरे सिर से पांव तक, बिजली का करंट दौड़ गया। उस विद्युत की कौंध से रूद्र की पीठ पर मैने दसों उंगलियां गड़ा दी। मै हांफने लगी। हांफते-हांफते मैने पूछा क्या हुआ? रूद्र ने कोई जवाब नहीं दिया। मेरी सोना, मेरी माणिक, मेरी रानी बहू कहते हुए वह मुझ पर झुक आया। उस रात उसने एक बार नहीं बल्कि कई-कई बार मुझे तीखे सुख ने विभोर कर दिया। इस सुखद पीड़ा से मेरी नस-नस अवश होती रही। मै गहरे सुख-महासुख में आकुल-व्याकुल होती रही

Read more...

तसलीमा नसरीन की वो सुहागरात!

अचानक वीथि पानी के प्रसंग से हटकर, बिल्कुल नया सवाल कर बैठी, 'अच्छा भाभी तुम अपने गहने वगैरह कुछ क्यों नहीं लाईं? घर की बहू हो, आखिर लोग क्या कहेंगे? कल शाम सीमू के जन्मदिन पर, लोग-बाग आएंगे! चलो, ठीक है, मै ही कुछ एक गहने दे जाऊंगी। तुम वही पहन लेना।' शाम ढल गई रात आ पहुंची। मै बार-बार घड़ी देखती रही और छटपटाती रही। 'तुम्हारे भैया अभी तक नहीं लौटे?'

'लौट आएंगे तुम फिक्र ना करो। मरद बच्चा है, बाहर यार दोस्त हैं। वहां भी जाना पड़ता है, इसलिए इतनी रात कर दी?'  'अरे लौट आएंगे! घर में बीवी मौजूद है, चाहे जितनी भी रात हो जाए वे लौट आएंगे।' वीथि हंस पड़ी। उसकी हंसी में मानो मोती झड़ रहे थे।

Read more...

तसलीमा की पहली शादी बड़ी अजीब थी!

उस बार, रूद्र जब ढाका लौट गया, उसके करीब सात दिनों बाद मै क्लास दाखिल हो रही थी, ऊपर की क्लास की एक लड़की ने मुझे सूचना दी कि नीता लाहिरी ने सन्देश भेजा है कि मै इसी वक्त उससे घर पर मिलूं। क्लास छोड़कर मै गुन के घर भागी। वहां जाकर देखा, गुन के बैठक कमरे में रूद्र बैठा हुआ था। कमरे के काठ की दो अदद कुर्सियां और एक अदद चौकी! उसे देखकर मन नाच उठा। रूद्र को देखते ही मेरे मन में इसी तरह की हलचल होती थी, मन एक बारगी नाच उठता था।

Read more...

एक शौचालय ने बदल दी महिलाओं की जिंदगी!...
एक शौचालय ने बदल दी महिलाओं की जिंदगी!

संदीप देव, हिरमथला गांव, मेवात, हरियाणा।ंट' यानी 'स्‍वच्‍छता अभियान जनांदोलन' की शुरुआत की थी, लेकिन 'सुलभ इंटरनेशनल' देश की [...]

Arun Jaitley साहब अब बस भी कीजिए! मोदी स...
Arun Jaitley साहब अब बस भी कीजिए! मोदी सरकार को बदनाम करने वालों को पुरस्‍कृत करने का यह खेल क्‍यों?

संदीप देव।पमें Narendra Modi सुनामी में भी जीतने की क्षमता नहीं रही, इसलिए शायद आप हम मतदाताओं एवं अपनी ही सरकार के सम्मान से [...]

सेलेना गोमेज ने कमर के नीचे गुदवाया ॐ टै...
सेलेना गोमेज ने कमर के नीचे गुदवाया ॐ टैटू!

अमेरिकन सिंगर, ऐक्ट्रेस और फैशन डिजाइनर सेलेना गोमेज इस बार अपने टैटू से खबरों में हैं. सेलेना गोमेज ने अपनी वेस्ट के नीचे एक पवित्र ओम शब्द का टैटू बनवाया है. सेलेना गोमेज के इस टैटू ने [...]

राष्‍ट्रीय नायक नरेंद्र मोदी की राष्‍ट्र...
राष्‍ट्रीय नायक नरेंद्र मोदी की राष्‍ट्रनीति!

संदीप देव । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सत्‍तासीन हुए एक महीना हो चुका है। बहुत कुछ 'मोदी सरकार' का विजन और रोड मैप स्‍पष्‍ट हो चुका है और अभी बहुत कुछ स्‍पष्‍ट होना बांकी है। लेकिन एक बात [...]

आयुर्वेद के हिसाब से आपके स्‍वास्‍थ्‍य क...
आयुर्वेद के हिसाब से आपके स्‍वास्‍थ्‍य के लिए क्या करे क्या न करें  का विधान!

* दूध और कटहल का कभी भी एक साथ सेवन नहीं करना चाहिये ।
ड़कर) दूध और सभी [...]

स्‍त्री यौन स्‍ट्रोक: स्‍त्री का स्‍ट्रो...
स्‍त्री यौन स्‍ट्रोक: स्‍त्री का स्‍ट्रोक, पुरुष का नियंत्रण

आधी आबादी ब्‍यूरो।आसनों का वर्णन किया जाएगा, जिसमें स्‍ट्रोक तो पुरुष को लगाना पड़ता है, लेकिन सेक्‍स को पूरी तरह से स्‍त्री नियंत्रित करती है। इसमें आनंद दोनों को बराबर [...]

आजाद भारत का इतिहास राजनैतिक हत्‍याओं का...
आजाद भारत का इतिहास राजनैतिक हत्‍याओं का इतिहास है, जिसमें सभी दल शामिल हैं!

संदीप देव।ना पढ़ता जा रहा हूं, मेरी तकलीफ उतना ही बढ़ती जा रही है। मैंने आप सभी को '' अपना वास्‍तविक इतिहास जानो'' मुहिम का हिस्‍सा बनाना चाहा था, लेकिन [...]

AN OPEN LETTER TO THE PRIME MINISTER Nar...
AN OPEN LETTER TO THE PRIME MINISTER NarendraModi about ‪‎BiharElections ‬

Francois Gautier. Dear Mr Prime Minister [...]

दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!...
दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!

आधी आबादी ब्‍यूरो, नई दिल्ली। जंगल बनता जा रहा है। बच्चों के लिए खेलने के लिए जगह नहीं बची है। पार्क भी धीरे-धीरे खत्म होते जा रहे हैं। अभिभावकों की [...]

नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदे...
नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश

दिल्‍ली।  कमल इंसटिट्यूट ऑफ हायर एडूकेशन के छात्र और छात्राओ ने 'बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ ' अभियान पर नुक्कड नाटक का आयोजन किया। 22 जनवरी 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र [...]

असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के ब...
असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के बीच रहती हूं, लेकिन मैंने कभी भारत में भेदभाव महसूस नहीं किया!

सोफिया रंगवाला। पेशे से डॉक्टर हूं। बंगलोर में मेरी एक हाइ एण्ड लेजर स्किन क्लिनिक है। मेरा परिवार कुवैत में रहता है। मैं भी कुवैत में पली बढ़ी हूं लेकिन 18 साल [...]

प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम कर...
प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम करे, सूचना प्रसारण मंत्री को तो क्रिकेट डिप्‍लोमेसी से ही फुर्सत नहीं है!

संदीप देव।उटलुक पत्रिका के एक गलत खबर के कारण जो हंगामा हुआ और सदन को स्‍थगित करना पड़ा, इसका जिम्‍मेवार कौन है? क्‍या मोदी सरकार मीडिया के इस तरह के गैरजिम्‍मेवार और सबूत [...]

Other Articles