हस्तक्षेप

'हमारे स्‍तनों की कठोरता तुम्‍हारे फतवे से कहीं अधिक है!'

आधीआबादी ब्‍यूरो। प्रकृति ने स्त्री-पुरुष में जो सबसे बड़ा अंतर किया है, वह उनका शरीर है। यह शरीर ही है, जिसकी वजह से जन्म लेते ही मनुष्य की पहचान 'लिंग' आधारित हो जाती है। जन्म के साथ पालन-पोषण से लेकर जिंदगी भर चलने वाली समाजीकरण की पूरी प्रक्रिया 'जननांग' केंद्रित है। पितृसत्‍तात्‍मक समाज शुरू से ही 'नर जननांग' को आक्रामकता और 'मादा जननांग' को समर्पण मानकर स्‍त्री शरीर का शोषण करता रहा है। चेतना आने पर नारी ने पितृसत्‍तात्‍मक समाज के शोषण का जवाब भी अपने शरीर में ही ढूंढा और अपने शरीर से ही उसकी सामंती सोच पर प्रहार भी किया!

Read more...

बाबा रामदेव ने प्रधानमंत्री मोदी के स्‍वच्‍छता अभियान को दी गति!

आधीआबादी ब्यूरो, हरिद्वार। अपने एक महीने के यूरोप दौरा के बाद हरिद्वार पहुंचते ही स्वामी रामदेव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 'स्वच्छ भारत अभियान' को सफल बनाने में जुट गए हैं। अन्य प्रसिद्ध व्यक्तियों की तरह उनका यह अभियान हाथ में झाडू पकड़ कर केवल प्रतिकात्मक नहीं है, बल्कि उन्होंने तो हरिद्वार और ऋषिकेश को पूर्णत: गंदगीमुक्त बनाने के लिए संकल्प ही ले लिया है। यह वही रामदेव हैं, जिन्होंने नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री बनाने के लिए हरिद्वार के अपने पतंजलि योगपीठ को त्यागने तक का संकल्प ले लिया था और मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद ही करीब 9 महीने बाद पतंजलि में कदम रखा था। स्वामी रामदेव के स्चछता अभियान की तारीफ करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया, ''स्वच्छ भारत अभियान में बाबा रामदेव और उनकी टीम के जुड़ने से अभियान को और भी गति मिलेगी।''

Read more...

असहिष्णुता: क्‍या आप जानते हैं शाहरुख खान की मां आपातकाल में संजय गांधी की उस टीम में शामिल थीं, जिसने मुसलमानों के जबरन नसबंदी का फैसला किया था!

संदीप देव। मैं 'असहिष्‍णुता' पर जिन तथ्‍यों सामने रख रहा हूं, उससे पहले बहुत कम लोग परिचित थे और यह दर्शाता है कि कांग्रेस-वामपं‍थियों ने किस तरह झूठ की बुनियाद पर देश का पूरा इतिहास लिखा है! #असहिष्‍णुता पर पहले मैंने यह बताया था कि किस तरह से आमिर खान के पूर्वज मौलाना अब्‍दुल कलाम आजाद ने भारत के साथ धोखे का व्‍यवहार किया। मौलाना आजाद आमिर खान के पड़नाना थे।

Read more...

असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के बीच रहती हूं, लेकिन मैंने कभी भारत में भेदभाव महसूस नहीं किया!

सोफिया रंगवाला। मैं एक मुस्लिम महिला हूं और पेशे से डॉक्टर हूं। बंगलोर में मेरी एक हाइ एण्ड लेजर स्किन क्लिनिक है। मेरा परिवार कुवैत में रहता है। मैं भी कुवैत में पली बढ़ी हूं लेकिन 18 साल की उम्र में डाक्टरी की पढ़ाई करने के लिए मैं भारत लौट आयी थी। पढ़ाई खत्म होने के बाद जहां मेरे ज्यादातर साथी अच्छे भविष्य के सपने के साथ बाहर चले गये मैंने भारत में ही रहने का निश्चय किया। आज तक मैंने एक बार भी कभी यह महसूस नहीं किया कि एक मुसलमान होने के कारण हमें कोई दिक्कत हुई हो। मुझे अपने देश से प्रेम था और मैंने भारत में ही रहने का निश्चय किया।

Read more...

बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ: नारी तू नारायणी!

आधी आबादी ब्‍यूरो । आध्‍यात्मिक गुरू श्री आशुतोष महाराज जी के दिव्य मार्ग दर्शन में संचालित ‘दिव्य ज्योति जागृति संस्थान’ के लिंग समानता प्रकल्प ‘संतुलन’ के अंतर्गत कन्या भ्रूण हत्या की रोकथाम के लिए 27 मार्च 2016 को मुख्य अतिथि आदरणीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री जे. पी. नड्डा द्वारा सिरी फोर्ट ऑडिटोरियम में राष्ट्रस्तरीय जागरूकता अभियान 'तू है शक्ति' का शुभारंभ किया गया.

Read more...

South Asia: UNODC initiates: 32 बिलियन ...
South Asia:  UNODC initiates: 32 बिलियन डॉलर का बिजनस है मानव व्‍यापार

New delhi. A $32 billion business annual [...]

संभोग के दौरान जल्‍दी हांफ जाता हूं...
संभोग के दौरान जल्‍दी हांफ जाता हूं

सवाल :अपनी पत्नी के साथ सहवास करता हूं, तो बहुत जल्दी क्लाइमैक्स पर पहुंच जाता हूं और हांफने भी लगता हूं। क्या किसी बीमारी की वजह से ऐसा होता है?

गे और लेस्बियन सेक्‍स संबंध बनाने से पहल...
गे और लेस्बियन सेक्‍स संबंध बनाने से पहले जान लें क्‍या कहता है धारा-377

राजेश चौधरी, नवभारतटाइम्स.कॉम, नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद गे सेक्स पर बहस छिड़ी हुई है। पहली बार सन 1290 में इंग्लैंड के फ्लेटा में अननैचरल सेक्स का मामला सामने आया [...]

संभोग के लिए जा रही महिलाओं के मन में आख...
संभोग के लिए जा रही महिलाओं के मन में आखिर उस वक्‍त क्‍या चलता है!

एक आम महिला का सेक्स संबंधित बिहेवियर हमेशा से रहस्य के समान रहा है. यही कारण है कि उसकी सेक्स संबंधित गतिविधि को समझने के लिए कई रिसर्च किये जाते रहते हैं. खासकर साथी चुनने और सेक्स बिहेवियर [...]

गांधी जी और शास्‍त्री जी में कुछ समानता,...
गांधी जी और शास्‍त्री जी में कुछ समानता, लेकिन ढेर सारी असमानता!

‪संदीपदेव‬।ालबहादुर शास्‍त्री- दोनों की जयंती है। दोनों में कुछ बातें समान थीं, जैसे- दोनों बेहद सादगी से जीते थे और दोनों स्‍वयं के प्रति ईमानदार थे। दोनों में एक और बात कॉमन [...]

कभी स्‍वामी रामदेव पर हमला कर चुके वामपं...
कभी स्‍वामी रामदेव पर हमला कर चुके वामपंथी व कांग्रेसी उनकी जेड श्रेणी सुरक्षा से हैं असहज!

संदीप देव। गृहमंत्रालय ने जिस दिन जेड श्रेणी की सुरक्षा मुहैया कराई, उस दिन वामपंथी मीडिया मातम मना रहा था। सबसे अधिक दुखी पूर्व वित्‍त मंत्री पी.चिदंबरम के 5000 करोड़ रुपए [...]

पढ़ना मत! अपनी मूर्खता को पकड़े रखना- कश...
पढ़ना मत! अपनी मूर्खता को पकड़े रखना- कश्‍मीरी पंडित के पूर्वजों ने मूर्खता की थी, उनकी अगली पीढ़ी गाजर-मूली की तरह काट दी गयी, भगा दी गयी! ‎

संदीपदेव‬।िचित्र बात है, वह अपने इतिहास से सबक लेने को तैयार ही नहीं है! और ऐसा नहीं कि यह आज की बात हो, यह हमारे पूर्वजों से चली आ रही मूढ़ता है, जिसका [...]

Sreenivasan Jain edits embarrassing port...
Sreenivasan Jain edits embarrassing portions from Ramdev’s interview, gets exposed

Atul Asthana,  bwoyblunder We had writte [...]

दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!...
दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!

आधी आबादी ब्‍यूरो, नई दिल्ली। जंगल बनता जा रहा है। बच्चों के लिए खेलने के लिए जगह नहीं बची है। पार्क भी धीरे-धीरे खत्म होते जा रहे हैं। अभिभावकों की [...]

नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदे...
नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश

दिल्‍ली।  कमल इंसटिट्यूट ऑफ हायर एडूकेशन के छात्र और छात्राओ ने 'बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ ' अभियान पर नुक्कड नाटक का आयोजन किया। 22 जनवरी 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र [...]

असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के ब...
असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के बीच रहती हूं, लेकिन मैंने कभी भारत में भेदभाव महसूस नहीं किया!

सोफिया रंगवाला। पेशे से डॉक्टर हूं। बंगलोर में मेरी एक हाइ एण्ड लेजर स्किन क्लिनिक है। मेरा परिवार कुवैत में रहता है। मैं भी कुवैत में पली बढ़ी हूं लेकिन 18 साल [...]

प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम कर...
प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम करे, सूचना प्रसारण मंत्री को तो क्रिकेट डिप्‍लोमेसी से ही फुर्सत नहीं है!

संदीप देव।उटलुक पत्रिका के एक गलत खबर के कारण जो हंगामा हुआ और सदन को स्‍थगित करना पड़ा, इसका जिम्‍मेवार कौन है? क्‍या मोदी सरकार मीडिया के इस तरह के गैरजिम्‍मेवार और सबूत [...]

Other Articles