भारत यात्रा

एयर सफारी के रोमांच के साथ कीजिए ताजमहल का दीदार

आगरा। ताजनगरी के पर्यटन में गुरुवार को एक नया आकर्षण जुड़ गया। रोमांचक एयर सफारी (हीलियम बैलून राइड) की शुरुआत हो गई। गुब्बारे में बैठकर सैलानी आसमान से ताज और ताजनगरी का दीदार कर पाएंगे। पहली बार सैलानियों को 250 फुट ऊंचाई से ताज निहारने का मौका मिलेगा।

Read more...

रणथंभोर में बाघ देखने का वह रोमांच, आज भी भूल नहीं सका हूं!

सौरभ गुप्‍ता, रणथंभोर से लौटकर। सप्ताह का आखिरी दिन अचानक ही एक साथी ने कहा की क्यों न रणथंभोर चला जाए। मै हमेशा से ही वन्य जीवन का दीवाना रहा हूँ, इसलिए तुरंत ही योजना बनायीं और उसी रात का प्रोग्राम बना लिया। वो आखिरी रविवार था उसके बाद जंगल तीन माह के लिए बंद हो जाना था. रात को गाडी बुलाई और साथियों के साथ रवाना हो गए।

Read more...

औद्योगिक केंद्र से फैशन ऑयकन में तब्‍दील होता रांची!

कैलाश रंजन, रांची। रांची, जिसे कभी एक औद्योगिक शहर के रूप में जाना जाता था, आज पूरी दुनिया में इंडियन क्रिकेट टीम के कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी के शहर के रूप में एक नई पहचान हासिल कर चुका है। कुछ दिन पहले जब रांची में पहला अंतरारष्‍ट्रीय क्रिकेट मैच खेला गया तो देश के कोने-कोने से पहुंचे लोगों ने देखा कि युवाओं के 'फैशन ऑयकन' बन चुके धोनी का यह शहर भी अब धीरे-धीरे फैशन केंद्र में तब्‍दील होता जा रहा है। बड़े-बड़े मॉल, शॉपिंग सेंटर, सिनेमा हॉल, ज्‍वैलरी की शानदार दुकानें दर्शा रहीं थी कि कभी आदिवासियों के आंदोलन का केंद्र रहा यह शहर अतीत से निकलकर तेजी से आधुनिक पहचान हासिल करता जा रहा है।

Read more...

राजस्‍थान में है दुनिया की सबसे गहरी बावली जिसमें हैं 3500 सीढि़यां!

जयपुर। राजस्थान के बांदीकुई के आभानेरी इलाके में दुनिया की सबसे गहरी और पुरानी बावली है। राजपुताना स्थापत्यकला का यह बेजोड़ नमूना 1200 साल पहले तैयार किया गया था। निकुंभ वंश के राजा चंदा ने 8वीं या नवीं शताब्दी में बनवाया था। इसे बनाने का मकसद था, हमेशा से पानी के लिए त्राहि करने वाले राजस्थान के राजघराने और उनकी रियासत के लोग कभी पानी से महरूम न रहें। चांद बाउरी जमीन से सौ फीट गहरी है। पानी का स्तर कितना भी कम क्यों न हो चांद बाउरी में मिल ही जाता था।

Read more...

गुवाहाटी की यात्रा आपका मन मोह लेगी

हिमालय की पूर्वी पहाड़ियों में ब्रह्मपुत्र नदी पर समुद्रतल से 55 मीटर की ऊंचाई पर बसा गुवाहाटी ऐसा शहर माना जाता है जो किसी भी अनजाने व्‍यक्ति को अपने मोहपाश में बांध लेने की क्षमता रखता है। यहां के मंदिर तो बेहद दर्शनीय हैं। कभी प्राग ज्योतिषपुर के नाम से जाना जाने वाला गुवाहाटी ऐतिहासिक व राजनैतिक महत्व भी रखता है। यह एक तरह से सात दूसरे उत्तर-पूर्वी राज्यों का प्रवेश बिंदू माना जाता है। मान्‍यता है कि काम के देवता कामदेव का जन्म गुवाहाटी में ही हुआ था, इसीलिए इसे कामरूप के नाम से पहचाना जाता था।

Read more...

यह इतिहास है और यह क्रूर है! यह न मेरा ह...

संदीप देव। जातिवाद पर ऐतिहासिक तथ्‍यों के जरिए मैंने कुछ रोशनी डालने की कोशिश की है, लेकिन कुछ तथाकथित दलितवादी और सवर्ण जाति की ऊंची नाक वाले लोगों को यह पसंद नहीं आ रहा है। [...]

गर्भवती महिलाओं के लिए नया कोर्स, गर्भ म...
गर्भवती महिलाओं के लिए नया कोर्स, गर्भ में ही शिशुओं को दिए जाएंगे संस्‍कार!

महाभारत के पात्र अभिमन्यु ने जिस तरह गर्भ में ही चक्रव्यूह भेदने की कला सीख ली थी और पुराणों में गर्भ में ही संस्कार मिलने की बात कही गई है, उसी को आधार बनाकर भोपाल के अटल बिहारी वाजपेयी [...]

शादी से पहले सेक्‍स आम बात है और शादी का...
शादी से पहले सेक्‍स आम बात है और शादी का वादा कर सेक्‍स करना बलात्‍कार नहीं है: अदालत

मुंबई। भारत बदल रहा है और ऐसा ही कुछ बॉम्बे हाई कोर्ट भी मानती है. हाई कोर्ट ने कहा है कि शादी का वादा कर संबंध बनाने का हर मामला बलात्कार नहीं होता, कोर्ट ने तो यह भी [...]

महिलाओं को कभी नहीं मिल सकती है पूरी खुश...
महिलाओं को कभी नहीं मिल सकती है पूरी खुशी: इंदिरा नूयी

न्यूयॉर्क। विश्व की सबसे शक्तिशाली महिलाओं में शुमार पेप्सीको की भारतीय मूल की मुख्य कार्यकारी इंदिरा नूयी ने स्वीकार किया कि ऑफिस के काम और घर के जीवन के बीच संतुलन बिठाना मुश्किल हो गया है और महिलाओं को सब [...]

मां आशीर्वाद दे कि इस नवरात्रि मैं अपने ...
मां आशीर्वाद दे कि इस नवरात्रि मैं अपने 'मैं' को विसर्जित कर सकूं!

संदीप देव। आज से नवरात्रि शुरु हो रही है। इस नवरात्रि के समाप्‍त होते-होते मां दुर्गा हममें से कम से कम कुछ लोगों का ही सही, लेकिन 'मन' हर ले! 'मन' अर्थात ' [...]

ज्योतिष पर ओशो के विचार...
ज्योतिष पर ओशो के विचार

ओशो। ज्योतिष के नाम पर सौ में से निन्यानबे धोखाधड़ी है। और वह जो सौवां आदमी है, निन्यानबे को छोड़ कर उसे समझना बहुत मुश्किल है। क्योंकि वह कभी इतना डागमेटिक नहीं हो सकता कि कह दे कि ऐसा [...]

मोदी के प्रधानमंत्री बनने से वामपंथी बुद...
मोदी के प्रधानमंत्री बनने से वामपंथी बुद्धिजीवियों में घबराहट

संदीप देव। वामपंथी इतिहासकार और विदेशी फंड पर पलने वाली रोमिला थापर को चिंता सता रही है कि नरेंद्र मोदी सरकार इतिहास की पुस्‍तकों में फेरबदल करवाएगी। जब वामपंथियों ने पूरे इतिहास में झूठ और अर्धसत्‍य भरा है तो सही [...]

एक केंद्रीय मंत्री के रूप में सुब्रहमनिय...
एक केंद्रीय मंत्री के रूप में सुब्रहमनियन स्‍वामी का वह बहादुरीभरा फैसला!

संदीप देव।े मैसेज कर यह पूछा है कि Dr.Subramanian swamy को मोदी सरकार में मंत्री क्‍यों नहीं [...]

दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!...
दिल्‍ली में सुरक्षित नहीं है बचपन!

आधी आबादी ब्‍यूरो, नई दिल्ली। जंगल बनता जा रहा है। बच्चों के लिए खेलने के लिए जगह नहीं बची है। पार्क भी धीरे-धीरे खत्म होते जा रहे हैं। अभिभावकों की [...]

नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदे...
नुक्‍कड़ नाटक के जरिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश

दिल्‍ली।  कमल इंसटिट्यूट ऑफ हायर एडूकेशन के छात्र और छात्राओ ने 'बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ ' अभियान पर नुक्कड नाटक का आयोजन किया। 22 जनवरी 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र [...]

असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के ब...
असहिष्णुता: मैं एक मुस्लिम महिला हूं, हिंदुओं के बीच रहती हूं, लेकिन मैंने कभी भारत में भेदभाव महसूस नहीं किया!

सोफिया रंगवाला। पेशे से डॉक्टर हूं। बंगलोर में मेरी एक हाइ एण्ड लेजर स्किन क्लिनिक है। मेरा परिवार कुवैत में रहता है। मैं भी कुवैत में पली बढ़ी हूं लेकिन 18 साल [...]

प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम कर...
प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को मीडिया भले ही बदनाम करे, सूचना प्रसारण मंत्री को तो क्रिकेट डिप्‍लोमेसी से ही फुर्सत नहीं है!

संदीप देव।उटलुक पत्रिका के एक गलत खबर के कारण जो हंगामा हुआ और सदन को स्‍थगित करना पड़ा, इसका जिम्‍मेवार कौन है? क्‍या मोदी सरकार मीडिया के इस तरह के गैरजिम्‍मेवार और सबूत [...]

Other Articles