भारत यात्रा

एयर सफारी के रोमांच के साथ कीजिए ताजमहल का दीदार

आगरा। ताजनगरी के पर्यटन में गुरुवार को एक नया आकर्षण जुड़ गया। रोमांचक एयर सफारी (हीलियम बैलून राइड) की शुरुआत हो गई। गुब्बारे में बैठकर सैलानी आसमान से ताज और ताजनगरी का दीदार कर पाएंगे। पहली बार सैलानियों को 250 फुट ऊंचाई से ताज निहारने का मौका मिलेगा।

Read more...

रणथंभोर में बाघ देखने का वह रोमांच, आज भी भूल नहीं सका हूं!

सौरभ गुप्‍ता, रणथंभोर से लौटकर। सप्ताह का आखिरी दिन अचानक ही एक साथी ने कहा की क्यों न रणथंभोर चला जाए। मै हमेशा से ही वन्य जीवन का दीवाना रहा हूँ, इसलिए तुरंत ही योजना बनायीं और उसी रात का प्रोग्राम बना लिया। वो आखिरी रविवार था उसके बाद जंगल तीन माह के लिए बंद हो जाना था. रात को गाडी बुलाई और साथियों के साथ रवाना हो गए।

Read more...

औद्योगिक केंद्र से फैशन ऑयकन में तब्‍दील होता रांची!

कैलाश रंजन, रांची। रांची, जिसे कभी एक औद्योगिक शहर के रूप में जाना जाता था, आज पूरी दुनिया में इंडियन क्रिकेट टीम के कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी के शहर के रूप में एक नई पहचान हासिल कर चुका है। कुछ दिन पहले जब रांची में पहला अंतरारष्‍ट्रीय क्रिकेट मैच खेला गया तो देश के कोने-कोने से पहुंचे लोगों ने देखा कि युवाओं के 'फैशन ऑयकन' बन चुके धोनी का यह शहर भी अब धीरे-धीरे फैशन केंद्र में तब्‍दील होता जा रहा है। बड़े-बड़े मॉल, शॉपिंग सेंटर, सिनेमा हॉल, ज्‍वैलरी की शानदार दुकानें दर्शा रहीं थी कि कभी आदिवासियों के आंदोलन का केंद्र रहा यह शहर अतीत से निकलकर तेजी से आधुनिक पहचान हासिल करता जा रहा है।

Read more...

राजस्‍थान में है दुनिया की सबसे गहरी बावली जिसमें हैं 3500 सीढि़यां!

जयपुर। राजस्थान के बांदीकुई के आभानेरी इलाके में दुनिया की सबसे गहरी और पुरानी बावली है। राजपुताना स्थापत्यकला का यह बेजोड़ नमूना 1200 साल पहले तैयार किया गया था। निकुंभ वंश के राजा चंदा ने 8वीं या नवीं शताब्दी में बनवाया था। इसे बनाने का मकसद था, हमेशा से पानी के लिए त्राहि करने वाले राजस्थान के राजघराने और उनकी रियासत के लोग कभी पानी से महरूम न रहें। चांद बाउरी जमीन से सौ फीट गहरी है। पानी का स्तर कितना भी कम क्यों न हो चांद बाउरी में मिल ही जाता था।

Read more...

गुवाहाटी की यात्रा आपका मन मोह लेगी

हिमालय की पूर्वी पहाड़ियों में ब्रह्मपुत्र नदी पर समुद्रतल से 55 मीटर की ऊंचाई पर बसा गुवाहाटी ऐसा शहर माना जाता है जो किसी भी अनजाने व्‍यक्ति को अपने मोहपाश में बांध लेने की क्षमता रखता है। यहां के मंदिर तो बेहद दर्शनीय हैं। कभी प्राग ज्योतिषपुर के नाम से जाना जाने वाला गुवाहाटी ऐतिहासिक व राजनैतिक महत्व भी रखता है। यह एक तरह से सात दूसरे उत्तर-पूर्वी राज्यों का प्रवेश बिंदू माना जाता है। मान्‍यता है कि काम के देवता कामदेव का जन्म गुवाहाटी में ही हुआ था, इसीलिए इसे कामरूप के नाम से पहचाना जाता था।

Read more...

Aurangzeb‬ द्वारा काशी विश्‍वनाथ मंदिर त...
Aurangzeb‬ द्वारा काशी विश्‍वनाथ मंदिर तोड़े जाने को सबसे पहले सही एक कांग्रेसी नेता ने ही ठहराया था, जिसके बाद झूठ प्रचलित हुआ!

दीपदेव‬।औरंगजेब द्वारा काशी विश्‍वनाथ मंदिर तोड़े जाने को सही ठहराने की शुरुआत महात्‍मा गांधी के बेहद खास कांग्रेसी पटटाभिसीतारमैया ने एक पुस्‍तक 'द फ़ेदर्स एण्ड द स्टोन्स’ लिखकर की थी। यह वही पटटाभि थे, [...]

पहली ही कोशिश में मंगल तक पहुंचने वाला प...
पहली ही कोशिश में मंगल तक पहुंचने वाला पहला देश बना भारत

बेंगलुरु। अंतरिक्ष अनुसंधान के क्षेत्र में भारत ने नायाब उपलब्धि हासिल की है। भारतीय अनुसंधान संस्थान (इसरो) का मार्स ऑर्बिटर मिशन यानी मंगलयान सुबह 8 बजे करीब मंगल की कक्षा में प्रवेश कर गया। यह उपलब्धि हासिल [...]

हिंदुत्‍व के पुनर्जारण के लिए जन्‍मगत जा...
हिंदुत्‍व के पुनर्जारण के लिए जन्‍मगत जाति का खात्‍मा जरूरी: डॉ सुब्रहमनियन स्‍वामी

आधी आबादी ब्‍यूरो-साथ हिंदुत्‍व का पुनर्जागरण बहुत जरूरती है। डॉ सुब्रहमनियन स्‍वामी ने 'हिंदुत्‍व एवं राष्‍ट्रीय पुनरुत्‍थान' नामक एक जबरदस्‍त किताब लिखी है और आज के समय हर हिंदू को 24 [...]

Sreenivasan Jain edits embarrassing port...
Sreenivasan Jain edits embarrassing portions from Ramdev’s interview, gets exposed

Atul Asthana,  bwoyblunder We had writte [...]

बिहार की हार में भाजपा के खलनायक: बिहार ...
बिहार की हार में भाजपा के खलनायक: बिहार से अनजान व जमीन से कटे नेताओं ने चुनाव केा बना दिया था इवेंट मैनेजमेंट!

संदीप देव।प से भाजपा का समर्थक हूं, लेकिन जिस तरह से भाजपा व संघ समर्थक बिहारियों का अपमान कर रहे हैं, वह मुझे बर्दाश्त नहीं है। इन्हीं बिहारियों ने जब लोकसभा चुनाव-20 [...]

कृष्‍ण ने अर्जुन से कहा, हे अर्जुन वृक्ष...
कृष्‍ण ने अर्जुन से कहा, हे अर्जुन वृक्षों में मैं पीपल हूं। लेकिन आखिर पीपल ही क्‍यों?

संदीप देव।: सर्ववृक्षाणां देवर्षीणां च नारद: हे अर्जुन वृक्षों में मैं पीपल हूं और देवर्षियों में नारद। कदम्‍ब के पेड़ के नीचे रास [...]

दिमाग तेज करना है तो सीखें दो भाषा!...
दिमाग तेज करना है तो सीखें दो भाषा!

आईएएनएस। वाशिंगटन।हैं, तो दो भाषाएं सीखें क्योंकि एक नए शोध में यह बात सामने आई है कि दो भाषा सीखने वालों का दिमाग अन्य की तुलना में तेज होता है। ऐसा [...]

वह महात्‍मा गांधी थे, जिन्‍होंने कस्‍तूर...
वह महात्‍मा गांधी थे, जिन्‍होंने कस्‍तूरबा का स्‍मारक बनवा कर परिवार को महिमा मंडित करने की शुरुआत की थी! ‪‎

संदीपदेव‬।ी थे, जिन्‍होंने सबसे पहले परिवारवाद की मूर्ति पूजा का चलन इस देश में शुरु किया। और यह भी बता दूं कि देश के सबसे बढिया स्‍मारक में उनकी पत्‍नी कस्‍तूरबा गांधी का स्‍मारक शामिल [...]

दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!...
दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!

आधी आबादी ब्‍यूरो, नई दिल्ली। जंगल बनता जा रहा है। बच्चों के लिए खेलने के लिए जगह नहीं बची है। पार्क भी धीरे-धीरे खत्म होते जा रहे हैं। अभिभावकों की [...]

नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदे...
नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश

दिल्‍ली।  कमल इंसटिट्यूट ऑफ हायर एडूकेशन के छात्र और छात्राओ ने 'बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ ' अभियान पर नुक्कड नाटक का आयोजन किया। 22 जनवरी 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र [...]

असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के ब...
असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के बीच रहती हूं, लेकिन मैंने कभी भारत में भेदभाव महसूस नहीं किया!

सोफिया रंगवाला। पेशे से डॉक्टर हूं। बंगलोर में मेरी एक हाइ एण्ड लेजर स्किन क्लिनिक है। मेरा परिवार कुवैत में रहता है। मैं भी कुवैत में पली बढ़ी हूं लेकिन 18 साल [...]

प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम कर...
प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम करे, सूचना प्रसारण मंत्री को तो क्रिकेट डिप्‍लोमेसी से ही फुर्सत नहीं है!

संदीप देव।उटलुक पत्रिका के एक गलत खबर के कारण जो हंगामा हुआ और सदन को स्‍थगित करना पड़ा, इसका जिम्‍मेवार कौन है? क्‍या मोदी सरकार मीडिया के इस तरह के गैरजिम्‍मेवार और सबूत [...]

Other Articles