ब्रैंडिंग के लिए सर्वाधिक लोकप्रिय साइट बना यूट्यूब

यॉर्क। वीडियो सामग्री वाली सर्वाधिक लोकप्रिय साइट यूट्यूब को एक ताजा अध्ययन में ब्रैंडिंग वीडियो के लिए सर्वाधिक उपयुक्त जगह बताया गया है। समाचारपत्र 'वॉल स्ट्रीट जर्नल' के अनुसार, वीडियो विज्ञापन निर्माता एजेंसी 'विजिबल मेजर्स' द्वारा किए गए अध्ययन में सामने आया है कि यूट्यूब पर ब्रैंडिंग के लिए वीडियो साझा करने का कंपनियों को जबरदस्त फायदा मिलता है।
यूट्यूब पर किसी ब्रैंड के पुराने वीडियो शेयर करने पर भी शीर्ष सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक पर नया वीडियो शेयर करना ज्यादा लाभदायक होता है। अध्ययन में कहा गया है कि यूट्यूब पर साझा की गई वीडियो सामग्री को कहीं अधिक समय तक सर्वाधिक लोग देखते हैं।

 

विजिबल मेजर्स के अध्ययन के मुताबिक, किसी ब्रैंड के यूट्यूब चैनल पर साझा की सामग्री को देखने वाले कुल लोगों की संख्या का 45 फीसदी विजिट ब्रैंड के नए वीडियो के लिए होता है, वहीं संबंधित पुराने वीडियो को 55 फीसदी लोग देखते हैं।
इसके विपरीत जब ब्रैंडिंग के लिए कोई नया वीडियो फेसबुक पर साझा किया जाता है तो ब्रैंड के लिए हुए कुल विजिट का 95 फीसदी नए वीडियो के लिए होता है। विजिबल मेजर्स के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) ब्रायन शिन ने कहा, ‘यूट्यूब वास्तव में सर्वाधिक खोजी जाने वाली साइट है, जबकि फेसबुक का उपयोग नई-नई सामग्री की खोज में ही होता है।’

शिन ने कहा, ‘क्योंकि यूट्यूब के पास खोजने की वह क्षमता है, क्योंकि यूट्यूब नई सामग्री के साथ संबंधित सामग्री का विस्तृत डाटा उपलब्ध कराता है। आपको यूट्यूब पर अपने विषय से संबंधित कुछ न कुछ हमेशा जरूर मिलेगा।’

कोई भी व्यक्ति जब यूट्यूब पर कोई सामग्री देखता है तो साइट उसे संबंधित अन्य ढेर सारी सामग्रियों की पेशकश भी करती है, जो उसी ब्रांड की हो सकती है या अन्य ब्रैंड की भी। विजिबल मेजर्स ने अपने अध्ययन में 808 वीडियो विज्ञापनों का अध्ययन किया, जिन्हें 1.6 अरब बार देखा गया था।

Courtesy: आईएएनएस

Web Title: youtube-better-platform-for-brands-promotional-videos-study

Keywords: #Branding #success #video #youtube

असावधानी में बनाया गया शारीरिक संबंध कई ...
असावधानी में बनाया गया शारीरिक संबंध कई तरह से आपको कर सकता है परेशान!

नई दिल्ली।ेट पर जाना आम बात है लेकिन इस दौरान उन्हें अपने पार्टनर के साथ थोड़ी सावधानी बरतने की जरूरत होती है। डेटिंग के दौरान ज्यादातर युवा शारीरिक रूप से एक-दूसरे के नजदीक आ [...]

प्रधानमंत्री के नाम पत्र: चर्च की तरह सं...
प्रधानमंत्री के नाम पत्र: चर्च की तरह संत गोपाल दास को भी सुन लीजिए!

नई दिल्‍ली।िस आयुक्‍त बस्‍सी को केवल इसलिए तलब कर लिया कि वसंत विहार के होली चाइल्ड ऑक्सीलम स्कूल में प्रिंसिपल के दफ्तर में तोड़फोड़ की घटना हुई है, लेकिन गो-वध बंदी के लिए आंदोलन [...]

हमारी शिक्षा से भारतीय जीवन पद्धति गायब ...
हमारी शिक्षा से भारतीय जीवन पद्धति गायब है: वेंकैया नायडु

आधी आबादी ब्‍यूरो।े कहा कि देश को आजाद हुए 67 साल हो चुके हैं, लेकिन आज तक इस देश में सही शिक्षा पॉलिसी का अभाव है। शिक्षा का लक्ष्‍य चरित्र निर्माण होना [...]

प्रधानमंत्री मोदी की अपील से युवाओं में ...
प्रधानमंत्री मोदी की अपील से युवाओं में बढ़ा खादी का क्रेज

नई दिल्‍ली।  मोदी ने 'मन की बात' कार्यक्रम की शुरुआत लोगों से इस अपील के साथ ही की थी कि वे खादी का कोई सामान जरूर प्रयोग में लाएं. मेक इन इंडिया थीम और रोजगार को [...]

स्ट्रेस मॅनेजमेंट का फंडा...
स्ट्रेस मॅनेजमेंट का फंडा

एक मनोवैज्ञानिक स्ट्रेस मॅनेजमेंट के बारे में, अपने छात्रों से मुखातिब था। उसने पानी से भरा एक ग्लास उठाया। सभी ने समझा की अब "आधा खाली या आधा भरा है", यही पुछा और समझाया जाएगा! मगर [...]

आज विज्ञान ओम की शक्ति को पहचान रहा है ज...
आज विज्ञान ओम की शक्ति को पहचान रहा है जबकि हमारे ऋषि-मुनी, योगी तो पहले ही इस तथ्य को जान चुके थे!

आधी आबादी ब्‍यूरो। कहा गया है। यह तथ्य भी उल्लेखित है कि तेजस तत्व के अधिष्ठाता भगवान भास्कर की तेज ऊर्जा के संग निकलने वाली ध्वनि में ओम स्वर उच्चरित होता है। [...]

करोड़ों की नौकरी छोड़ कर बन गया किसान! ...
करोड़ों की नौकरी छोड़ कर बन गया किसान!

खंडवा। कोलकाता के दीपक गोयल के सिर पर खेती करने का जुनून ऐसा चढ़ा कि वे सालाना डेढ़ करोड़ रुपए पैकेज की नौकरी छोड़ किसान बन गए। श्री गोयल ने खंडवा के बंजारी गांव के पास 100 [...]

संघ के बिना अमित, क्‍या बन पाएंगे भाजपा ...
संघ के बिना अमित, क्‍या बन पाएंगे भाजपा के असली 'शाह'!

संदीप देव, नई दिल्‍ली बंटे उत्‍तरप्रदेश के 'कुरुक्षेत्र' को पूर्ण रूप से जीतने के बाद अमित शाह भाजपा के नए 'शाह' बन गए हैं, जिसका ईनाम उन्‍हें [...]

दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!...
दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!

आधी आबादी ब्‍यूरो, नई दिल्ली। जंगल बनता जा रहा है। बच्चों के लिए खेलने के लिए जगह नहीं बची है। पार्क भी धीरे-धीरे खत्म होते जा रहे हैं। अभिभावकों की [...]

नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदे...
नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश

दिल्‍ली।  कमल इंसटिट्यूट ऑफ हायर एडूकेशन के छात्र और छात्राओ ने 'बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ ' अभियान पर नुक्कड नाटक का आयोजन किया। 22 जनवरी 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र [...]

असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के ब...
असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के बीच रहती हूं, लेकिन मैंने कभी भारत में भेदभाव महसूस नहीं किया!

सोफिया रंगवाला। पेशे से डॉक्टर हूं। बंगलोर में मेरी एक हाइ एण्ड लेजर स्किन क्लिनिक है। मेरा परिवार कुवैत में रहता है। मैं भी कुवैत में पली बढ़ी हूं लेकिन 18 साल [...]

प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम कर...
प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम करे, सूचना प्रसारण मंत्री को तो क्रिकेट डिप्‍लोमेसी से ही फुर्सत नहीं है!

संदीप देव।उटलुक पत्रिका के एक गलत खबर के कारण जो हंगामा हुआ और सदन को स्‍थगित करना पड़ा, इसका जिम्‍मेवार कौन है? क्‍या मोदी सरकार मीडिया के इस तरह के गैरजिम्‍मेवार और सबूत [...]

Other Articles