लावा की नई पेशकश लॉन्च किया फ्लेयर Z1, कीमत 5,699 रुपए, जानें इसके अन्य खूबियों के बारे में

भारतीय स्मार्टफोन कंपनी लावा में अपने फ्लेयर P1 और फ्लेयर F1 के लॉन्च के बाद लावा ने अपनी इसी सीरीज में एक नया स्मार्टफोन लावा फ्लेयर Z1 लॉन्च किया है। यह स्मार्टफोन एक्सक्लूजिवली ईकॉमर्स साइट स्नैपडील पर 30 जुलाई से बिक्री के लिए उपलब्ध होगा, जहां इस फोन की कीमत 5,699 रुपए है। जल्द ही लावा फ्लेयर Z1 सभी रिटेल स्टोर्स और मल्टीब्रांड आउटलैट्स पर उपलब्ध होगा।

 


लावा फ्लेयर Z1 में 480×854 पिक्सल रेजल्यूशन वाला 5.0 इंच का डिसप्ले दिया गया है। एंडरॉयड ऑपरेटिंग 5.0 लॉलिपॉप पर आधारित इस फोन में आसानी से काम की सुविधा के लिए स्मार्ट गेस्चर कंट्रोल का उपयोग किया गया है। यह फोन 1.3 गीगाहर्ट्ज क्वाडकोर प्रोसेसर पर कार्य करता है।

फोन में फोटोग्राफी के लिए 5.0 मेगापिक्सल रियर और 2.0 मेगापिक्सल फ्रंट कैमरा दिया गया है। फ्लेयर Z1 में 1 जीबी रैम तथा 8 जीबी इंटरनल मैमोरी दी गई है। इसके अलावा एक्सपेंडेबल स्टोरेज के लिए माइकोएसडी कार्ड के माध्यम से जीबी तक डाटा स्टोर कर सकते हैं।

लावा फ्लेयर Z1 में पावर बैकअप के लिए 2000 एमएएच की बैटरी दी गई है। वहीं कनेक्टिविटी ऑप्शन के तौर पर फोन में ब्लूटूथ, वाईफाई और 3जी मौजूद हैं। भारतीय बाजार में यह फोन काले व सफेद दो रंगों में उपलब्ध होगा।

फोटोग्राफी के लिए इस स्मार्टफ़ोन में LED फ़्लैश के साथ 5 मेगापिक्सेल का बढ़िया रियर कैमरा दिया गया है. बता दें कि कैमरा में कई खासियत है, जैसे यह एचडी रिकॉर्डिंग कर सकता है, इसमें ग्रिड का फीचर है, इस कैमरा में फोटो टाइमर भी दिया गया है, और साथ इसमें आपको HDR मोड भी मिल रहा है। इसके साथ साथ इस स्मार्टफोन में 2 मेगापिक्सेल का फ्रंट फेसिंग कैमरा भी दिया गया है। अगर इसके डायमेंशन की बात करें तो यह स्मार्टफोन 143.5x72.5x8.9mm का है और इसका वजन महज 160 ग्राम है।

Web Title: LAVA-smartphone-LAVA-Flair-Z1
 

Keywords: लावा | स्मार्टफोन| लावा फ्लेयर Z1|

मोदी के प्रधानमंत्री बनने से वामपंथी बुद...
मोदी के प्रधानमंत्री बनने से वामपंथी बुद्धिजीवियों में घबराहट

संदीप देव। वामपंथी इतिहासकार और विदेशी फंड पर पलने वाली रोमिला थापर को चिंता सता रही है कि नरेंद्र मोदी सरकार इतिहास की पुस्‍तकों में फेरबदल करवाएगी। जब वामपंथियों ने पूरे इतिहास में झूठ और अर्धसत्‍य भरा है तो सही [...]

स्ट्रेस मॅनेजमेंट का फंडा...
स्ट्रेस मॅनेजमेंट का फंडा

एक मनोवैज्ञानिक स्ट्रेस मॅनेजमेंट के बारे में, अपने छात्रों से मुखातिब था। उसने पानी से भरा एक ग्लास उठाया। सभी ने समझा की अब "आधा खाली या आधा भरा है", यही पुछा और समझाया जाएगा! मगर [...]

अकबर के 10 वर्षों की सफलता को महाराणा प्...
अकबर के 10 वर्षों की सफलता को महाराणा प्रताप ने केवल 1 वर्ष के अंदर मिटा दिया था!

‎संदीप देव‬।जन्‍म जयंती (9 May 1540 – 29 January 1597) है। इस [...]

'प्रधान सेवक' नरेंद्र मोदी ने कहा, 'मेरा...
'प्रधान सेवक' नरेंद्र मोदी ने कहा, 'मेरा क्या-मुझे क्या' की जगह देश हित की सोचें!

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज भारत के 68वें स्वतंत्रता दिवस पर ऐतिहासिक लालकिले की प्राचीर से देशवासियों को संबोधित किया। मोदी के भाषण में सबसे ख़ास बात यह रही कि उन्होंने अलिखित भाषण पढ़ा। पेश है [...]

आप यदि हिंदू धर्म के बारे में नहीं बताएं...

संदीप देव। प्रगति मैदान में लगे पुस्‍तक मेले में जरूर जाएं। हर बार से कहीं अधिक इस बार वहां इस्‍लामिक पुस्‍तकों के प्रकाशक आए हैं। कुछ तो आपको वेद और कुरान में साम्‍यता दर्शाने की ऐसी [...]

कविता : नारी तुम हो सबकी आशा !...
कविता : नारी तुम हो सबकी आशा !

किन शब्दों में दूँ परिभाषा ?

बिहार चुनाव में भाजपा के खलनायक: प्रशांत...

संदीप देव।त्री नीतीश कुमार की पहली जीवनी वरिष्‍ठ पत्रकार संकर्षण ठाकुर ने लिखी थी। संकर्षण को आप अकसर एबीपी न्‍यूज पर देखते होंगे। वो टेलीग्राफ में शायद रोविंग एडिटर हैं। संकर्षण ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का दामन [...]

भारत-चीन युद्ध: नेहरू ने देश को छला, भार...
भारत-चीन युद्ध: नेहरू ने देश को छला, भारतीय महिलाओं के आभूषण हड़पे और कम्‍युनिस्‍टों ने कहा, चीन ने नहीं, बल्कि भारत ने चीन की जमीन छीनी है!

संदीप देव‬रेसियों के खून में जो गद्दारी दिखती है, देश में उसका सबसे बेहतरीन उदाहरण सन 1962 में हुआ भारत-चीन युद्ध था, जिसमें नेहरू ने देश को छला और भारत [...]

दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!...
दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!

आधी आबादी ब्‍यूरो, नई दिल्ली। जंगल बनता जा रहा है। बच्चों के लिए खेलने के लिए जगह नहीं बची है। पार्क भी धीरे-धीरे खत्म होते जा रहे हैं। अभिभावकों की [...]

नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदे...
नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश

दिल्‍ली।  कमल इंसटिट्यूट ऑफ हायर एडूकेशन के छात्र और छात्राओ ने 'बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ ' अभियान पर नुक्कड नाटक का आयोजन किया। 22 जनवरी 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र [...]

असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के ब...
असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के बीच रहती हूं, लेकिन मैंने कभी भारत में भेदभाव महसूस नहीं किया!

सोफिया रंगवाला। पेशे से डॉक्टर हूं। बंगलोर में मेरी एक हाइ एण्ड लेजर स्किन क्लिनिक है। मेरा परिवार कुवैत में रहता है। मैं भी कुवैत में पली बढ़ी हूं लेकिन 18 साल [...]

प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम कर...
प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम करे, सूचना प्रसारण मंत्री को तो क्रिकेट डिप्‍लोमेसी से ही फुर्सत नहीं है!

संदीप देव।उटलुक पत्रिका के एक गलत खबर के कारण जो हंगामा हुआ और सदन को स्‍थगित करना पड़ा, इसका जिम्‍मेवार कौन है? क्‍या मोदी सरकार मीडिया के इस तरह के गैरजिम्‍मेवार और सबूत [...]

Other Articles