प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम करे, सूचना प्रसारण मंत्री को तो क्रिकेट डिप्‍लोमेसी से ही फुर्सत नहीं है!

संदीप देव। सदन के अंदर अभी आउटलुक पत्रिका के एक गलत खबर के कारण जो हंगामा हुआ और सदन को स्‍थगित करना पड़ा, इसका जिम्‍मेवार कौन है? क्‍या मोदी सरकार मीडिया के इस तरह के गैरजिम्‍मेवार और सबूत रहित खबरों पर संज्ञान लेगी? या फिर अपने गृहमंत्री को झूठे मीडिया के भरोसे छोड़ देगी?

 

अभी एक पुस्‍तक पर शोध के सिलसिले में मैं बिहार के कई जिलों के साथ-साथ नेपाल भी गया। आप जानते हैं, नेपाल के साथ हमारे जो रिश्‍ते खराब हुए हैं, उसमें सबसे बड़ा योगदान किसका है? सबसे बड़ा योगदान भारतीय मीडिया का है! वहां के लोग और सरकार खुलकर यह कह रहे हैं कि भूकंप के समय भारतीय मीडिया की रिपोर्टिंग ने नेपाल को पूरी दुनिया में एक दरिद्र, असहाय और भारत पर आश्रित राष्‍ट्र के रूप में प्रस्‍तुत किया। अब यह जरूरी हो गया है कि हम भारत से खुद को अलग दिखाएं! नेपाल में सभी भारतीय न्‍यूज चैनलों को बैन कर दिया गया है। नेपाल के साथ हमारे रिश्‍ते खराब हुए हैं और जिम्‍मेवार कौन हैं? सरकार आखिर इनके खिलाफ कर क्‍या रही है?

देश पर सेना के हमले की झूठी थ्‍योरी गढने वाले इंडियन एक्‍सप्रेस के पूर्व संपादक शेखर गुप्‍ता ने एक ऐसा लेख लिखा, जिसमें देश की जनता को साफ तौर पर भड़काया गया है! शेखर गुप्‍ता ने लिखा है कि दादरी की घटना पर जितनी तीव्रता से सेक्‍यूलर दलों को प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त करना चाहिए, वह नहीं किया गया है! अब यह तो कोई अंधा ही होगा, जो देख नहीं पा रहा है कि अखलाक के मुददे को उछाल कर भारत व यहां की सरकार को किस तरह से बदनाम किया गया है! लेकिन शेखर गुप्‍ता का अभी तक मन नहीं भरा है!

कहने का तात्‍पर्य यह कि भारतीय मीडिया अपने प्रेस्‍टीटयूट आचरण को बार-बार स्‍थापित कर रहा है और देश के सूचना प्रसारण मंत्री इसके गैरजिम्‍मेदाराना रूख को जिम्‍मेदार बनाने के लिए कुछ नहीं कर पा रहे हैं! मीडिया इस देश के प्रधानमंत्री को बदनाम करता है, गृहमंत्री के नाम पर गलत खबर प्रकाशित करता है, इस देश में दंगा भड़का रहा है, विदेश से हमारे संबंध खराब कर रहा है और हमारे सूचना प्रसारण मंत्री पाकिस्‍तान के साथ क्रिकेट डिप्‍लोमेसी में बिजी हैं! हद है!

अरुण जेटली, राजीव शुक्‍ला, अनुराग ठाकुर, दिग्विजय सिंह, शरद पवार जैसे नेताओं के कारण इस देश की राजनीति एलिट क्‍लास की बंधक बन गयी है! और यह सारा खेल मीडिया के जरिए खेला जाता है, जिसके कारण इस देश की मीडिया देश के हितों से लगातार खिलवाड़ कर रही है! #SandeepDeo #Presstitutes

Web title: Indian Presstitute-1