मीडिया

प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम करे, सूचना प्रसारण मंत्री को तो क्रिकेट डिप्‍लोमेसी से ही फुर्सत नहीं है!

संदीप देव। सदन के अंदर अभी आउटलुक पत्रिका के एक गलत खबर के कारण जो हंगामा हुआ और सदन को स्‍थगित करना पड़ा, इसका जिम्‍मेवार कौन है? क्‍या मोदी सरकार मीडिया के इस तरह के गैरजिम्‍मेवार और सबूत रहित खबरों पर संज्ञान लेगी? या फिर अपने गृहमंत्री को झूठे मीडिया के भरोसे छोड़ देगी?

Read more...

Sreenivasan Jain edits embarrassing portions from Ramdev’s interview, gets exposed

Atul Asthana,  bwoyblunder| We had written last week how journalist Sreenivasan Jain had gone overboard in defending corruption in his last truth vs hype show. In the same show, he had also made attacks on Baba Ramdev for speaking at IIT Delhi, and for partnering with it on the Unnat Bharat program. Subsequently, he was schooled by Baba Ramdev on twitter, who later invited him for an open debate on science. Jain took up the challenge and decided to interview Baba. But little did he know, he had fallen into a trap.

Read more...

रिपोर्टर खुश, संपादक नाराज-यही है मोदी स्‍टाइल!

संदीप देव। कल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रिपोर्टर और संपादक के बीच के अंतर को समाप्‍त कर दिया। इससे रिपोर्टर जहां खुश हैं, वहीं संपादक बेहद नाराज! सही मायने में मोदी मास्‍टर ऑफ राजनीति हैं! अब आम रिपोर्टर भी अपने किसी संपादक की तरह गर्व से अपने बायोडाटा में लिखेगा कि मैं भारत के प्रधानमंत्री को कवर कर चुका हूं, उनसे मिल चुका हूं! मोदी से पहले यह सिर्फ संपादकों की बपौती थी!

Read more...

भारत की सेक्‍यूलर प्रजाति!

संदीप देव। भारत की दुर्दशा के लिए सेक्‍यूलर नामक प्रजाति सबसे अधिक जिम्‍मेवार है! अमेरिका की एक बहुत बड़ी वेबसाइट है, जो चर्च मिशनरी को सपोर्ट करता है, नाम है http://qz.com । इन्‍हें चिंता सता रही है कि विजया दशमी को Rashtriya Swayamsevak Sangh : RSS के सरसंघचालक मोहन भागवत एक घंटे का लाइव टेलिकास्‍ट करके DDNewsLive ने भारतीय संविधान का अपमान किया है। इन्‍हें इस बात की चिंता है कि देश में पहली बार राज्‍य और धर्म के बीच की लकीर को मिटाने का प्रयास किया गया है। इस वेबसाइट को कई अमेरिकी कंपनियों की फंडिंग होती है। आज पहले पेज पर मोहन भागवत जी की बड़ी सी तस्‍वीर के साथ इसने लेख लिखा है। http://qz.com/275648/a-dangerous-line-was-crossed-when-doordarshan-telecast-bhagwats-speech-live/

Read more...

राजदीप सरदेसाई पत्रकार नहीं, विशुद्ध कांग्रेसी दलाल है!

संदीप देव। अमेरिका में जाकर राजदीप सरदेसाई ने भारत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जिस तरह से अपमानित करने का प्रयास किया है, वह साफ तौर पर देशद्रोह की श्रेणी में आता है! यही नहीं, अमेरिका में बसे एक एनआरआई से पहले गाली-गलौच और बाद में हाथापाई करना, पूरे देश का अपमान है! अमेरिका के लोग क्‍या सोच रहे होंगे कि भारत का पत्रकार किस हद तक गिरा हुआ होता है! एक भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक पर एक भारतीय पत्रकार द्वारा हमले के कारण भारत की छवि ही खराब हुई है! नरेंद्र मोदी विरोध में पिछले 12 साल से पागल हुए जा रहे राजदीप की तो कोई गरिमा नहीं ही है, उसने देश की गरिमा का भी ख्‍याल नहीं रखा, वह भी तब जब हमारे प्रधानमंत्री वहां मौजूद हों! आप सभी यह तो जानते हैं कि राजदीप सरदेसाई ने शुरू से Narendra Modi का विरोध किया है, लेकिन आप लोगों के समक्ष मैं अपनी पुस्‍तक '' निशाने पर नरेंद्र मोदी: साजिश की कहानी-तथ्‍यों की जुबानी'' से वह चैप्‍टर सामने रखता हूं, जिसमें राजदीप का घिनौना चेहरा आपके सामने आ जाएगा। और हां, आपको यह भी तो याद होगा कि कांग्रेस नेतृत्‍व वाली यूपीए-एक को बचाने के लिए संसद के 'कैश फॉर वोट' कांड की सीडी भी इसी राजदीप सरदेसाई ने छुपाई थी। उस वक्‍त चर्चा थी कि राजदीप सरदेसाई की तत्‍कालीन सीएनएन-आईबीएन टीम ने सांसदों को खरीदे जाने का जो स्टिंग किया था, उसमें सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल और अमर सिंह उन्‍हें बिकने का ऑफर देते हुए साफ दिख रहे थे। यही कारण है राजदीप ने पहले उस स्टिंग को चैनल पर दिखाने की बात कह कर उसे नहीं दिखाया। जानकारों ने इसे राजदीप सरदेसाई और कांग्रेस के बीच हुई 'डील' का नतीजा करार दिया था!

राजदीप सरदेसाई व सागरिका घोष: दोनों पति-पत्‍नी न केवल मिलकर नरेंद्र मोदी के प्रति नफरत प्रदर्शित करते रहे हैं, बल्कि अपनी रिपोर्टिंग के जरिए कांग्रेस के लिए लॉबिंग भी करते रहे हैं

Read more...

यह जम्‍मू-कश्‍मीर के बंटवारे की पटकथा तो...
यह जम्‍मू-कश्‍मीर के बंटवारे की पटकथा तो नहीं!

संदीप देव।ं भाजपा-पीडीपी के बीच गठबंधन का बहुत ज्‍यादा विरोध भी हो रहा है और समर्थन भी। मुझे लगता है मौका दिया जाना चाहिए, क्‍योंकि आप दिल्‍ली में बैठकर विरोध तो कर रहे हैं लेकिन [...]

औरंगजेब के दरबारी ने औरंगजेब को इतना लज्...
औरंगजेब के दरबारी ने औरंगजेब को इतना लज्जित किया कि वह मंदिर तोड़ कर मस्जिद बनाना भूल गया! ‪

संदीप देव। औरंगजेब सबसे बड़ा मूर्ति भंजक था। हिंदुओं के मंदिर को तोड़कर उस पर मस्जिद का निर्माण कराने की उसे सनक सवार हो गई थी। पहले पहल तो वह मंदिर तोड़ कर उसे छोड़ देता था, [...]

आईआईटी में ग्रामीण विकास पर कोई भारतीय स...
आईआईटी में ग्रामीण विकास पर कोई भारतीय संत नहीं बोल सकता! आखिर किस मानसिक दिवालिएपन से गुजर रहे हैं वामपंथी पत्रकार?

आधीआबादी ब्‍यूरो, नई दिल्‍ली।क्रम में बाबा रामदेव को अतिथि क्‍या बना लिया, वामपंथी पत्रकारों के मानसिक दिवालिएपन का दर्शन होना शुरू हो गया। आईआईटी में विषय था, 'ग्रामीण [...]

तो नीतीश कुमार अपने दादा के स्‍वतंत्रता ...
तो नीतीश कुमार अपने दादा के स्‍वतंत्रता सेनानी होने की कीमत वसूलता चाहते हैं बिहारी जनता से!

ंदीपदेव‬।ुख्‍यमंत्री Nitish Kumar के सिर चढ़ कर बोल रहा है! उनका कहना है कि जिन लोगों का (आरएसएस व भाजपा) देश को [...]

नरेंद्र मोदी ज्‍यादा 'आम' हैं या अरविंद ...
नरेंद्र मोदी ज्‍यादा 'आम' हैं या अरविंद केजरीवाल, आप खुद पढकर बताएं!

संदीप देव। नरेंद्र मोदी का पूरा नाम नरेंद्र दामोदरदास मोदी है। 17 सितंबर 1950 को उनका जन्म वाडनगर के एक छोटे से कस्बे में हुआ था। पिता दामोदर दास और मां हीराबेन की छह [...]

पढ़ना मत! अपनी मूर्खता को पकड़े रखना- कश...
पढ़ना मत! अपनी मूर्खता को पकड़े रखना- कश्‍मीरी पंडित के पूर्वजों ने मूर्खता की थी, उनकी अगली पीढ़ी गाजर-मूली की तरह काट दी गयी, भगा दी गयी! ‎

संदीपदेव‬।िचित्र बात है, वह अपने इतिहास से सबक लेने को तैयार ही नहीं है! और ऐसा नहीं कि यह आज की बात हो, यह हमारे पूर्वजों से चली आ रही मूढ़ता है, जिसका [...]

मसीह, मोहम्‍मद और मार्क्‍सवादियों का दर्...
मसीह, मोहम्‍मद और मार्क्‍सवादियों का दर्द!

संदीप देव। मार्क्‍सवादियों का दर्द क्‍या है, इसे कुछ ऐसे समझिए! मसीहवादियों ने पूरे यूरोप को रौंद दिया। प्राचीन यूनान सभ्‍यता आज कहीं नहीं है, उसे वर्तमान रूप में आप ग्रीस नाम से [...]

मदर टेरेसा के साथ काम कर चुके हैं केजरीव...

संदीप देव।ेरेसा विवाद में दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल जिस तरह से मदर टेरेसा के पक्ष में कूद पड़े हैं। अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मदर टेरेसा पवित्र आत्‍मा थीं, उन्‍हें राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक प्रमुख [...]

दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!...
दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!

आधी आबादी ब्‍यूरो, नई दिल्ली। जंगल बनता जा रहा है। बच्चों के लिए खेलने के लिए जगह नहीं बची है। पार्क भी धीरे-धीरे खत्म होते जा रहे हैं। अभिभावकों की [...]

नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदे...
नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश

दिल्‍ली।  कमल इंसटिट्यूट ऑफ हायर एडूकेशन के छात्र और छात्राओ ने 'बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ ' अभियान पर नुक्कड नाटक का आयोजन किया। 22 जनवरी 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र [...]

असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के ब...
असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के बीच रहती हूं, लेकिन मैंने कभी भारत में भेदभाव महसूस नहीं किया!

सोफिया रंगवाला। पेशे से डॉक्टर हूं। बंगलोर में मेरी एक हाइ एण्ड लेजर स्किन क्लिनिक है। मेरा परिवार कुवैत में रहता है। मैं भी कुवैत में पली बढ़ी हूं लेकिन 18 साल [...]

प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम कर...
प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम करे, सूचना प्रसारण मंत्री को तो क्रिकेट डिप्‍लोमेसी से ही फुर्सत नहीं है!

संदीप देव।उटलुक पत्रिका के एक गलत खबर के कारण जो हंगामा हुआ और सदन को स्‍थगित करना पड़ा, इसका जिम्‍मेवार कौन है? क्‍या मोदी सरकार मीडिया के इस तरह के गैरजिम्‍मेवार और सबूत [...]

Other Articles