गर्भवती महिलाओं के लिए नया कोर्स, गर्भ में ही शिशुओं को दिए जाएंगे संस्‍कार!

महाभारत के पात्र अभिमन्यु ने जिस तरह गर्भ में ही चक्रव्यूह भेदने की कला सीख ली थी और पुराणों में गर्भ में ही संस्कार मिलने की बात कही गई है, उसी को आधार बनाकर भोपाल के अटल बिहारी वाजपेयी हिंदी विश्वविद्यालय में 'संस्कारवान संतान' के लिए पाठ्यक्रम शुरू हो रहा है.

यूनिवर्सिटी का कहना है दंपति अपनी संतान में जैसे संस्कार चाहते हैं, उन्‍हें उसी तरह की शिक्षा दी जाएगी. प्रदेश में अपनी तरह का यह पहला कोर्स है. नौ महीने का यह कोर्स निशुल्क है और 2 अक्टूबर से शुरू किया जाएगा.

गर्भाधान संस्कार हमारी प्राचीन परम्परा से ही शामिल रहा है. यूनिवर्सिटी में इस संस्कार शिक्षा के लिए दो दिनों का विशेष प्रशिक्षण दिया जा  रहा है. पाठ्यक्रम में प्रेग्‍नेंट महिलाओं को रहन-सहन, खान-पान और बोल-चाल की जानकारी दी जाएगी. इसके अलावा योग, भजन, संगीत, अच्छी कहानियां और देशभक्ति के गीत भी सुनाए जाएंगे. पाठ्यक्रम शुरू होने पर हर महीने बच्चे के होने वाले विकास के आधार पर शिक्षा दी जाएगी.
कामयाब हो सकता है यह अनूठा प्रयोग
अटल बिहारी वाजपेयी हिंदी विश्वविद्यालय के कुलपति मोहन लाल छीपा ने कहा, 'अभी 2 अक्टूबर से सेंटर चालू होगा. इसी को ध्‍यान में रखकर कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित कर रहे हैं.'

गर्भवती महिलाओं के लिए तपोवन केंद्र में अच्छा वातावरण बनाया जाएगा. इस कोर्स को लेकर महिलाओं में भी उत्सुकता है. एक महिला संगीत ने बताया, 'शादी को एक साल हुए हैं. आगे मैंने बच्चे प्लान के बारे में सोचा है. मैं यहां नौ महीने तक पूरा क्लास अटेंड करूंगी. फायदा बाद में समझ आएगा.' सेंटर पर एक साथ 25 महिलाओं को ट्रेनिंग दी जाएगी. यह पाठ्यक्रम गुजरात विश्वविद्यालय के सहयोग से चलाया जा रहा है.

साभार: आजतक वेब

Web Title : unique course for pregnant woman in vajpayee hindi vishwavidyalaya

Keyword : course| pregnant woman| Atal Bihari Vajpayee| Hindi Vishwavidyalaya| Bhopa|  हिंदी विश्वविद्यालय| संस्‍कार| भोपाल| संतान

भारत को कुछ बनने की जरूरत नहीं, भारत को ...
भारत को कुछ बनने की जरूरत नहीं, भारत को भारत ही बनना चाहिए: नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली।द्र मोदी ने अपनी अमेरिका यात्रा से पहले सीएनएन के वरिष्ठ पत्रकार फरीद जकारिया को एक्सक्लूसिव इंटरव्यू दिया। पढ़िए उस इंटरव्यू के सवालों के जवाबः-

सुभाषचंद्र बोस के आगे गांधी का व्‍यक्त्व...
सुभाषचंद्र बोस के आगे गांधी का व्‍यक्त्वि फीका पड़ गया था तो नेहरू क्‍या चीज थे... उस वक्‍त का जरा अखबार पलट कर तो देखिए!

संदीप देव‬।त्र Anuj Dhar ने सुभाषचंद्र बोस की मृत्‍यु के रहस्‍य से पर्दा उठाने के लिए जितना काम किया है, उसका कोई जोड़ वर्तमान में तो नहीं [...]

राजदीप सरदेसाई पत्रकार नहीं, विशुद्ध कां...
राजदीप सरदेसाई पत्रकार नहीं, विशुद्ध कांग्रेसी दलाल है!

संदीप देव।राजदीप सरदेसाई ने भारत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जिस तरह से अपमानित करने का प्रयास किया है, वह साफ तौर पर देशद्रोह की श्रेणी में आता है! यही नहीं, अमेरिका में बसे [...]

स्‍त्री यौन स्‍ट्रोक: स्‍त्री का स्‍ट्रो...
स्‍त्री यौन स्‍ट्रोक: स्‍त्री का स्‍ट्रोक, पुरुष का नियंत्रण

आधी आबादी ब्‍यूरो।आसनों का वर्णन किया जाएगा, जिसमें स्‍ट्रोक तो पुरुष को लगाना पड़ता है, लेकिन सेक्‍स को पूरी तरह से स्‍त्री नियंत्रित करती है। इसमें आनंद दोनों को बराबर [...]

आप प्रतिक्रिया मत दीजिए, बल्कि मसीह-मोहम...

संदीप देव।ने इतिहास अभियान को लेकर मैं जो कुछ लिख रहा हूं, उसमें कुछ वामपंथी-सेक्‍यूलर-इस्‍लामी जमात घुसकर उसे संदर्भ से काटकर लोगों को भटकाने की लगातार कोशिश कर रहे हैं। ओशो ने [...]

द्वितीय विश्‍व युद्ध में ब्रिटिश जहां मह...
द्वितीय विश्‍व युद्ध में ब्रिटिश जहां महात्‍मा गांधी के मित्र थे, वहीं सुभाष चंद्रबोस के लिए दुश्‍मन!

संदीप देव।दूसरे के फटे में टांग अड़ाना। जब द्वितीय विश्‍व युद्ध शुरु हुआ तो गांधी जी के नेतृत्‍व में कांग्रेस ब्रिटिश शासन को बार-बार मदद देने का प्रस्‍ताव दे रही थी, जबकि ब्रिटिश [...]

लावा की नई पेशकश लॉन्च किया फ्लेयर Z1, क...
लावा की नई पेशकश लॉन्च किया फ्लेयर Z1, कीमत 5,699 रुपए, जानें इसके अन्य खूबियों के बारे में

भारतीय स्मार्टफोन कंपनी लावा में अपने फ्लेयर P1 और फ्लेयर F1 के लॉन्च के बाद लावा ने अपनी इसी सीरीज में एक नया स्मार्टफोन लावा फ्लेयर Z1 लॉन्च किया है। यह स्मार्टफोन एक्सक्लूजिवली ईकॉमर्स [...]

मुझे गाली देने से पहले, अपने संगठन के मह...
मुझे गाली देने से पहले, अपने संगठन के महापुरुषों के लिखे को ही ठीक से पढ लें!

संदीप देव।को हमलावर दिखूुंगा तो केवल इसलिए कि मैं सच को जानता, समझता और उसे उसी रूप में लिखने की हिम्‍मत रखता हूं। सच किसी के हिसाब से नहीं चलता। मीडिया, कांग्रेस, [...]

दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!...
दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!

आधी आबादी ब्‍यूरो, नई दिल्ली। जंगल बनता जा रहा है। बच्चों के लिए खेलने के लिए जगह नहीं बची है। पार्क भी धीरे-धीरे खत्म होते जा रहे हैं। अभिभावकों की [...]

नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदे...
नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश

दिल्‍ली।  कमल इंसटिट्यूट ऑफ हायर एडूकेशन के छात्र और छात्राओ ने 'बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ ' अभियान पर नुक्कड नाटक का आयोजन किया। 22 जनवरी 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र [...]

असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के ब...
असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के बीच रहती हूं, लेकिन मैंने कभी भारत में भेदभाव महसूस नहीं किया!

सोफिया रंगवाला। पेशे से डॉक्टर हूं। बंगलोर में मेरी एक हाइ एण्ड लेजर स्किन क्लिनिक है। मेरा परिवार कुवैत में रहता है। मैं भी कुवैत में पली बढ़ी हूं लेकिन 18 साल [...]

प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम कर...
प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम करे, सूचना प्रसारण मंत्री को तो क्रिकेट डिप्‍लोमेसी से ही फुर्सत नहीं है!

संदीप देव।उटलुक पत्रिका के एक गलत खबर के कारण जो हंगामा हुआ और सदन को स्‍थगित करना पड़ा, इसका जिम्‍मेवार कौन है? क्‍या मोदी सरकार मीडिया के इस तरह के गैरजिम्‍मेवार और सबूत [...]

Other Articles