गूगल मैप पर दिल्ली और दिल्‍ली में फन एंड फूड विलेज...सुपर हिट!

नई दिल्ली। भला है या बुरा है, लेकिन सच यह है कि पर्यटकों को दिल्ली बहुत भाती है। राजधानी के पर्यटन स्थल को जानने, समझने और वहां भ्रमण करने के लिए 'नेटिजन’ बेहद उत्साहित दिखते हैं। गूगल मैप के जरिए दिल्‍ली की जनता सबसे अधिक पर्यटन स्थलों और खाने पीने के ठिकाने की खोज करती है। वहीं, मुंबई और बंगलुरु की जनता दिल्ली से अलग है। मुंबई में जहां सबसे अधिक खोज रेस्तरां व बार की होती है, बंगलुरु शिक्षण संस्थानों की खोज में अव्वल है। दिल्‍ली के युवा घूमने और खाने पीने के लिए दिल्‍ली-गुड़गांव बॉर्डर पर स्थित फन एंड फूड विलेज को सबसे अधिक गूगल मैप पर ढूंढ़ते हैं।

 

दिल्ली हो या मुंबई या फिर बंगलुरु आंकड़े बताते हैं कि इन तीनों शहरों में गूगल मैप के जरिए सबसे अधिक खोज होटलों की होती है। दिल्ली में सबसे अधिक सर्च इंपीरियल होटल का होता है। वहीं मुंबई का ट्राइडेंट होटल नेटिजन का पसंदीदा खोजी स्थल है।
दिल्ली के खाने-पीने और मौज-मस्ती वाली जगहों की भी गूगल मैप पर धूम है। अगर राजधानी की बात करें तो गूगल मैप में सबसे अधिक खोज फन एंड फुड विलेज की होती है। हर 19 सेकेंड पर इसकी खोज की जाती है। वहीं करीम होटल हर 30 सेकेंड में सर्च किया जाता है। वसंत स्क्वाइर मॉल स्थित पॉकेट बार और आइस लॉन्ज भी बड़ी संख्या में सर्च किए जाते हैं। होटलों में इंपीरियल सबसे अधिक सर्च किया जाता है। दूसरा स्थान मेट्रोपोलिटन होटल का आता है। इसके बाद ताज महल, आईटीसी मोर्या और हयात रिजेंसी का स्थान आता है।

धार्मिक स्थलों में जामा मस्जिद और छतरपुर मंदिर में कड़ी टक्कर है। औसतन हर 30 सेकेंड पर ये दोनों स्थलों को सर्ज किया जाता है। इस सूची में आईटीओ स्थित मस्जिद, लक्ष्मी नारायण मंदिर और इस्कॉन मंदिर में हैं। कनॉट प्लेस का जलवा गूगल मैप पर भी बरकरार है। हर 40 सेकेंड में कनॉट प्लेस की खोज की जाती है। इसके अलावा चिड़ियाघर, रेल म्यूजियम, गांधी संग्रहालय और इंडिया गेट की खोज गूगल मैप पर बड़ी संख्या में हो रही है। वहीं मुंबई में धार्मिक स्थलों में सबसे अधिक खोज सिद्धीविनायक मंदिर की होती है।

इस बारे में गूगल इंक के जनसंपर्क अधिकारी का कहना है कि गूगल मैप का लोग बड़ी संख्या में इस्तेमाल कर रहे हैं। यह संख्या दिनोंदिन बढ़ती जा रही है। गूगल मैप ने लोगों के लिए वीकेंड और छुट्टियों पर घूमने-फिरने के लिए प्लान तैयार करना आसान कर दिया है। गूगल मैप के जरिए लोग घर बैठे विभिन्न स्थलों और उसके आसपास की जानकारी प्रा’ कर सकते हैं। यहां तक कि उन स्थलों पर पहुंचने के लिए रास्ते भी मैप से आसानी से पता लगाए जा सकते हैं।

गूगल मैप पर अधिक सर्च होने वाले स्थल

मौज-मस्ती और खाने-पीने वाली जगहें
* फन एंड फूड विलेज (औसतन हर 19 सेकेंड में सर्च)
* करीम होटल (औसतन हर 30 सेकेंड में सर्च)
* पॉकेट बार, वसंत स्क्वाइर मॉल
* आइस लॉन्ज
* कैफे टर्टल

धार्मिक स्थल
* जामा मस्जिद (औसतन हर 30 सेकेंड में सर्च)
* छतरपुर मंदिर(औसतन हर 30 सेकेंड में सर्च)
* आईटीओ डीडीए मस्जिद
* लक्ष्मी नारायण मंदिर
* इस्कॉन मंदिर

पर्यटन स्थल
* कनॉट प्लेस (औसतन हर 40 सेकेंड में सर्च)
* इंडिया गेट (औसतन हर 40 सेकेंड में सर्च)
* राष्ट्रीय गांधी संग्रहालय
* चिड़ियाघर
* राष्ट्रीय रेल संग्रहालय

होटल
* दी इंपीरियल (औसतन हर 40 सेकेंड में सर्च)
* मेट्रोपोलिटन होटल एंड स्पा
* ताज महल होटल
* आईटीसी मोर्या
* हयात रिजेंसी


भेदभाव से बचने के लिए अपना धर्म छोड़ने व...
भेदभाव से बचने के लिए अपना धर्म छोड़ने वाले हिंदू आज भी मुस्लिम और ईसाई समाज में हैं दोयम दर्ज के नागरिक!

संदीप देव।रक्षण की वकालत करने वाले हिंदू समाज के दलितों को भरमाने के लिए 'दलित-मुस्लिम' भाई-भाई का नारा लगाते हैं। Narendra Mo [...]

यूक्रेनी महिलाओं की रूसियों के खिलाफ 'से...
यूक्रेनी महिलाओं की रूसियों के खिलाफ 'सेक्स हड़ताल'

क्रीमिया। रूस के क्रीमिया पर कब्जे से इन दिनों यूक्रेन बौखलाया हुआ है। यहां तक की महिलाओं का भी गुस्सा किसी से कम नहीं। कब्जे से नाराज यूक्रेनी महिलाओं के एक ग्रुप से रूस के खिलाफ एक अनोखा अभियान छेड़ [...]

जोगेंद्रनाथ मंडल के इतिहास से सबक लो सेक...
जोगेंद्रनाथ मंडल के इतिहास से सबक लो सेक्‍यूलरवादियों...!

संदीप देव।ेक्‍यूलरों के समान ही भारत विभाजन के समय एक सेक्‍यूलर नेता था, जोगेंद्रनाथ मंडल। नीतीश कुमार, लालू यादव और मुलायम सिंह यादव की तरह वह भी अनुसूचित जाति का नेता था। नीतीश-लालू- [...]

अब आप सीधे अपनी गाड़ी से जा सकेंगे कैलाश...
अब आप सीधे अपनी गाड़ी से जा सकेंगे कैलाश मानसरोवर!

कैलाश मानसरोवर की तीर्थयात्रा करने की इच्छा रखने वाले श्रद्धालुओं और सैलानियों को चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने एक बड़ा तोहफा दिया है. चीन इस यात्रा के लिए सिक्किम के नाथुला दर्रे से नया रास्ता खोलने पर सहमत [...]

वैदिक के बाद अब आसान निशाना हैं बाबा राम...
वैदिक के बाद अब आसान निशाना हैं बाबा रामदेव!

संदीप देव। वरिष्‍ठ पत्रकार वेद प्रताप वैदिक जिस दिन पाकिस्‍तान जा रहे थे, उस दिन मेरी उनसे टेलिफोन पर बात हुई थी। वह कह रहे थे, मेरे पास 2 करोड़ लोगों का डाटा है, मैं इतना [...]

आधुनिक भारत में धर्मांतरण और घर वापसी का...
आधुनिक भारत में धर्मांतरण और घर वापसी का सच!

संदीप देव।अशोक सिंघल ने जब मुस्लिम और ईसाई पर कुछ कहा तो मीडिया बवाल मचा रहा है, लेकिन बाबा साहब भीमराव अंबेडकर ने इन दोनों ही धर्म को विदेश से आयातित धर्म कहा था और [...]

Sreenivasan Jain edits embarrassing port...
Sreenivasan Jain edits embarrassing portions from Ramdev’s interview, gets exposed

Atul Asthana,  bwoyblunder We had writte [...]

सुंदरता के बाजार से जन्‍मी नई विषमता!...
सुंदरता के बाजार  से जन्‍मी नई विषमता!

संजय कुमार बलौदिया। पिछले दिनों द इंटरनेशनल सोसायटी ऑफ एस्थेटिक प्लास्टिक सर्जरी का सर्वे प्रकाशित हुआ जिसके मुताबिक कॉस्मेटिक सर्जरी के मामले में अमेरिका, चीन और ब्राजील के बाद भारत चौथे स्थान पर आता है। यह आंकड़ा भारत की [...]

दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!...
दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!

आधी आबादी ब्‍यूरो, नई दिल्ली। जंगल बनता जा रहा है। बच्चों के लिए खेलने के लिए जगह नहीं बची है। पार्क भी धीरे-धीरे खत्म होते जा रहे हैं। अभिभावकों की [...]

नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदे...
नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश

दिल्‍ली।  कमल इंसटिट्यूट ऑफ हायर एडूकेशन के छात्र और छात्राओ ने 'बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ ' अभियान पर नुक्कड नाटक का आयोजन किया। 22 जनवरी 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र [...]

असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के ब...
असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के बीच रहती हूं, लेकिन मैंने कभी भारत में भेदभाव महसूस नहीं किया!

सोफिया रंगवाला। पेशे से डॉक्टर हूं। बंगलोर में मेरी एक हाइ एण्ड लेजर स्किन क्लिनिक है। मेरा परिवार कुवैत में रहता है। मैं भी कुवैत में पली बढ़ी हूं लेकिन 18 साल [...]

प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम कर...
प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम करे, सूचना प्रसारण मंत्री को तो क्रिकेट डिप्‍लोमेसी से ही फुर्सत नहीं है!

संदीप देव।उटलुक पत्रिका के एक गलत खबर के कारण जो हंगामा हुआ और सदन को स्‍थगित करना पड़ा, इसका जिम्‍मेवार कौन है? क्‍या मोदी सरकार मीडिया के इस तरह के गैरजिम्‍मेवार और सबूत [...]

Other Articles